क्या दिल्ली विधानसभा चुनावों में वोट खरीदने के लिए भाजपा सदस्य को गिरफ्तार किया गया था?

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर जिसमें एक अपराधी और कुछ पुलिसकर्मियों को उसे पकड़े हुये देखा जा सकता है को व्यापक रूप से प्रतिक्रियायें मिल रहीं है| इस तस्वीर के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में एक भाजपा कार्यकर्ता २ करोड़ रुपये कैश के साथ पकड़ा गया है | दिल्ली चुनाव से जोड़ इस तस्वीर को साझा करते हुए कहा जा रहा था की भाजपा कार्यकर्ता पैसे देकर वोट ख़रीदने की कोशिश कर रहे थे | तस्वीर में पुलिस के हाथों पर ज़ूम कर बरामद करेन्सी भी दिखाई गई है | तस्वीर के ऊपर ABP का लोगो भी देखा जा सकता है | 

इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर ९००० से ज्यादा बार शेयर किया गया है | तस्वीर के ऊपर लिखा गया है कि “भाजपा की वोट खरीदने की की कोशिश शुरू, २ करोड़ रुपये के साथ भाजपा कार्यकर्ता गिरफ्तार, लेकिन जनता भी चालक , भाजपा से नोट लेकर, झाड़ू को वोट डाल आयेगी |”

फेसबुक पोस्ट 

अनुसंधान से पता चलता है की…

जाँच की शुरुवात हमने इस तस्वीर का स्क्रीन्ग्राब लेकर गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की, जिसके परिणाम में हमें २० दिसम्बर २०१६ को इंडिया टुडे द्वारा प्रकाशित एक खबर मिली | इस खबर के शीर्षक में लिखा गया है कि “दिल्ली पुलिस ने पत्थर से पत्नी की हत्या करने के आरोप में आदमी को गिरफ्तार किया |” 

खबर के अनुसार पुलिस ने आरोपी आरिफ को उसकी २८ वर्षीय पत्नी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है, जो १७ दिसंबर को दिल्ली के ओल्ड मुस्तफाबाद में अपने निवास पर मृत पाई गई थी | गोकलपुरी पुलिस को १७ दिसंबर को एक कॉल आया जिसमें बताया गया कि खून से लथपथ शव घर में पड़ा था | 

आर्काइव लिंक 

इंडिया टुडे के रिपोर्ट में हम सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर को देख सकते है | इस तस्वीर में पुलिस के हाथों में एक फाइल है ना की पैसों का बंडल | इससे हम स्पष्ट हो सकते है की यह तस्वीर फोटोशोप के माध्यम से एडिट की गई है | फोटोशोप के माध्यम से ABP न्यूज़ का लोगो भी जोड़ा गया है ताकि यह खबर सच प्रतीत हो सके | नीचे आप दोनों तस्वीरों की तुलना देख सकते है |

दिल्ली विधानसभा से जुड़ी भाजपा सदस्यों के वोट खरीदते हुए पकड़े जाने के बारे में कोई भी प्रामाणिक खबर हमें नहीं मिली |

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर को फोटोशोप के माध्यम से एडिट कर साझा किया गया है | दिल्ली विधानसभा चुनावों के बीच भाजपा सदस्यों के वोट खरीदते हुए पकड़े जाने की खबर गलत है | तस्वीर में दिखाया गया आरोपी खुद की पत्नी के क़त्ल करने के आरोप में गिरफ्तार हुआ था |

Avatar

Title:क्या दिल्ली विधानसभा चुनावों में वोट खरीदने के लिए भाजपा सदस्य को गिरफ्तार किया गया था?

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply