क्या फटी टी-शर्ट पहनकर स्कूल में बैठे बच्चे की तस्वीर भारत से है?

False Political

यह तस्वीर भारत से नहीं बल्की कंबोडिया से है।

इन दिनों एक तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो रही है। उसमें आप एक बच्चे को फटी हुई शर्ट पहने हुये बेंच पर बैठकर पढ़ाई करते हुये देख सकते है। दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीर भारत के एक स्कूल की है। वह बच्चा फटी हुई टी- शर्ट पहनकर स्कूल जा रहा है। इसको शेयर कर सोशल मीडिया यूज़र्स देश के प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कस रहे है और कह रहे है कि उनके कार्यकाल में बच्चों को फटे हुये कपड़े पहनकर स्कूल जाना पड़ रहा है। यह तस्वीर समाजवादी पार्टी के नेता आई.पी सिंह ने दावे के साथ ट्वीट की थी और उसी ट्वीट को शेयर किया जा रहा है। उस ट्वीट में उन्होंने लिखा है,“प्रधानमंत्री जी आप कैसा भारत गढ़ रहे हैं जहाँ तन ढकने को कपड़े तक नहीं हैं बच्चों के पास।“ 

वायरल हो रहो पोस्ट को शेयर कर यूज़र ने लिखा है,“शर्म करो प्रधान मंत्री जी।”

फेसबुक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस तस्वीर की जाँच करने के लिये हमने गूगल रिवर्स इमेज सर्च कर की। परिणाम में हमें यही तस्वीर Post Khmer नामक एक न्यूज़ वेबसाइट पर 3 अप्रैल 2015 को प्रकाशित की हुई मिली।  जिसे आप नीचे देख सकते है।

आर्काइव लिंक

इसमें दी गयी जानकारी में बताया गया है कि यह तस्वीर कंबोडिया के एक गांव के स्कूल की है। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि कंबोडिया की सरकार ने कक्षा 1यानी की पहली से 12वीं तक के सार्वजनिक सामान्य शिक्षा स्कूलों में गरीब छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने का निर्णय लिया है। पहले, बजट केवल माध्यमिक विद्यालय के छात्रों को दिया जाता था।

जाँच में आगे बढ़ते हुये हमने पाया कि CEKFAKTA नामक एक कंबोडियाई फैक्ट चेकिंग वेबसाइट पर भी इस तस्वीर के बारें में पूरी जानकारी दी गई है। उसमें भी यही बताया गया है कि यह तस्वीर कंबोडिया के एक गांव में पढाई के दौरान ली गयी थी और इसके ज़रिए कंबोडिया में शिक्षा के गिरते स्तर को दिखाने की कोशिश की गयी थी ।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत है। यह तस्वीर भारत के किसी स्कूल के छात्र की नहीं बल्की कंबोडिया की है। इसका प्रधानमंत्री मोदी से कोई संबंध नहीं है।

Avatar

Title:क्या फटी टी-शर्ट पहनकर स्कूल में बैठे बच्चे की तस्वीर भारत से है?

Fact Check By: Samiksha Khandelwal  

Result: False

Leave a Reply