पश्चिम बंगाल में स्थापित नरसिंह भगवान की प्रतिमा को जर्मनी के नाम से वाईरल किया जा रहा है |

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ नवंबर २०१९ को “कनक मिश्र” नामक फेसबुक यूजर ने एक तस्वीर पोस्ट की थी, जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “जर्मनी में भगवान नरसिंह की ३२००० साल पुरानी मूर्ति |” तस्वीर भगवान नरसिंह की है जिसको सोशल मीडिया पर फैलाते हुए दावा किया जा रहा है कि यह मूर्ति ३२००० साल पुरानी है और जर्मनी से है | 

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

जाँच की शुरुआत हमने इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लेकर यांडेक्स रिवर्स इमेज सर्च करने से किया, जिसके परिणाम से हमें पिन्टेरेस्ट पर यह तस्वीर मिली जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि यह मूर्ति पश्चिम बंगाल के मायापुर से है | 

इसके पश्चात हमने गूगल पर “नरसिंह मूती मायापुर” सर्च किया जिसके परिणाम से हमें इस्कोन के आधिकारक यूट्यूब चैनल द्वारा प्रकाशित खबर मिली | ११ अगस्त २०१४ को प्रसारित इस के शीर्षक में लिखा गया है कि “भगवान नरसिंह का अभिषेक मायापुर के इस्कोन में” | इस वीडियो में हम तस्वीर में दिखाई गयी मूर्ति का अभिषेक देख सकते है | 

इसके पश्चात हमें यह तस्वीर मायापुर के वेबसाइट पर भी उपलब्ध मिली, जो इस बात को स्पष्ट करती है कि यह तस्वीर मायापुर के इस्कोन से है | वेबसाइट पर प्रकाशित लेख में भी भगवान नरसिंह की वही मूर्ति नजर आ रही है |

आर्काइव लिंक 

हरेकृष्णा.कॉम नामक एक वेबसाइट पर प्रकाशित लेख में इस तस्वीर को इस्तेमाल किया गया है | इस लेख में तस्वीर के नीचे लिखा गया है कि “श्रीधाम मायापुर में भगवान नरसिंहदेव का अभिषेक, फोटोग्राफर- वृदावन लीला देवी दास |”

आर्काइव लिंक 

इसके पश्चात हमने इस्कोन मायापुर के सेवक दारू ब्रह्मदास से संपर्क किया जिन्होंने हमसे इस बात की पुष्टि की कि यह मूर्ति मायापुर के इस्कोन के मंदिर से है और इस मूर्ति का जर्मनी से कोई संबंध नही है | 

इसके आलावा हमने मायापुर में इस्कोन के मीडिया मैनेजर, रशिब गौरंगोदास से बात की जिन्होंने इस तस्वीर को देखने के बाद इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि “यह मूर्ति मायापुर के इस्कोन मंदिर की ही है और इस मूर्ति का जर्मनी से कोई भी संबंध नही है उपरोक्त वीडियो में देखे जाने वालें पुरोहित से में स्वयं मिल चूका हूँ |”

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | यह नरसिंह भगवान की प्रतिमा जर्मनी से नही है बल्कि पश्चिम बंगाल के मायापुर के इस्कोन की है | 

स्टोरी पब्लिश होने के पश्चात इस्कोन मायापुर द्वारा हमें इस तस्वीर के बारे में उनके आधिकारिक ईमेल द्वारा ये स्पष्ट किया गया कि “सोशल मीडिया पर वायरल यह तस्वीर इस्कॉन मायापुर के नृसिंह देवता की है, जो लगभग ५० साल पुरानी है | जर्मनी इस्कॉन में नृसिंह देवता की मूर्ति हैं लेकिन वह इतनी पुरानी नहीं है।”

Avatar

Title:पश्चिम बंगाल में स्थापित नरसिंह भगवान की प्रतिमा को जर्मनी के नाम से वाईरल किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply