सुप्रीम कोर्ट के वकील ऍड. भानू प्रताप सिंह के भाषण के वीडियो को हिमालया कंपनी के मालिक का बता वायरल किया जा रहा है।

Communal False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंटरनेट पर अकसर हिमालया कंपनी के मालिक को लेकर कई वीडियो व दावे वायरल होते रहते है। फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसे कई गलत दावों का अनुसंधान कर उनकी प्रमाणिता आप तक पहुंचाई है। इन दिनों ऐसा ही एक वीडियो इंटरनेट पर काफी तेज़ी से वायरल हो रहा है, उस वीडियो में आप एक शख्स को भाषण देते हुये सुन सकते है व आप उन्हें आर.एस.एस, जियो, रिलायन्स व रामदेव बाबा के खिलाफ प्रचार करते हुये सुन सकते है। इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालया कंपनी के मालिक है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

ये मुल्ला हिमालया कंपनी का मालिक है , वक्त है इसके भाषण को सुनिए विचार कीजिए और सतर्क हो जाइए , आयुर्वेदिक मेडिसिन से ब्यूटि प्रॉडक्ट्स बनाता है लिव52 सिरप से लेकर हिमालया नीम, तुलसी और हैंड सैनिटाइज़र तक, सभी ग्रूप में डालिए और ख़रीदना बंद कीजिए खुद व खुद घुटने पर आ जाएगा बहुतो ऑप्शनस है।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे व्यक्ति हिमालया कंपनी के मालिक नहीं अपितु सुप्रीमकोर्ट के वकील व राष्ट्रीय जनहित संघर्ष पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऍड. भानू प्रताप सिंह है जो सी.ए.ए व एन.आर.सी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे वीडियो को ध्यान से देख कर की, परिणाम में वीडियो में ऊपर की ओर दाहिनी तरफ टाइम्स एक्सप्रेस वॉइस ऑफ डेमोक्रेसी लिखा हुआ दिखा। इसको ध्यान में रखकर हमने फेसबुक पर कीवर्ड सर्च किया, नतीजतन हमें टाइम्स एक्सप्रेस द्वारा प्रसारित किये गये कई वीडियो मिले। हमें ऐसे भी कई वीडियो मिले जनमें वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे ये शख्स मौजूद थे। उन वीडियो के नीचे दी गयी जानकारी से हमें पता चला कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम ऍड. भानू प्रताप सिंह है।

इस बात को ध्यान में रखकर हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया तो हमें वायरल हो रहा यही वीडियो टाइम्स एक्सप्रेस के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 25 जनवरी 2020 को प्रसारित किया हुआ मिला। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “हिंदुस्तानी कहना बंद करो – भानु प्रताप सिंह! CAA पर मुसलमानों के बीच मचाया तहलका,“ व इस वीडियो के नीचे दी गयी जानकारी में लिखा है,“देश के जाने-माने वकील भानु प्रताप सिंह ने CAA पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद दिल्ली के मुस्तफाबाद में धरने पर बैठे जनता को संबोधित करते हुए जो कुछ कहा अभी देखें पूरा वीडियो।“

आर्काइव लिंक

इससे हमें यह पता चलता है कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम भानु प्रताप सिंह है। तदनंतर हमने गूगल पर अधिक कीवर्ड सर्च कर ये जानने की कोशिश की कि भानु प्रताप सिंह कौन है।

जाँच के दौरान हमें ऍड. भानु प्रताप सिंह का ट्वीटर हैंडल मिला जिस पर दी गयी जानकारी के मुताबिक, वे सुप्रीम कोर्ट के एक वकील है व राष्ट्रीय जनहित संघर्ष पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष है।

इसके बाद हमने हिमालया कंपनी के मालिक के बारे में जानने की कोशिश की, हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया व हमें हिमालया कंपनी की आधिकारिक वैबसाइट पर उनकी जानकारी मिली। हिमालया कंपनी के मालिक का नाम मोहम्मद मनाल है, वे कंपनी के चेयरमैन भी है। कंपनी की वैबसाइट पर उनकी तस्वीर भी प्रकाशित की गयी है, जिसको देखकर ये स्पष्ट होता है कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे भानु प्रताप सिंह व हिमालया कंपनी के मालिक मोहम्मद मनाल दोनों अलग शख्स है।

नीचे दी गयी तुलनात्मक विश्लेषण में आप दोनों की तस्वीरें देख सकते है व दोनों में अंतर भी देख सकते है। 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे शख्स हिमालया कंपनी के मालिक नहीं बल्की सुप्रीम कोर्ट के वकील व राष्ट्रीय जनहित संघर्ष पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऍड. भानू प्रताप सिंह है जो सी.ए.ए व एन.आर.सी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. ज़ी न्यूज़ द्वारा २०१७ म्यांमार सामूहिक हत्याओं पर की गई एक पुरानी रिपोर्ट को पश्चिम बंगाल में रोहिंग्या मुसलमानों द्वारा हिन्दुओं की हत्याओं का बता फैलाया जा रहा है|

२. क्या मेनका गांधी और वरुण गांधी को कैबिनेट मंत्रालय न मिलने पर वे भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुये? जानिये सच…

३. नाटक में अभिनय के अंतर्गत एक लड़की द्वारा दुकानदार के साथ की गयी बद्तमीजी के वीडियो को CCTV फुटेज का बताया जा रहा है।

Avatar

Title:सुप्रीम कोर्ट के वकील ऍड. भानू प्रताप सिंह के भाषण के वीडियो को हिमालया कंपनी के मालिक का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply