दिल्ली चुनावों में भाजपा मात्र २ विधानसभाओं में लगभग २००० वोटों के अंतर से हारी है|

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

आम आदमी पार्टी ने मंगलवार ११ फरवरी २०२० को दिल्ली की ७० विधानसभा सीटों में से ६२ सीटों पर शानदार जीत के साथ सत्ता बरकरार रखी |

अब, एक मैसेज सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा किया जा रहा है, इस मैसेज के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि भाजपा दिल्ली विधानसभा चुनाव बहुत कम वोटों हार गई, मैसेज के अनुसार लगभग १०० वोट से लेके २००० वोटों के अंतर के चलते BJP ३६ सीटें हार गयीं।

इस मैसेज के विवरण के अनुसार दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी ८ सीटों पर १०० से कम वोटों से चुनाव हार गई है | १९ सीटों पर १००० वोट, ९ सीटों पर २००० वोट | जबकि जीती गई सीटों में इन हारी हुई सीटें जोड़ें तो ८ और ३६ यह ४४ सीटों पर आता है, वाईरल पोस्ट के अनुसार अगर दिल्ली में ३ प्रतिशत अधिक मतदान होता तो पूरा खेल बदल सकता था |

फेसबुक पोस्ट

कानपुर से भाजपा सांसद सत्यदेव पचौरी ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से उपरोक्त वायरल संदेश को साझा किया है | लेकिन आंकड़ों के वायरल होने के बाद उन्होंने अपने ट्वीट को डिलीट कर दिया था |

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने कीवर्ड्स की मदद से हमने भारतीय चुनाव आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर (चुनाव क्षेत्र वाइज) सोशल मीडिया द्वारा किये गये दावों को ढूँढा जिसके परिणाम से हमने पाया कि आम आदमी पार्टी (AAP) के उम्मीदवार भूपिंदर सिंह जून ने सबसे कम मार्जिन वाली जीत हासिल की | भूपिंदर सिंह जून ने सिर्फ ७५३ मतों के कम मार्जिन के साथ ५७२७१ मत हासिल कर अपनी पार्टी के लिए सीट जीती है | भूपिंदर उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी बीजेपी उम्मीदवार सत प्रकाश राणा को हराया, जिन्होंने ५६५१८ वोट हासिल किए | भाजपा के राज कुमार भाटिया आदर्श नगर निर्वाचन क्षेत्र से १५०० से अधिक मतों (१५८९) के अंतर से हार गए |

बीजेपी के अभय वर्मा द्वारा लक्ष्मी नगर निर्वाचन क्षेत्र में दूसरा सबसे कम अंतर दर्ज किया गया, जिन्होंने ८८० वोटों के अंतर से जीत हासिल की |

निष्कर्ष: तथ्यों के जांचे के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | भाजपा २००० से कम वोटों के अंतर से केवल दो निर्वाचन क्षेत्रों में हारी है, वायरल मैसेज में दिये गये आंकड़े गलत है |

Avatar

Title:दिल्ली चुनावों में भाजपा मात्र २ विधानसभाओं में लगभग २००० वोटों के अंतर से हारी है|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •