हैदराबाद बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार के रूप में FAKE वीडियो हुआ वायरल |

False National
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक के साथ सामूहिक बलात्कार कर उसे जला देने के जघन्य अपराध की जहां एक और कड़ी निंदा की जा रही वहीं सोशल मंचो पर इस घटना को लेकर कई तस्वीरें व विडियो वाईरल हो रहें हैं, जिनमें से अधिकतर दावे घटना से असंबंधित हैं| ऐसा ही एक दावा पीड़िता के अंतिम संस्कार के वीडियो के रूप में सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा किया जा रहा है | फैक्ट क्रेस्सन्डो ने इस दावे की सच्चाई उजागर करने का प्रयास किया|

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जब हमने हैदराबाद गैंग रेप पीड़िता के अंतिम संस्कार का वीडियो गूगल पर कीवर्ड्स के माध्यम से ढूँढा तो उपरोक्त दिखाए वीडियो जैसा कोई वीडियो नहीं मिला | हैदराबाद में २७ नवंबर को एक दोपहिया वाहन की मरम्मत करने के नाम पर एक महिला पशुचिकित्सक का सामूहिक बलात्कार किया गया था | बाद में बलात्कारियों द्वारा उन्हें मार डाला गया व तत्पश्चात उन्हें जला दिया गया | २८ नवंबर को एक पुल के नीचे शव मिलने के बाद घटना का खुलासा हुआ था | 

प्रतिष्ठित स्थानीय समाचार चैनल ई-टीवी आंध्र प्रदेश द्वारा प्रसारित २८ नवंबर की खबर के अनुसार, हैदराबाद के पुराने पुल कब्रिस्तान में पीड़िता का अंतिम संस्कार किया गया है | नीचे दिए गए वीडियो में आप पीड़िता के अंतिम संस्कार के दृश्य देख सकते हैं |

दोनों वीडियो की तुलना करने के बाद, यह स्पष्ट है कि वायरल हो रहा वीडियो हैदराबाद की सामूहिक बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार का नहीं है | साक्षी समाचार की वेबसाइट पर पीड़ित के अंतिम संस्कार की एक तस्वीर दी गई है | पोस्टमार्टम के बाद पीड़िता का शव परिजनों को सौंप दिया गया था | अंतिम संस्कार पुराने पुल कब्रिस्तान के बाद किया गया था |

आर्काइव लिंक 

फैक्ट क्रेस्सन्डो ने हैदराबाद में पुराने पुल कब्रिस्तान के प्रबंधन से संपर्क किया, उन्होंने हमें बताया कि “ईटीवी आंध्र प्रदेश चैनल में दिखाया गया वीडियो पीड़िता के अंतिम संस्कार का है | साथ ही उन्होंने हमें स्पष्ट किया कि सोशल मीडिया द्वारा किये गये दावे गलत है |”

उपरोक्त वायरल वीडियो रेगिस्तान में प्रतीत होता है, यह अभी निश्चित रूप से स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कहाँ से है | लेकिन यह स्पष्ट है कि यह विडियो हैदराबाद सामूहिक बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार का नहीं है |

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर हैदराबाद गैंग रेप पीड़िता के अंतिम संस्कार के रूप में एक असंबंधित वीडियो साझा किया जा रहा है | पीड़िता के अंतिम संस्कार का मूल वीडियो मिलने के पश्चात हम यह सत्यापित कर सकते है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो हैदराबाद सामूहिक बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार का नहीं है |

Avatar

Title:हैदराबाद बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार के रूप में FAKE वीडियो हुआ वायरल |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply