गौरव भाटिया ने नहीं कहा मोदी का प्रधानमंत्री बनना ‘लोकतंत्र का अपमान‘ है, अधूरा वीडियो गलत दावे से वायरल..

False Political

सोशल मीडिया पर बीजेपी के प्रवक्ता गौरव भाटिया का एक वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि एक टीवी डिबेट के दौरान बीजेपी प्रवक्ता ने कहा नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना ‘लोकतंत्र का अपमान’ है। 

वायरल वीडियो के साथ यूजर्स ने लिखा है – लोकतंत्र का अपमान तो तब होता है जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनते हैं । कभी गोडसे मुर्दाबाद कभी प्रधानमंत्री मोदी जी का अपमान, जब हिम्मत नहीं होती सुप्रिया जी से डिबेट करने की तो काहे आकर अपनी पार्टी की फजीहत कराते हो.

फेसबुकआर्काइव 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

अगर इस तरह के बयान बीजेपी के प्रवक्ता गौरव भाटिया ने दिया होता तो मीडिया इसे जरुज कवर करती। लेकिन हमें इस तरह की कोई खबर नहीं मिली ।

वायरल वीडियो में आजतक का लोगो देखा जा सकता है। हमने अलग अलग की-वर्ड्स के साथ वायरल वीडियो ढूंढने की कोशिश की। वायरल डिबेट का पूरा वीडियो  हमें आजतक के यूट्यूब चैनल पर मिला ।  

वीडियो को 21 जनवरी 2023 को अपलोड किया गया था। वीडियो के शिर्षक में लिखा गया है -क्या पूरे विपक्ष को एक साथ जोड़ पाएंगे राहुल गांधी। 

चैनल में अपलोड वीडियो को पूरा सुनने पर वायरल वीडियो को 13.34 सेकंड से देखा जा सकता है। 

इस कार्यक्रम में गौरव भाटिया और सुप्रिया श्रीनेत ने हिस्सा लिया था। जिसमें सुप्रिया श्रीनेत के खिलाफ तंज कसते हुए गौरव भाटिया कहते हैं, इन्होंने कहा कि आप अपमान करते हैं हमारी पार्टी के अध्यक्ष का। लोकतंत्र का अपमान हो रहा है इनके हिसाब से। लोकतंत्र का अपमान तब होता है जब श्री नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनते हैं देश के, और उनको कहा जाता है चौकीदार चोर है। और उसके बाद माफी मांगी जाती है कान पकड़ के, राहुल गांधी कहते हैं I am sorry. I lied before the hounarble Supreme Court औऱ उसके बाद जनता ऐसा करारा थप्पड़ मारती है के चहरे पर सूजन रहती है। वो होता है लोकतंत्र का अपमान। 

हमने वायरल वीडियो और असली वीडियो का विश्लेषण किया। जिससे साफ है कि अधूरे वीडियो शेयर कर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है। मूल वीडियो का सिर्फ लोकतंत्र का अपमान तब होता है जब श्री नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनते हैं क्लिप का इस्तेमाल कर भ्रम फैलाया जा रहा है।

निम्न में विश्लेषण देखें।

“चौकीदार चोर है” के लिए राहुल गांधी ने मांगी माफी

दरअसल 2019 में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट से बिना शर्त माफी मांग ली। राहुल ने अवमानना के मामले में पहले दायर किए गए दो हलफनामों में सिर्फ खेद जताया था। इस पर कोर्ट ने उन्हें फटकार लगाई थी। इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने शीर्ष अदालत से मौखिक रूप से माफी मांगी थी। 

निष्कर्ष-

तथ्यों की जांच के बाद हमने पाया कि बीजेपी के प्रवक्ता गौरव भाटिया का वायरल वीडियो अधूरा है। पूरे वीडियो में से एक कुछ क्लिप लेकर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

Avatar

Title:गौरव भाटिया ने नहीं कहा मोदी का प्रधानमंत्री बनना ‘लोकतंत्र का अपमान’ है, अधूरा वीडियो गलत दावे से वायरल..

Fact Check By: Saritadevi Samal 

Result: False

Leave a Reply