यति नरसिंहानंद को सर तन से जुदा की धमकी दे रहे लोगों का यह वीडियो अभी का नहीं है।

Communal Missing Context

यह वीडियो अभी का नहीं बल्की एक साल पुराना है। इसको वर्तमान में हो रही घटनाओं से जोड़कर वायरल किया जा रहा है।

एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। उसमें आप कुछ लोगों को पैगम्बर मोहम्मद के बारे में अपशब्द कहने के लिये यति नरसिंहानंद को धमकी दे रहे है। वे लोग यति नरसिंहानंद का सर तन से जुदा करने की धमकी दे रहे है। 

आप देख सकते है कि उन्होंने स्वामी नरसिंहानंद का धमकी भरा बैनर भी लगाया है। वे कह रहे है कि पैगम्बर मोहम्मद के बारे जो अपशब्द कहेगा उसका सर तन से जुदा किया जायेगा। वे कह रहे है कि पैगम्बर मोहम्मद की गुस्ताखी करने वालों के खिलाफ रविवार के दिन रैली निकाली जायेगी। 

दावा किया जा रहा है कि जयपुर के घाटगेट पर एक बार फिर यति नरसिंहानंद का सिर धड से अलग करने की धमकी दे रहे है।

वायरल हो रहे पोस्ट में लिखा है कि, “जयपुर के घाटगेट पर कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा फिर से एक बार स्वामी नरसिंगानद को सर तन से जुदा करने के खुले आम धमकी दी गई आखिर कब तक यह तालिबानी फरमान वाला कानून की यह लोग पैरवी करते रहेंगे इन भी थोड़ा फेमस करो तो है यह हाथ में पकड़ में आए इस्लाम आतंकवाद राष्ट्र बनाने में पर कार्रवाई करी जा सके। हिंदू भाइयों से निवेदन है कि इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।“

फेसबुक

आर्काइव लिंक


Read Also: जम्मू में बाढ़ के पानी में ढ़ह गए पुल का वायरल वीडियो महाराष्ट्र के नाम से वायरल


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस बारे में हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया। परिणाम में हमने पाया कि हमें 19 जुलाई को प्रकाशित टी.वी. 9 भारतवर्ष की खबर मिली। उसमें बताया गया है कि इस वीडियो को 19 जुलाई को केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीटर के माध्यम से शेयर किया था। जिसमें उन्होंने अशोक गहलोत सरकार पर सवाल उठायें व कहा कि जयपुर में यति नरसिंहानंद को खलेआम सर तन से जुदा करने की धमकी दी जा रही है। 

आर्काइव लिंक

टी.वी. 9 भारतवर्ष की रिपोर्ट में आगे बढ़ते हुये हमने लिखा हुआ पाया कि राजस्थान पुलिस ने इस वीडियो को एक साल पुराना बताया है। उसमें यह भी जानकारी दी गयी है कि उस समय रामगंज थाना पुलिस ने वीडियो में दिख रहे आठ लोगों को पकड़कर उनके खिलाफ कार्रवाई की थी।

फैक्ट क्रेसेंडो ने रामगंज के ए.सी.पी सुनिल प्रसाद शर्मा के संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि, “यह वीडियो 8 अप्रैल 2021 को बनाया गया था और तब उसे वायरल किया गया था। जिसके पुलिस ने इसका संज्ञान लेकर वीडियो में दिख रहे आठ लोगों को पाबंद किया था। और अब जब यह वीडियो वापस वायरल किया जा रहा है तो हमने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।“

हमें राजस्थान पुलिस ट्वीटर हैंडल पर 19 जुलाई को किया हुआ एक ट्वीट मिला। उसमें उन्होंने इस बात को स्पष्ट किया है कि वायरल हो रहा वीडियो अभी का नहीं बल्की पिछले साल अप्रैल के महीने का है।

आर्काइव लिंक 

आपको बता दें कि पिछले साल यति नरसिंहानंद ने एक टी.वी शो में मुस्लिम समुदाय के बारे में अपशब्द कहें थे। इसलिये मुस्लिम समुदाय के लोग व धर्मगुरू आक्रोश जता रहे थे।


Read Also:पानीपुरी के पानी में हारपिक मिला रहे शख्स का वीडियो स्क्रिप्टेड है…


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो में पूरा कथन नहीं बताया गया है। यह वीडियो अभी का नहीं, बल्की अप्रैल 2021 का है। पिछले साल पुलिस ने इस वीडियो के संबन्ध में आरोपियों पर कार्रवाई की थी।

Avatar

Title:यति नरसिंहानंद को सर तन से जुदा की धमकी दे रहे लोगों का यह वीडियो अभी का नहीं है।

Fact Check By: Samiksha Khandelwal 

Result: Missing Context

Leave a Reply