हिमाचल प्रदेश में हुए भूस्खलन के वीडियो को उत्तरी पाकिस्तान से बता वायरल किया जा रहा है |

False Natural Disaster
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर अकसर आपदाओं को असंदर्भित रूप से जोड़ अलग अलग जगहों के नाम से फैलाया जाता रहा है| फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी कई बार ऐसे वीडियो के माध्यम से किये गये दावों का खंडन कर उनकी  सत्यता अपने पाठकों तक पहुंचाई है | इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो जिसमे एक ऊँचे पहाड़ से बड़े-बड़े बोल्डरों को नीचे गिरते हुए और एक पुल से जाके टकराते हुए देखा जा सकता है | इस वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि ये विशाल भूस्खलन का वीडियो उत्तरी पाकिस्तान से है | 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि….

फैक्ट क्रेसेंडो ने पाया है कि यह वीडियो हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले से है जहाँ गत दिनों आये भूस्खलन में जान माल की भरी क्षति हुई थी|

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इन्विड वी वेरीफाई टूल की मदद से छोटे कीफ्रेम्स में तोड़कर व गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से किया जिसके परिणाम से हमें २५ जुलाई २०२१ को टाइम्स ऑफ़ इंडिया द्वारा प्रकाशित एक खबर मिली | इस खबर में वायरल हो रहे वीडियो को भी देखा जा सकता है | इस खबर के अनुसार यह वीडियो हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले से है | यह घटना संगल वैली के बसपा पुल के पास है, इस भूस्खलन में 9 पर्यटकों की जान गई थी| इसके आलावा कुछ बोल्डरों के एक गाड़ी पे गिरने के वजह से वह गाड़ी और उसके अंदर के लोग भी कुचले व मारे गये |

इस वीडियो को रायटर्स ने भी साझा करते हुए लिखा है कि यह घटना भारत के हिमाचल प्रदेश की है, जहाँ इन भरी बोल्डरों के गिरने से 9 लोगों की जान चली गयी है| इस खबर को २५ जुलाई २०२१ को प्रकाशित करते हुए शीर्षक में लिखा गया है कि “उत्तरी भारत में भूस्खलन के चलते 9 लोगों की जान गयी |”

आगे हमने गूगल पर यह सर्च किया कि क्या पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तान में कोई भूस्खलन आया है या नहीं जिसके परिणाम से हमें २५ जुलाई २०२१ को इंडिया टीवी द्वारा प्रकाशित खबर मिली | इस खबर के शीर्षक में लिखा गया है कि पाकिस्तान में कोयला खदान में बारिश के कारण भूस्खलन हुआ; जिसके चलते 4 लोग मारे गये |” इस खबर में आगे लिखा गया है कि यह भुस्कलन दक्षिण पश्चिम पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में आया था और इस दुर्घटना के चलते कोयला खदान में कम से कम चार श्रमिकों की मौत हो गई है | द आउटलुक द्वारा प्रकाशित खबर के अनुसार यह भूस्खलन हरनाइ जिले के शाहनग में आया था |

तदनंतर इस सन्दर्भ में और स्पष्टता के लिए फैक्ट क्रेसेंडो ने पाकिस्तान स्थित पत्रकार इज्हरुल्लाह से संपर्क किया, वे द इंडिपेंडेंट के साथ जुड़े हुए है | उन्होंने हमें बताया कि यह वीडियो पाकिस्तान से नहीं है | ऐसी कोई भी घटना उत्तरी पाकिस्तान से रिपोर्ट नहीं की गई है | साथ ही उन्होंने हमें यह भी बताया कि उनके अनुसार यह वीडियो भारत से हो सकता है | 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त वीडियो के साथ किये गये दावे को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर हिमाचल प्रदेश में हुए भूस्खलन के वीडियो को उत्तरी पाकिस्तान का बताया जा रहा है | वायरल हो रहा वीडियो भारत के हिमाचल प्रदेश से है |

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. महिलाओं द्वारा फिल्म डायरेक्टर की पीटाई के वीडियो को भा.ज.पा से जोड़ गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

२. मेक्सिको में मगरमच्छ के महिला पर हमला करने के वीडियो को भारत का बताकर फैलाया जा रहा है |

३. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा राम मंदिर पर किया कथित विवादित ट्वीट का स्क्रीनशॉट ट्वीट फर्ज़ी है।

Avatar

Title:हिमाचल प्रदेश में हुए भूस्खलन के वीडियो को उत्तरी पाकिस्तान से बता वायरल किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •