भारत के नक्शे की वायरल तस्वीर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की गलत सीमाओं को दर्शाती है|

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


५ अगस्त २०१९ को, भारत सरकार ने संविधान के अनुच्छेद ३७० को रद्द कर दिया, जिसमें जम्मू और कश्मीर के निवासियों को विशेष दर्जा दिया जाता था | सरकार ने जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने का भी निर्णय लिया पहला भाग जम्मू और कश्मीर, दूसरा भाग लद्दाख-जो कि ३१ अक्टूबर २०१९ को लागू हुआ | 

१ नवंबर २०१९ को “QMaths” नामक फेसबुक पेज ने भारत की नक़्शे की तस्वीर साझा करते हुए एक तस्वीर पोस्ट की है, जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “भारत का अपडेटेड नया नक्शा”

भारत की नक्शे की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है, जो जम्मू-कश्मीर के विभाजन के बाद भारत के नए मैप को दर्शाने का दावा करती है | यह तस्वीर जम्मू और कश्मीर और लद्दाख की अद्यतन सीमाओं को दिखाती है, जिसमें दो नए केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग समान क्षेत्र आवंटित किए गए हैं | 

फेसबुक पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि.. 

जाँच की शुरुआत हमने सरकारी वेबसाइट PIB पर जाकर भारत के नए नक्शे से जुडी प्रेस विज्ञप्ति को ढूँढकर की, जिसके परिणाम से हमने पाया कि २ नवंबर २०१९ को  भारत सरकार ने भारत के नए नक़्शे की तस्वीरें जारी कीं हैं | सरकार द्वारा जारी नए नक्शे में लद्दाख को जम्मू और कश्मीर की तुलना में एक बड़े क्षेत्र के साथ दिखाया गया है |

India-Political1

भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सिर्फ दो केंद्र शासित प्रदेशों को दिखाने वाला एक नक्शा भी जारी किया गया है | 

Map-of-UTs

नीचे आप सोशल मीडिया पर वायरल भारत के नक्शे में जम्मू- कश्मीर और लद्दाख को दिखाने वाले नक़्शे और भारत सरकार द्वारा जारी किये गये नक़्शे तुलनात्मक विशलेषण देख सकते है | सरकार द्वारा जारी नए नक्शे में लद्दाख को जम्मू और कश्मीर की तुलना में एक बड़े क्षेत्र के साथ दिखाया गया है |

प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो इंडिया ने उनके आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ३१ अक्टूबर २०१९ को द्विभाजन के प्रभावी होने के दो दिन बाद २ नवंबर को भारत के नए नक्शे की कई तस्वीरें ट्वीट कीं थीं | 

आर्काइव लिंक 

गृह मंत्रालय ने २ नवंबर २०१९ को नए नक्शे के साथ जम्मू कश्मीर और लद्दाख के नवगठित केंद्र शासित प्रदेशों से संबंधित एक प्रेस विज्ञप्ति साझा की थी, जिसे आप नीचे देख सकते है | 

PressReleasePage

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से इन तस्वीरों को ट्वीट किया है जहाँ हम भारत के नए नक्शा को देख सकते है | 

आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | हम देख सकते हैं कि वाईरल नक्शे की तस्वीर वास्तव में नकली है और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के गलत विभाजन को दर्शाती है | 

Avatar

Title:भारत के नक्शे की वायरल तस्वीर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की गलत सीमाओं को दर्शाती है|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •