क्या प्रधानमंत्री मोदी के अरबों के बंगले पर रेड पड़ी है? क्या इस खबर का खुलासा पुण्य प्रसून बाजपाई कर रहे है? जानिये सच…

False Political

देश के राजनेताओं के सम्बन्ध में इंटरनेट पर अकसर कई वीडियो व तस्वीरें गलत व भ्रामक दावों के साथ वायरल होते रहते है। फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसी कई खबरों का अनुसंधान कर उनकी प्रमाणिता अपने पाठकों तक पहुंचायी है। इन दिनों ऐसी ही एक खबर इंटरनेट पर वायरल हो रही है जिसका दावा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बंगले पर रेड पड़ी है व इसका खुलासा वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपाई ने किया है। इस खबर के साथ पुण्य प्रसून बाजपाई का वीडियो भी वायरल हो रहा है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

अभी-अभी PM मोदी के अरबों के बंगले में पडी़ रेड,मशहूर पत्रकार का जबरदस्त खुलासा लाइव।“

आर्काइव1 | आर्काइव2

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के घर पर रेड नहीं पडी है व वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपाई द्वारा ऐसी किसी भी ख़बर का खुलासा नहीं किया गया है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रही खबर को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर की, परिणाम में हमें ऐसा कोई विश्वसनीय समाचार लेख नहीं मिला जो इस बात की जानकारी देता हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बंगले पर रेड पड़ी है। आप को बता दें कि यह जाहिर सी बात है कि अगर ऐसा कुछ हुआ होता तो देश भर व दुनिया में खलबली मच जाती।

इसके बाद हमने वायरल हो रहे पुण्य प्रसून बाजपाई के वीडियो इस वीडियो को पुरी तरह सुना तो हमें वहां कही वे ऐसा बोलते हुये नज़र नहीं आये कि प्रधानमंत्री मोदी के बंगले पर रेड पड़ी है। वे उत्तर प्रदेश के चुनाव व चुनाव के दौरान किये जाने वाले भ्रष्टाचार, हर पार्टी द्वारा किया गया खर्च व खर्च के लिये पैसों की व्यवस्था कैसे होती है, इस सम्बन्ध में बात कर रहे है।

इसके बाद हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया व पुण्य प्रसून बाजपाई के इस वायरल वीडियो का मूल वीडियो खोजने की कोशिश की, नतीजन हमें यही वीडियो उनके आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर इस वर्ष 1 जुलाई को प्रसारित किया हुआ मिला। इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, राजनितिक भ्रष्टाचार: कैसे विनिवेश और निजीकरण इक्नामिक रिफार्म नहीं पॉलेटिकल लूट है।“

इस 21.43 मिनट के वीडियो में उन्होंने कही ऐसा नहीं बोला है कि प्रधानमंत्री मोदी के बंगले पर रेड पड़ी है।

आर्काइव लिंक

तदनंतर फैक्ट क्रेसेंडो ने पी.एम.ओ के पी.आई.बी के मीडिया और संचार अधिकारी शाहबाज हसिबि से संपर्क किया व उनसे इस बात की पुष्टि की कि क्या प्रधानमंत्री मोदी के बंगले पर रेड पड़ी है या नहीं। उन्होंने इस बता को गलत बताते हुए कहा कि, “वायरल हो रहा दावा सरासर गलत व भ्रामक है, सोशल मंचों पर प्रधानमंत्री जी को ले कर के इस प्रकार की झूठी व निराधार बातों का हम कड़े शब्दों में खंडन करते हैं ।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वीडियो के साथ वायरल हो रहा दावा सरासर गलत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के घर पर रेड नहीं पडी है व वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपाई ने इस खबर का खुलासा नहीं किया है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. अभिनेता दिलीप कुमार के सात वर्ष पुराने वीडियो को उनके निधन के पहले का अंतिम वीडियो बता वायरल किया जा रहा है।

२. राहुल गांधी के सम्बन्ध में ABP न्यूज़ का न्यूज़ कार्ड फर्ज़ी है।

३. ई-कॉमर्स वेबसाइट ‘EBAY’ पर बेचे जा रहे ओलंपिक ‘वॉलंटियर पिन’ को भ्रामक दावे के साथ साझा किया जा रहा है|

Avatar

Title:क्या प्रधानमंत्री मोदी के अरबों के बंगले पर रेड पड़ी है? क्या इस खबर का खुलासा पुण्य प्रसून बाजपाई कर रहे है? जानिये सच…

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •