महाराष्ट्र से मनीषा पाटिल नामक डॉक्टर की मौत की खबर फर्जी है | तस्वीर में दिख रही युवती जीवित व स्वस्थ हैं|

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर एक वायरल पोस्ट के ज़रिये यह दावा किया गया है कि महाराष्ट्र में रहने वाली डॉक्टर मनीषा पाटील की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हो गई है | पोस्ट के साथ एक तस्वीर संग्लित करते हुये यह बताया जा रहा है कि इस डॉक्टर ने कोरोना के १८८ मरीजों का इलाज कर उन्हें इस संक्रमण से मुक्त किया जिसके बाद उनकी कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण ही मृत्यु को गयी है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि “बहुत दुख के साथ बताना पड़ रहा है कि महाराष्ट्र की रहने वाली 28 वर्षिय डॉक्टर मनीषा पाटील की कल कोरोना बिमारी से मौत हो गई। मनीषा ने कुल 188 लोगो की जाँच कर उन्हे स्वस्थ किया था लेकिन वे खुद को ना बचा सकी। उन्की आत्मा को शांति दे |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

फैक्ट क्रेसेंडो ने सोशल मीडिया पर विभिन्न कीवर्ड की मदद से ये पता लगाया कि इस महिला का नाम डॉक्टर ऋचा राजपूत है जो कानपूर की रहनेवाली हैं और एक जनरल फिसिशियन है | फैक्ट क्रेसेंडो से बात करते हुए उन्होंने हमें बताया कि “इस तस्वीर को मैंने ब्लू ट्रेंड को फॉलो करते हुए अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड किया था | सोशल मीडिया पर किये गये दावे सरासर गलत है | मेरी तस्वीर का दुरूपयोग करते हुए गलत खबर फैलाई जा रही है | मेरे कोरोनावायरस से संक्रमित मरिजों के इलाज से कोई संबंध नही है ना ही  मैं उनके इलाज़ करने वाली टीम का हिस्सा हूँ | मैंने इस मामले को लेकर यूपी पुलिस के ऑनलाइन शिकायत पोर्टल में शिकायत की है परंतु उन्होंने मुझे मेरे पास के लोकल थाने में जाकर शिकायत दर्ज करने का सुझाव दिया है, मौजूदा परिस्थिति में बहार न निकलने की हिदायत का पालन करते हुये मैंने अभी तक लोकल थाने में रिपोर्ट नहीं दर्ज करायी है | 

उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर स्पष्टीकरण देते हुए वीडियो अपलोड किया, जहाँ वह सोशल मीडिया पर किये गये दावों को खारिज करते हुए इस पोस्ट को डिलीट करने का अनुरोध करती है | ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि “अभी हम जिंदा है ” हमारे मौत की फेक न्यूज़ फेसबुक और ट्विटर पर बहुत वायरल हो गयी है , हँसी तो आती है इसपर लेकिन डर भी लगता है कही कोई हमारे भूत की अफवाह फैला कर कुटाई न कर दे ..ऐसी अफवाहों पर कई लोगो की जान जा चुकी है |”

आर्काइव लिंक

इस घटना का स्पष्टीकरण ऋचा ने उनके फेसबुक अकाउंट से भी देते हुए लिखा है कि “मेरी तस्वीरों का उपयोग करके मेरी मौत की खबर की झूठी खबर फेसबुक पर फैलायी जा रहा है , कृपया ऐसे किसी भी पोस्ट की सूचना मुझे दे और इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करे |”

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | उपरोक्त तथ्यों से स्पष्ट है कि सोशल मीडिया पर मनीषा पाटिल के नाम से जो पोस्ट वायरल हुआ है वह असत्य है | डॉक्टर ऋचा राजपूत की फोटो का गलत इस्तेमाल करके झूठी अफवाह फैलाई गई है। वह महाराष्ट्र की नहीं, बल्कि उत्तर प्रदेश के कानपूर की रहने वाली है। वह कोरोना से संक्रमित नहीं है | वे जीवित एवंम स्वस्थ है |

Avatar

Title:महाराष्ट्र से मनीषा पाटिल नामक डॉक्टर की मौत की खबर फर्जी है | तस्वीर में दिख रही युवती जीवित व स्वस्थ हैं|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •