केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा दिये गए बयान को भ्रामक तरीके से गलत अनुवाद के साथ फैलाया जा रहा है |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

PictureCourtesy : Wikipedia

२० अक्टूबर २०१९ को फेसबुक पर ‘Sonu Gupta द्वारा की गई एक पोस्ट में एक तस्वीर साझा की गयी है, जिसमे एक तस्वीर है और विवरण में लिखा है कि, “केंद्रीयमंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा- ठेका नहीं ले रखा हमने युवाओं को ‘नौकरी’ देने का |” इस पोस्ट में यह दावा किया जा रहा है कि – ‘केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बेरोज़गारी पर दिया विवादित बयान |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले इस बारे में गूगल पर केंद्रीयमंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा- ठेका नहीं ले रखा हमने युवाओं को ‘नौकरी’ देने का’ कीवर्ड्स से ढूंढा, तो हमें ANIBCC द्वारा इस से सम्बंधित ख़बरें मिली | 

इन ख़बरों के मुताबिक, १२ अक्टूबर २०१९ को मुंबई में एक प्रेस कांफेरेन्स में केंद्रीयमंत्री रविशंकर प्रसाद ने ‘बेरोज़गारी’ के मुद्दे पर कहा कि, देखिये, मैं आपको कुछ आकड़े देना चाहता हूँ | क्योंकि आपने ‘unemployment’ की बात कही है, तो मैं जरूर आपके इस प्रश्न का उत्तर देना चाहूँगा | ये Employee Provident Fund Organisation है ना ? Employee Provident Fund उसी का कटता है, जो employment मे रहता है | September 2017 से June 2019 के बीच 2.54 करोड़ people registered हुए हैं | मतलब ये employed हैं | हमने 19 करोड़ लोगों को ‘मुद्रा योजना’ में 7.5 लाख करोड़ लोन दिया है | इसमें 19 करोड़ का आधा कर दीजिये, आधा लोगों ने भी किसी एक को नौकरी दिया, स्वयं को स्वरोजगार किया, तो कितने करोड़ को नौकरी मिली ? मैं देश का ‘Electronic’ मंत्री भी हूँ | जब मेरी सरकार आई थी, तो देश में सिर्फ़ 2 Mobile Factory थे, सिर्फ़ 2 | अब देश में 268 Mobile Factory है और भारत दुनिया की 2nd सबसे biggest Mobile Manufacturing Country बन गया है | 6 लाख लोग प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष काम करते है | मैं उस report को गलत कहता हूँ और पूरी जिम्मेवारी के साथ NSSO ने जो मैंने इतने आकड़े बताये, उसको उसमें रखा है ? मैंने आपको 10 number बताये, सब प्रमाणिक नंबर है | एक नहीं है उनके रिपोर्ट में | क्यों नहीं है ? Electronic Manufacturing में, IT क्षेत्र में, मुद्रा लोन में, Common Service Centres में ? हमने कभी नहीं कहा था, सबको ‘सरकारी नौकरी’ देंगे और वो भी नहीं कहते हैं | इसलिए, कुछ लोगों ने योजना बत्तरीके से उसे mislead करने की कोशिश की थी | And I am saying so with full sense of responsibility. में दिल्ली में भी बोल चुका हूँ |”

इस बयान में रविशंकर ‘बेरोज़गारी’ के बारे में ‘NSSO’ द्वारा दी गयी रिपोर्ट पर बयान दे रहे थे | उन्होंने तब यह कहा कि हर एक बेरोजगार युवक को सरकारी नौकरी ही मिलेगी, इस बात का वादा उनकी सरकार ने नहीं किया था | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

ANInewsPost | ArchivedLinkBBCPost | ArchivedLink

इस अनुसंधान से यह बात स्पष्ट होती है कि उपरोक्त पोस्ट में साझा दावा गलत विवरण के साथ लोगों को भ्रमित करने के उद्देश्य से फैलाया जा रहा | वास्तव में दिए गए बयान में ऐसा कुछ नहीं कहा गया था, और न ही पूरे वीडियो में कहीं भी उन्होंने उपरोक्त दावे अनुसार –केंद्रीयमंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा- ठेका नहीं ले रखा हमने युवाओं को ‘नौकरी’ देने का |” नहीं कहा |

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा “केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बेरोज़गारी पर दिया विवादित बयान |” ग़लत है |

Avatar

Title:केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा दिये गए बयान को भ्रामक तरीके से गलत अनुवाद के साथ फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •