क्या यूनेस्को ने इस्लाम को दुनिया का सबसे शांतिपूर्ण धर्म घोषित किया है?

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२८ जून २०१९ को मुस्लिम बरिअल नाटिंघम नामक एक फेसबुक पेज पर एक तस्वीर पोस्ट की गई है | तस्वीर के शीर्षक में लिखा है कि “यूनेस्को ने इस्लाम को एक शांतिपूर्ण धर्म घोषित किया |”  इस तस्वीर में हम एक सर्टिफिकेट देख सकते है जिसमे लिखा गया है कि यूनेस्को द्वारा इस्लाम को दुनिया का सबसे शांतिपूर्ण धर्म घोषित किया गया है | इस सर्टिफिकेट में यह भी देखा जा सकता है कि यूनेस्को ने यह घोषणा ४ जुलाई २०१६ को की थी | इस सर्टिफिकेट पर हम यूनेस्को और इंटरनेशनल पीस फाउंडेशन का आधिकारिक प्रतिक चिन्ह भी छपा देखा जा सकता है | इस तस्वीर को २०१६ से साझा किया जा रहा है | चूँकि, आज ही ४ जुलाई है, यह तस्वीर वापस से वायरल की गई है | इसके माध्यम से दावा किया जा रहा है कि वायरल तस्वीर यूनेस्को द्वारा एक आधिकारिक तरीके से इस्लाम को शांतिपूर्ण धर्म घोषित किये जाने की है |

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

क्या वास्तव में यूनेस्को ने इस्लाम को दुनिया का सबसे शांतिपूर्ण धर्म घोषित किया है | हमने इस तस्वीर की सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है कि..

जांच की शुरुआत हमने गूगल पर इस दावें को ढूँढने से की | “इस्लाम पीस रिलिजन यूनेस्को” जैसे की वर्ड्स का इस्तेमाल करने के बाद हमें यूनेस्को के आधिकारिक वेबसाइट का लिंक मिला | इस लिंक पर हमें यूनेस्को द्वारा जारी स्पष्टीकरण मिला | यह स्पष्टीकरण वायरल तस्वीर के संदर्भ में ११ जुलाई २०१६ को प्रकाशित किया गया है | इसके शीर्षक में लिखा गया है कि “यूनेस्को फर्जी बयान की निंदा करता है” | साथ ही विवरण में लिखा गया है कि “इस तस्वीर को ‘ जून्ता का रिपोर्टर’ नामक एक वेबसाइट ने सबसे पहले वायरल किया था | यूनेस्को के संगठन द्वारा ऐसा बयान कभी नहीं दिया गया था और इस वेबसाइट पर प्रस्तुत किया गया प्रमाण पत्र फर्जी है | इस जानकारी को प्रकाशित करने वाली वेबसाइट एक व्यंग्यात्मक मीडिया है | यूनेस्को का कभी भी “इंटरनेशनल पीस फाउंडेशन” के रूप में संदर्भित इकाई के साथ कोई आधिकारिक संबंध नहीं है, न ही यूनेस्को ने कभी इस तरह के बयान का समर्थन किया है या इस तरह का कोई डिप्लोमा प्रदान किया है | यूनेस्को सभी परंपराओं और विश्वासों के लिए समान आधार पर सम्मान को बढ़ावा देता है, हमेशा संबंधों को मजबूत करने के लिए हमेशा प्रयास करता है |” 

यूनेस्को स्पष्टीकरण | आर्काइव लिंक 

निष्कर्ष: तथ्यों के जांच के पश्चात हमने उपरोक्त तस्वीर को गलत पाया है | यूनेस्को द्वारा जारी स्पष्टीकरण से हम स्पष्ट हो सकते है कि वायरल प्रमाण पत्र और दावा गलत है | यूनेस्को ने ऐसी कोई घोषणा नही की है |

Avatar

Title:क्या यूनेस्को ने इस्लाम को दुनिया का सबसे शांतिपूर्ण धर्म घोषित किया है?

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply