राहुल गांधी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अपने नामांकन के बाद अयोध्या राम मंदिर दर्शन के लिए नहीं गए, वायरल वीडियो असंबंधित है…

Missing Context Political

बैद्यनाथ धाम में राहुल गांधी के आगमन पर मोदी के समर्थन में नारे लगाती भीड़ का पुराना वीडियो हाल का बताकर  शेयर किया जा रहा है।

इस बार के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी अपनी किस्मत आजमाने यूपी की रायबरेली लोकसभा सीट से मैदान में उतरे हैं।  रायबरेली सीट को ‘वीवीआईपी’ सीट भी कहा जाता है। क्यूंकि यहां से उनके दादा फिरोज गांधी विजयी हुए थे, फिर उनकी दादी व देश की पूर्व महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 1967, 1971 और 1980 के चुनाव में इस सीट पर जीत हासिल की। बहरहाल राहुल गांधी क्या रायबरेली को जीत कर जीत की विरासत संभाल पाएंगे ? इसका फैसला आगामी 4 जून को होगा। पर इस बीच सोशल मीडिया पर उनके नामांकन से जोड़ते हुए एक वीडियो वायरल हुआ है। यह वीडियो उनके मंदिर दर्शन का है, जहां पर उनके सामने मोदी मोदी के नारे लगाए जा रहे हैं। इंटरनेट यूज़र्स ने यह वीडियो इस दावे से शेयर किया है कि वो रायबरेली से अपना नॉमिनेशन भरके अयोध्या राम मंदिर के दर्शन करने गए, और उनकी मौजूदगी में मोदी-मोदी के नारे लग गए। वीडियो इस  कैप्शन के साथ है…

रायबरेली से फार्म भरकर राहुल गाँधी अयोध्या राम मंदिर दर्शन के लिए आये है। वायनाड चुनाव के दौरान यह कभी मंदिर नहीं गये।राम भक्तों ने इनके बहुरूपिए पन का दिया जबाब*मोदी मोदी* के नारे लगाकर विरोध किया। *ऐसे बहुरूपियो से सावधान रहें।*

फेसबुक पोस्ट ।  आर्काइव पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने जांच की शुरुआत में यह ध्यान दिया कि, वीडियो के साथ राहुल गांधी के नामांकन दाखिल करने के बाद अयोध्या राम मंदिर में दर्शन का दावा किया गया है। यह पता लगाने के लिए हमने राम मंदिर में संपर्क किया। हमारी बात वहां पर एक सीनियर कर्मचारी नाम (महेश शर्मा) से हुई। उनके द्वारा वायरल दावे का खंडन करते हुए बताया गया कि राहुल गांधी राम मंदिर में दर्शन करने के लिए नहीं आये। अगर उनके आने का कार्यक्रम होता तो ये स्वयं सबको पता होता। पर ये झूठी खबर है।

इससे हम इतना तो स्पष्ट हुए कि राहुल गांधी का अयोध्या जाने का दावा फर्जी है। अब हमने उनके वीडियो को देखना शुरू किया कि आखिर वो कहां का है ? इसके लिए हमने सम्बंधित कीवर्ड्स का इस्तेमाल किया। परिणाम में हमें यह वीडियो 3 फरवरी 2024 को भाजपा गुजरात के आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर  पोस्ट की हुई मिली। इसके साथ कैप्शन में लिखा गया है कि “सनातन के धाम देवघर, बाबा वैद्यनाथ धाम में राहुल गांधी के सामने मोदी-मोदी के नारे लगाए गए।”

https://www.instagram.com/reel/C24i-EnJdhH/?utm_source=ig_web_copy_link

आर्काइव

इसके बाद हमें एएनआई के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो 3 फरवरी 2024 में अपलोडेड मिला। जिसके साथ कैप्शन में झारखंड में राहुल गांधी के बाबा बैद्यनाथ धाम जाने पर भीड़ ने लगाए ‘मोदी, मोदी’ के नारे लिखा था।

आर्काइव

इस वीडियो से सम्बंधित हमें कई मीडिया (आर्काइव) रिपोर्ट्स (आर्काइव) प्रकाशित मिली। जो यह बताते हैं कि वायरल वीडियो उनके नामांकन से सम्बंधित नहीं है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया के तरफ से छपी खबर के अनुसार कांग्रेस सांसद राहुल गांधी अपनी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान 2 फरवरी को झारखंड में थें। उन्होंने गुलाबी धोती पहन कर और माथे पर चंदन लगा कर  3 फरवरी 2024 को बाबा बैद्यनाथ धाम में पूजा-अर्चना करने पहुंचें। जैसे ही राहुल गांधी ने झारखंड के देवघर में प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग में प्रवेश किया, जोरदार नारेबाजी शुरू हो गई। बड़ी संख्या में लोगों ने ‘राहुल गांधी जिंदाबाद’ के नारे लगाए, लेकिन अचानक यह ‘मोदी-मोदी’ के नारों में बदल गया।

आर्काइव

निष्कर्ष-

तथ्यों के जांच से यह पता चलता है कि राहुल गांधी का वायरल वीडियो फरवरी 2024 का है। तब वो भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान झारखंड के देवघर स्थित  बाबा बैद्यनाथ धाम पहुंच कर दर्शन किये थे। इसी दौरान उनके बाहर निकलते ही मोदी-मोदी के नारे लगाए थें। इस वीडियो का उनके अयोध्या राम मंदिर दर्शन या फिर नामांकन से कोई लेना देना नहीं है। 

Avatar

Title:राहुल गांधी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अपने नामांकन के बाद अयोध्या राम मंदिर दर्शन के लिए नहीं गए, वायरल वीडियो असंबंधित है…

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: Missing Context

Leave a Reply