वर्तमान में कोरोना प्रोटोकॉल के चलते बाबा बैद्यनाथ (बाबाधाम) को आम जन के दर्शनों के लिए नहीं खोला गया है..

False Religious
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोरोना वायरस महामारी की तीसरी लहर के चलते झारखंड के सभी धार्मिक स्थलों को लोगों के दर्शन के लिये बंद रखा गया है। इससे सम्बन्धित सोशल मंचो पर न्यूज़ 18 झारखंड की एक ग्राफिक प्लेट काफी वायरल हो रही है, उस प्लेट पर लिखा है, 

देवघर बाबाधाम में श्रद्धालुओं को जाने की इजाजत।“ 

वायरल हो रहे ग्राफिक प्लेट का दावा है कि झारखंड के देवघर में स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में लोगों को दर्शन के लिये आने की इजाजत दे दी गयी है।

इंटरनेट पर साझा किये गये पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, हर हर महादेव।”

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाय कि वायरल हो रही न्यूज़ 18 झारखंड की ग्राफिक प्लेट एक वर्ष पूर्व के न्यूज़ बुलेटिन की है। वर्तमान में कोविड प्रोटोकॉल के चलते देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में लोगों को दर्शन के लिये जाने की अनुमति नहीं है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर कि, परिणाम में हमें ऐसी कोई भी खबर नहीं मिली जो इस बात की पुष्टि कर सके कि झारखंड के देवघर में स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में लोगों को दर्शन के लिये जाने की अनुमति दे दी गयी है। हमें जागरण द्वारा इस वर्ष 6 जून को प्रकाशित किया हुआ एक समाचार लेख मिला जिसमें लिखा था कि झारखंड के सभी धार्मिक स्थल व बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में सिर्फ पंडा-पुजारियों को मंदिर में पूजा करने की इजाजत है व भक्तों के प्रवेश पर रोक है। 

आर्काइव लिंक 

इसके बाद हमने इस सन्दर्भ में यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया तो हमें न्यूज़18 बिहार झारखंड द्वारा प्रसारित एक वीडियो मिला, यह वीडियो 31 जुलाई 2020 को प्रसारित किया गया था। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, देवघर: शिव भक्तों के लिए खुशखबरी, सीमित संख्या में श्रद्धालुओं को बाबाधाम जाने की मिली इजाजत,” और इसके नीचे दी गयी जानकारी में लिख है, “देवघर बाबाधाम से जुड़े श्रद्धालुओं को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने सीमित संख्‍या में देवघर बाबाधाम में श्रद्धालुओं को जाने की इजाजत दी है। कोर्ट ने कहा है कि पूर्णिमा और भादो में नई व्‍यवस्‍था लागू की जाए। कोर्ट ने ई-टोकन की व्‍यवस्‍था करने का भी सुझाव दिया। कोर्ट ने खास मौके पर शर्तों के साथ धार्मिक स्‍थलों को खोलने का सुझाव दिया है।“

इस वीडियो में 0.18 मिनट पर आप वायरल हो रही इस ग्राफिक प्लेट को देख सकते है।

आर्काइव लिंक

इसके बाद हमने ये जानने की कोशिश की कि वर्तमान में झारखंड के देवघर में स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में लोगों को दर्शन करने जाने की अनुमति है या नहीं। इस सम्बन्ध में फैक्ट क्रेसेंडो ने देवघर के एस.पी धनंजय कुमार सिंह से संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि, “वायरल हो रहा दावा सरासर गलत है। वर्तमान में बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति नहीं है। कोरोना महामारी के चलते भविष्य में लोगों के लिए मंदिर कब खुलेगा इसका निर्णय राज्य सरकार लेगी।“ 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहा न्यूज़ 18 झारखंड का ग्राफिक प्लेट एक पुराने न्यूज़ बुलेटिन का है। वर्तमान में देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में लोगों को दर्शन के लिये जाने की अनुमति नहीं है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. अभिनेता दिलीप कुमार के सात वर्ष पुराने वीडियो को उनके निधन के पहले का अंतिम वीडियो बता वायरल किया जा रहा है।

२. राहुल गांधी के सम्बन्ध में ABP न्यूज़ का न्यूज़ कार्ड फर्ज़ी है।

३. ई-कॉमर्स वेबसाइट ‘EBAY’ पर बेचे जा रहे ओलंपिक ‘वॉलंटियर पिन’ को भ्रामक दावे के साथ साझा किया जा रहा है|

Avatar

Title:वर्तमान में कोरोना प्रोटोकॉल के चलते बाबा बैद्यनाथ (बाबाधाम) को आम जन के दर्शनों के लिए नहीं खोला गया है..

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply