यह वीडियो पाकिस्तान में हिंदू महिला के अपहरण का नहीं; ये तो पती-पत्नी का झगड़ा था

Communal False

ये एक पती-पत्नी के बीच हो रहे घरेलु झगड़े का वीडियो है। दोनो भी एक ही समुदाय से है।

पाकिस्तान में रहने वाले हिंदुओं के नाम पर एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान में कुछ लोग हिंदू महिला का अपहरण कर उसे ले गए।

वायरल पोस्ट के साथ लिखा हुआ है, “कश्मीर में मानवाधिकार की दुहाई देने वाले पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय पर हमले लगातार जारी हैं। इसी क्रम में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय की महिला को लेकर एक दहला देने वाला वीडियो सामने आया है। वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग सरेआम एक हिंदू महिला का अपहरण कर लिया। महिला मदद के लिए चिल्लाती रही, लेकिन भीड़ केवल तमाशबीन बनी रही और आरोपित उसे कार में डालकर ले गए।

फेसबुक

इस घटना का वीडियो भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने शेयर किया है। उन्होंने कहा कि यह घटना पाकिस्तान के सिंध प्रांत की है। सिरसा ने ट्वीट किया, “नि:शब्द! देखिए कैसे दिन के उजाले में पाकिस्तान के उमरकोट के सेशन कोर्ट के बाहर से एक हिंदू महिला का अपहरण किया जाता है। वह मदद के लिए चिल्ला रही है, लेकिन उन्हें पुलिस या किसी कार्रवाई डर नहीं है और वे महिला को बालों से खींचकर कार में डाल रहे हैं।” ट्वीट में सिरसा ने भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को टैग कर उनका ध्यानाकर्षित करने की कोशिश की है।“

आर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने इस दावे में दी गई जानकारी को लेकर फेसबुक पर कीवर्ड सर्च किया। हमें यही वीडियो बोल दुनिया टीवी नामक एक पेज पर प्रसारित किया हुआ मिला। 

आर्काइव लिंक

उसके मुताबिक 20 दिसंबर को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के उमरकोट में एक महिला को बालों से घसीटते ले जा रहे एक शख्स का वीडियो वायरल हुआ था। जो शख्स महिला को घसीटकर ले जा रहा था वह उसका पती था। 

वह महिला उमरकोट के कोर्ट में उनके तलाक की अर्जी दाखिल करने गई थी। तभी उसके परिवार वालों ने उसे अगवा करने की कोशिश की। वह महिला व उसका पती दोनों ही भील समुदाय से है। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने उस महिला के पति समेत सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उनमें से एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस घटना का हिंदू- मुस्लिम या सांप्रदायिकता से कोई संबन्ध नहीं।

फिर आगे की जाँच करने पर हमें पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के सदस्य लाल चांद माल्ही के वैरिफाइड ट्वीटर हैंडल पर 23 दिसंबर 2021 को किया हुआ एक ट्वीट मिला। उसमें उन्होंने बताया कि इस वीडियो में दिख रही घटना उनके होमटाउन उमरकोट की है। यह एक पारिवारिक विवाद है। वह महिला तलाक चाहती थी। इसमें दिख रहा आरोपी मुस्लिम नहीं है बल्की भील समुदाय से है। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तारियाँ कर ली गई है।

आर्काइव लिंक

21 दिसंबर 2021 को प्रकाशित डॉन के समाचार लेख के मुताबिक इस घटना में पीड़िता का नाम तेजन भील है और उसके पती का नाम हरचंद भील है। पीड़िता ने ‘डॉन’ के संवाददाता को बताया कि वह कोर्ट में तलाक की सुनवाई के बाद वहाँ से लौट रही थी, तब उसके साथ यह घटना घटी। उसने शोर मचाया इसलिए वे लोग उसे अगवा करने में कामयाब नहीं हुए।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। पती-पत्नी के बीच घरेलु झगड़े से हुई वारदात का यह वीडियो है। इसमें मुस्लिम लोगों द्वारा हिंदू महिला का अपहरण नहीं हुआ था।

Avatar

Title:यह वीडियो पाकिस्तान में हिंदू महिला के अपहरण का नहीं; ये तो पती-पत्नी का झगड़ा था

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply