ओवैसी की पार्टी का निशान “पतंग” है व वे इस वीडियो में अपने भाषण समाप्ति के पश्चात् पतंग उड़ाने की नक़ल करते दिख रहे हैं|

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Photo- India Today

२० अक्टूबर २०१९ को “दीपक शर्मा” नामक फेसबुक यूजर ने एक वीडियो पोस्ट किया, जिसके शीर्षक में लिखा गया है कि “चोरों और आतंकियो की मौत का मातम मनाने वाला ओवैसी #कमलेश_तिवारी के बलिदान के बाद झूम कर नाचा | ऐसे लगा कि जैसे इसका कोई मिशन सफ़ल हुआ हो. इसका बाहर रहना न जाने और कितने #KamleshTiwari की हत्या की वजह बनेगा |”

वीडियो में आल इंडिया मजलिस-इ-लत्तेहादुल मुस्लिमीन (ए.आई.एम.आई.एम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी को नाचते हुए देख सकते है | वीडियो में, सुदर्शन न्यूज के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक और प्रधान संपादक सुरेश चव्हाणके को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि कमलेश तिवारी की हत्या की खबर के बाद ओवैसी इस तरह से नाच रहे थे | कमलेश तिवारी, जिन्होंने हिंदू समाज पार्टी का नेतृत्व किया था, १८ अक्टूबर २०१९ को उत्तर प्रदेश की राजधानी में नाका हिंडोला क्षेत्र में अपने घर पर मारे गए थे |

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि ए.आई.एम.आई.एम  के अध्यक्ष ओवैसी कमलेश तिवारी के हत्या के खबर सुनके नाच रहे है | फैक्ट चेक किये जाने तक यह पोस्ट ८४०० प्रतिक्रियाएं प्राप्त कर चुका था |

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुआत हमने इस वीडियो को गूगल पर “ओवैसी डांसिंग” इन कीवर्ड्स का इस्तेमाल करते हुए ढूँढा, परिणाम से हमें १९ अक्टूबर २०१९ को  ANI द्वारा प्रकाशित खबर मिली | खबर में लिखा गया है कि “AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार को औरंगाबाद में एक अभियान रैली के दौरान एक डांस स्टेप परफॉर्म किया था | औरंगाबाद में पैठण गेट पर एक रैली को संबोधित करने के बाद ओवैसी के मंच से उतरने के बाद चुनाव प्रचार का अनोखा तरीका देखा गया |” 

आर्काइव लिंक 

इस वीडियो को ANI के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट द्वारा १८ अक्टूबर को ट्वीट किया गया था | ट्वीट में लिखा गया है कि “महाराष्ट्र: AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने औरंगाबाद में पैठण गेट पर अपनी रैली की समाप्ति के बाद एक डांस स्टेप किया | (१७-१०-२०१९)” | ट्वीट किए गए वीडियो में ओवैसी को ‘मियां भाई हैदराबादी’ गाने पर ‘नाचते’ दिखाया गया है |

आर्काइव लिंक 

एएनआई के ट्वीट के अनुसार, ओवैसी ने गुरुवार, १७ अक्टूबर, २०१९  को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पैथन गेट पर एक अभियान रैली के दौरान ‘डांस’ किया था | कमलेश तिवारी की हत्या १८  अक्टूबर, २०१९ को करी गई थी | जाहिर है, ओवैसी का ये डांस स्टेप कमलेश तिवारी की हत्या से पहले का है और इसका तिवारी की हत्या से कोई सम्बन्ध नहीं है |

१७ अक्टूबर २०१९ को ओवैसी के औरंगाबाद के दौरे के बारें में प्रकाशित ख़बरों को आप नीचे पढ़ सकते है |

दैनिक भास्कर आर्काइव लिंक
जागरण आर्काइव लिंक
अमर उजाला आर्काइव लिंक

ओवैसी ने उनके वायरल ‘डांस’ वीडियो को  स्पष्ट करते हुए कहा कि वह सिर्फ पतंग उड़ाने का नकल कर  रहे हैं क्योंकि ‘पतंग’ उनकी पार्टी का चुनावी प्रतीक है | उन्होंने कहा कि “मैं अपनी पार्टी के सिंबल पतंग को खींच रहा हूँ, किसी से उस विडिओ पर कोई गाना लगा दिया जो कि गलत है, हम ऐसी बातों पर ज्यादा ध्यान नही देते” |

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | असदुद्दीन ओवैसी का यह वीडियो कमलेश तिवारी की हत्या से एक दिन पहले का है| इस  क्लिप को १८ अक्टूबर को एएनआई द्वारा अपलोड किया गया था और समाचार एजेंसी ने स्पष्ट रूप से उल्लेख किया है कि इसे १७ अक्टूबर को शूट किया गया था |

इसी कहानी का वीडियो फैक्ट चेक हमारे यूट्यूब चैनल पर देख सकते है | 

Avatar

Title:ओवैसी की पार्टी का निशान “पतंग” है व वे इस वीडियो में अपने भाषण समाप्ति के पश्चात् पतंग उड़ाने की नक़ल करते दिख रहे हैं|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply