क्या पाकिस्तान के कराची में भारी वर्षा के कारण बाढ़ आने से रास्ते पर आए मगरमच्छ?

False Social
C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Karachi floods Crocodile.jpg

पाकिस्तान के कराची में हो रही भारी वर्षा के चलते सोशल मंचों पर कई वीडियो वाईरल हो रहे है। एक ऐसा ही एक वीडियो जिसमे आपको शहर के एक क्षेत्र में काफी जलभराव नज़र आएगा और उसी दौरान एक मगरमच्छ तेजी से तैरता हुआ नज़र आयेगा, इसके उपरांत वीडियो में लोग भागते हुए नज़र आ रहे है और लोगों के चिखने की भी आवाज़ इस वीडियो में सुनी जा सकती है। वीडियो के साथ जो शीर्षक वाईरल हो रहा है उसके मुताबिक यह घटना पाकिस्तान कराची से है और दावे में अंग्रेज़ी भाषा में लिखा है, 

“कराची में भारी बारिश के बाद खतरनाक जानवर आवासीय क्षेत्र में बाढ़ के पानी के साथ प्रवेश करते हैं। मुस्कुराती आँखों के साथ मुस्कुराता हुआ चेहरा। चेहरे पर खुले मुँह के साथ चेहरा। खुशी के आँसू के साथ मगरमच्छ, काले कोबरा। काला बिच्छू।” 

https://twitter.com/winfoxus/status/1298538016189886465

आर्काइल लिंक

इस वीडियो को कई अलग- अलग दावों के साथ भी वायरल किया गया है।

2019 में बिहार में हुई भारी बारिश के चलते इस वीडियो को कई सोशल मंच उपभोक्ताओं ने यह भी दावा किया था कि यह वीडियो बिहार का है।

https://twitter.com/RupeshS64372789/status/1178707937046302729

आर्काइव लिंक

इस साल मध्य प्रदेश में मुसलाधार वर्षा के चलते इस वीडियो को सोशल मंच उपभोक्ताओं ने राजनिति से जुडे लोगों पर तंज कसते हुए दावा किया है कि यह वीडियो होशंगाबाद शहर का है और शीर्षक में लिखा है कि “नर्मदा नदी से मध्य प्रदेश के होशंगाबाद शहर में आया मगरमच्छ।”

https://twitter.com/insidecloak/status/1300024298380247041

आर्काइव लिंक

यही वीडियो 2020 में उडिसा में हुई भारी वर्षा के कारण सोशल मंच पर वाईरल हो रहा है और दावा है कि यह घटना उडिसा के एक गाँव की है। 

आर्काइव लिंक

ए.बी.पी न्यूज़ चैनल पर भी हम इस वीडियो को गलत दावे को साथ देख सकते है। इस वीडियो को ए.बी.पी की रीपोर्ट में 0.44 से 0.52 सेकंड तक देख सकते है।

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने इनवीड टूल के माध्यम से रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये इस वीडियो की सच्चाई का पता लगाने की कोशिश की, हमें इंटरनेट पर कई समाचार लेख मिले जो दावा कर रहे थे कि यह वीडियो गुजरात के वडोदरा का है। इसको ध्यान में रखते हुए हमने कीवर्ड सर्च के माध्यम से जाँच की तो हमें टाइमस ऑफ इंडिया के यूट्यूब चैनल पर प्रसारित किया गया एक वीडियो मिला और उसके मुताबिक यह वीडियो गुजरात के वडोदरा का है। यह वीडियो 4 अगस्त 2019 को प्रसारित किया गया था और उसके साथ शीर्षक में लिखा है, 

“भारी बारिश के चलते जलभराव होने की वजह से, वड़ोदरा के आवास परिसरों में मगरमच्छों के प्रवेश की घटनाओं को दिखाया गया है।“

आर्काइव लिंक

फैक्ट क्रेसेंडो ने वडोदरा के वन विभाग के जिल्हा वन अधिकारी व वन्यजीव वार्डनकार्तिक महाराजा से इस वायरल हो रहे वीडियो के संदर्भ में संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि:-

वडोदरा में विश्वामित्री नदी, नर्मदा नदी, दिउ नदी,  महिसागर नदी है, इन सभी नदियों से वडोदरा घिरा हुआ है। विश्वामित्री नदी में ही २५० से ज़्यादा मगर है, अकसर जब पानी का बहाव बढ़ जाता है तो नदी से सटे गाँवों व शहरों में नदी के पानी के साथ मगर बह के आ जाते है। उन गाँवों एवं शहरों के लिए ये बहुत ही आम बात है। पानी का बहाव बढ़ते ही तो मगरमच्छ तैरने में नाकाम रहते है और वे पानी के साथ गाँवों व शहरों में घुस आते है। अत्यधिक बारिश के दिनों में हम लगभग ऐसे १०० मगरमच्छों को रेस्क्यू करते है। जैसे ही मगरमच्छ गाँवो व शहरों में नज़र आतें है लोग हमें संपर्क करते है, वन विभाग, गैर सरकारी संगठन व वन्यजीव से जुड़े जितने भी लोग है वे उस मगरमच्छ के रेस्क्यू के लिए पहुँच जाते है। वायरल हो रहा वीडियो वडोदरा का है। २०१९ में भारी वर्षा के कारण काफी जलभराव हो गया था और वीडियो में दिख रहा मगरमच्छ उन कुछ मगरमच्छों में से एक है जिन्हें हमने रेस्क्यू किया था।”

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत पाया है। वाईरल हो रहा वीडियो गुजरात के वडोदरा का है ना की पाकिस्तान के कराची का।

Avatar

Title:क्या पाकिस्तान के कराची में भारी वर्षा के कारण बाढ़ आने से रास्ते पर आए मगरमच्छ?

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False