क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आने वाले चुनाव के लिए मन्नत मांगने दरगाह पर गए थे? जानिए सच…

False Political

इन दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का एक वीडियो इंटरनेट पर काफी तेज़ी से साझा किया जा रहा है। उसमें आप उनको एक दरगाह (Dargah) में जाते हुए देख सकते है। इसके साथ दावा किया जा रहा है कि आने वाले यूपी चुनाव (UP elections) के लिए मन्नत मांगने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दरगाह गए थे।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ यूज़र ने लिखा है, “योगी पहुँचे बाबा के दरबार। शमसान कब्रिस्तान करने वालों का दरगाह में क्या काम? शायद चुनाव जीतने के लिए मन्नत मांगने गए होंगे। बाबा हमऊं चादर चढई ब हमके फिर एक बार जीता देहो।“ 

(शब्दश:)

फेसबुक 

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने इस दावे को ध्यान में रखकर यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया। हमें यही वीडियो 28 जून 2018 को इंडिया टी.वी द्वारा प्रसारित किया हुआ मिला। इसके साथ दी गई जानकारी में लिखा है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कबीर की मज़ार पर टोपी पहनने से इनकार किया। इस वीडियो में दिखाई गई रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उस वक्त मगहर का दौरा करने वाले थे व उससे एक दिन पहले तैयारियों का जायज़ा लेने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मगहर पहुंचे थे। प्रधानमंत्री मोदी उस समय संत कबीरदास की 500 वीं पुण्यतिथि पर मगहर में स्थित उनकी मज़ार जाने वाले थे।

आर्काइव लिंक

एनडीटीवी इंडिया की रिपोर्ट में बताया गया है कि उस समय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का यह दौरा काफी विवादित साबित हुआ था।

जब वे मज़ार पर गए तब वहाँ मौजूद एक मौलवी ने उन्हें टोपी पहनाने की कोशिश की, परंतु योगी ने उसे पहनने से साफ इनकार कर दिया और मौलवी का हाथ पकड़कर टोपी को दूर कर दिया। उसके बाद मौलवी के आग्रह करने पर उन्होंने उस टोपी का स्पर्श किया। इसको लेकर सारे राजनीतिक दलों ने उन पर तंज कसा और इस बारे में काफी चर्चा की।

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। यह वीडियो वर्ष 2018 का है। उस वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संत कबीरदास की मज़ार पर आने वाले थे व उसकी तैयारी का संज्ञान लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उस मज़ार पर गए थे। तीन साल पुराने इस वीडियो को आने वाली उत्तर प्रदेश विधानसभा से जोड़कर गलत दावे के साथ फैलाया जा रहा है।

Avatar

Title:क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आने वाले चुनाव के लिए मन्नत मांगने दरगाह पर गए थे? जानिए सच…

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False