ये वीडियो नेपाल विमान दुर्घटना में 72 पीड़ितों की शव नहीं दिखाता हैं।

False International

वायरल वीडियो पोखरा प्लेन क्रैश का नहीं है । ये वीडियो 2022 में इंडोनेशिया में हुए एक धार्मिक अनुष्ठान शो का है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में हम देख सकते है कि किस तरह फर्श पर लाशों का अंबार दिखाई दे रहा। स्त्री और पुरूषों के शव दिखाई भी दे रहे है। इस वीडियो के साथ ये दावा है की ये हाल ही में नेपाल हादसे में मारे गए मृतकों के शव है । 

वायरल हो रहे पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि “नेपाल विमान हादसे में 72 लोगों की मौत अल्लाह के सिवा कोई नहीं बता सकता कि वे कहां मरे ।”

ट्विटर पोस्टआर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे वीडियो को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से की, जिसके परिणाम में हमें इस वीडियो से संबंधित न्यूज़ रिपोर्ट मिले। 1 नवंबर 2022 में प्रकाशित पोटेंसि बांडुंग डॉट कॉम के अनुसार ये वीडियो इंडोनेशिया के बाली सिटी की एक जगह तबानन की है। जहाँ पर कालोनारंग कला का प्रदर्शन किया गया था। ये प्रदर्शन बाली सांस्कृतिक कलाओं को पेश करने का एक तरीका है जो अक्सर आयोजित किया जाता है। इस कैलोनारंग प्रदर्शन में 108 लोगो ने हिस्सा लिया था जिन्हे वतनगन के नाम से जाना जाता है। तबानन शहर स्थित मारियो बिल्डिंग में मंडला सुसी फाउंडेशन द्वारा किये गए इस आयोजन में 6-60 वर्ष की आयु के पुरुष और महिलाएं शामिल थीं। जिनके प्रदर्शन ने मूरी रिकॉर्ड तोड़ने में कामयाबी हासिल की। इस प्रथा के चलते 108 लोगों के मृत होने का सिर्फ नाटक किया था। इस कार्यक्रम से संबंधित आप दुसरे रिपोर्ट यहाँ, यहाँ और यहाँ पढ़ सकते है।

कैलोनारंग प्रदर्शन में लाशों की भूमिका निभाने वाले लोगों के साथ ऐसा व्यवहार किया जाता है जैसे वे मर गए हों और मृतकों की तरह मंच पर पेश किये गए हो। 108 वतंगन, मतलब ​​​​लाशों की भूमिका निभाने वाले शानदार कैलोनारंग को “काटुंडुंग रत्न मंगगली” का शीर्षक दिया गया था। 31 अक्टूबर, 2022 को आयोजित इस प्रदर्शन के बारे में हमने यूट्यूब पर बाली एक्सप्रेस द्वारा प्रसारित पुरे कार्यक्रम का वीडियो मिला| ये वीडियो १ घंटा ४५ मिनट का है। इस वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है की “१०८ वातंगन, आई केटुट मारिया आर्ट बिल्डिंग में कैलोनारंग कटुंडुंग रत्न मंगली का प्रदर्शन।” इस वीडियो में आप 108 लोगों को चलके ज़मीन पर लेटते हुए देख सकते है। इससे हम स्पष्ट हो सकते है कि ये केवल एक नाटक का हिस्सा है।

निष्कर्ष-

तथ्यों की जाँच में हमने वायरल वीडियो के साथ किये गये दावे को गलत पाया है। वायरल वीडियो हाल के नेपाल हवाई हादसे से सम्बंधित नहीं है । ये वीडियो असल में अक्टूबर 2022 की है जब इंडोनेशिया के तबानन में एक कल्चरल शो आयोजन हुआ था और उसमे मृत लोगों की भूमिका निभाई गयी थी। 

Avatar

Title:ये वीडियो नेपाल विमान दुर्घटना में 72 पीड़ितों की शव नहीं दिखाता हैं।

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply