लुधियाना पुलिस द्वारा महिलाओं के लिए परिवहन सुविधा का हेल्पलाइन नंबर नागपुर का बताकर हुआ वायरल |

Partly False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

महिलाओं की सुरक्षा के लिए आजकल सोशल मीडिया पर कई आपातकालीन हेल्पलाइन नम्बरों को साझा किया जा रहा है | ४ नवंबर २०१९ को “Pooja Patil” नामक फेसबुक यूजर ने एक पोस्ट साझा करते हुए लिखा है कि

नागपुर पुलिस ने मुफ्त सवारी योजना शुरू की, जहां कोई भी महिला जो अकेली है और रात १० बजे से सुबह ६ बजे के बीच घर जाने के लिए वाहन नहीं ढूंढ पा रही है, वह पुलिस हेल्पलाइन नंबर (1091 और 7837018555) पर कॉल कर सकती है और वाहन के लिए अनुरोध कर सकती है | वे 24x7 काम करेंगे | नियंत्रण कक्ष वाहन या पास के पीसीआर वाहन / एसएचओ वाहन उसे सुरक्षित रूप से उसके गंतव्य तक पहुंचाएगा | यह मुफ़्त योजना किया जाएगा | इस संदेश को आप सभी कांटेक्ट को फॉरवर्ड करे |”

इस पोस्ट के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि नागपुर पुलिस द्वारा शुरू की गयी नई योजना के अनुसार यदि कोई महिला रात को अकेले यात्रा कर रही है तो उनके द्वारा “७८३७०१८५५५” या “१०९१” नंबर पर कॉल करने से उन्हें पुलिस वाहन द्वारा गंतव्य तक पहुंचाएगा | 

फेसबुक पोस्ट 

अनुसंधान से पता चलता है कि… 

फैक्ट क्रेस्सन्डो ने नागपुर के कमिश्नर, बी.के उपाध्याय से संपर्क कर इन दावों की सत्यता जानने की कोशिश की , उन्होंने हमें बताया कि

“नागपुर पुलिस द्वारा वास्तविकता में ऐसी ही योजना महिलायों के सुरक्षा के लिए शुरू की गई है, इस योजना के तहत महिलाओं को मुफ्त में पुलिस वाहन द्वारा गंतव्य तक पहुंचा दिया जायेगा | परंतु सोशल मीडिया पर साझा किया गया नंबर गलत है, सही नंबर ७१२२५६१२२२ (7122561222) यह है |”

गूगल पर जब इस योजना के बारें में हमने ढूँढा तो हमें ४ दिसंबर २०१९ को लोकमत द्वारा प्रकाशित खबर मिली, जिसमें लिखा गया है कि हैदराबाद में हुई घटना की पुष्टभूमि पर नागपुर पुलिस ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए यह अभिनव कदम लिया है | इसके अनुसार महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा की घटनाओं के मद्देनजर, नागपुर पुलिस ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए मदद दी है | शहर के किसी भी हिस्से में, शाम ९ बजे के बाद, अगर किसी महिला के पास परिवहन की सुविधा नहीं है, तो उसे पुलिस नियंत्रण कक्ष से संपर्क करने पर पुलिस वाहन भेज दिया जायेगा | पुलिस कंट्रोल रूम में, आपको १०० नंबर या ०७१२-२५६१२२२ नंबर डायल करना होगा |

आर्काइव लिंक

जब गूगल पर हमने उपरोक्त दावे में दिए नम्बर “७८३७०१८५५५” सर्च किया गया तो परिणाम से १ दिसंबर २०१९ को हिंदुस्तान टाइम्स द्वारा प्रकाशित खबर प्राप्त हुई, जिसके अनुसार लुधियाना पुलिस ने भी महिलाओं के लिए एक मुफ्त नाइट पिक एंड ड्रॉप सुविधा शुरू की है | लुधियाना के पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल के अनुसार “कोई भी महिला जो रात के १० बजे  और सुबह के ६ बजे के बीच घर जाने के लिए वाहन नहीं ले पाती है, वह पुलिस हेल्पलाइन नंबरों – 112, 1091 और 7837018555 पर कॉल कर सकती है – जो कि सभी दिनों पर उपलब्ध होगी |” इससे यह स्पष्ट होता है कि वायरल पोस्ट में दिया गया नंबर लुधियाना पुलिस के हेल्पलाइन का नंबर है न की नागपुर पुलिस द्वारा शुरू की गयी सुविधा का है |

आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को आंशिक रूप से गलत पाया है क्योंकि सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में दिया गया नंबर गलत है | यह नंबर लुधियाना पुलिस द्वारा शुरू की गयी  मुफ्त नाइट पिक एंड ड्रॉप सुविधा हेल्पलाइन का नंबर है | हालाकि नागपुर पुलिस ने भी उपरोक्त बताये गयी योजना को शुरू किया है परन्तु उनका हेल्पलाइन नंबर ७१२-२५६१२२२ है | 

नागपुर पुलिस द्वारा मुफ्त नाइट पिक एंड ड्रॉप सुविधा हेल्पलाइन का नंबर- 7122561222

लुधियाना पुलिस द्वारा मुफ्त नाइट पिक एंड ड्रॉप सुविधा हेल्पलाइन का नंबर- 7837018555

Avatar

Title:लुधियाना पुलिस द्वारा महिलाओं के लिए परिवहन सुविधा का हेल्पलाइन नंबर नागपुर का बताकर हुआ वायरल |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: Partly False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •