क्या ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम थी ? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१६ मई २०१९ को फेसबुक पर ‘Nation with Modi’ नामक एक यूजर द्वारा एक पोस्ट साझा किया गया है | पोस्ट में दिए चित्र मे ज्योति बासु उनका स्वागत कर रहें हैं और ममता बनर्जी उनका अभिवादन कर रहीं है | पोस्ट का विवरण इस प्रकार है – Born to a Muslim mother, Mamta actually practices her mother’s religion Islam which is evident from this picture where she greets Basu with an aadab. Her Master’s degree too was in Islamic History. My question is, why such leaders deceit the Hindus by adopting Hindu names?

सरल हिंदी में अनुवाद – मुस्लिम माँ की बेटी ममता वास्तव में अपनी माँ के धर्म इस्लाम का पालन करती हैं, जो इस तस्वीर से स्पष्ट होता है कि वह बसु को आदाब के साथ अभिवादन कर रही है | उनकी मास्टर डिग्री भी इस्लामी इतिहास में थी | मेरा सवाल यह है कि ऐसे नेता हिंदू नामों को अपनाकर हिंदुओं को धोखा क्यों देते हैं ?

इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम थी और ममता बनर्जी इस्लाम धर्म का पालन करती है | क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:  

ARCHIVED LINK

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले उपरोक्त पोस्ट मे दी गयी तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज मे ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

Indiatimes के फोटो गैलरी मे हमें यह तस्वीर मिली |

इस चित्र के नीचे लिखा है कि, ममता बनर्जी ज्योति बासु का अभिवादन कर रहीं है और बदले मे ज्योति बासु उनको नमस्कार कर रहें हैं | यह मुलाकात १ जुलाई १९९१ मे कोलकाता के ‘writer’s building’ में हुई थी |

Photogallery.IndiatimesPost | Archived Link

इसके बाद हमने ममता बनर्जी के बारे मे विकिपीडिया मे ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

विकिपीडिया के इस वेबसाइट के मुताबिक ममता बनर्जी के पिता का नाम प्रोमिलेश्वर बनर्जी और माँ का नाम गायत्री देवी है | उपरोक्त दावे के अनुसार अगर उनकी माँ का मुस्लिम धर्म है तो फिर हिंदू नाम कैसे, तो इस बात की पुष्टि करने के लिए हमने उनकी माँ के बारे मे गूगल मे ‘mamata banerjee’s mother’ की वर्ड्स से ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

‘news18’ द्वारा दी गयी इस ख़बर मे ममता बनर्जी की माँ के १७ डिसेंबर २०११ के दिन देहांत के बारे मे लिखा है |

जब हमने गूगल मे ‘mamata banerjee’s mother dies’ की वर्ड्स से ढूंढा तो हमें NDTV द्वारा भी दी गयी ख़बर मिली |

इस ख़बर के मुताबिक, ममता बनर्जी ने एक बार कहा था कि उनकी माँ उन्हें रोज़ के जेबखर्च के लिए १० रुपये देती थी और दिल्ली जाने के लिए १०० रुपये देतीं थी | ममता इन पैसों को खर्च नहीं करती थी और बाद मे उन पैसों को वें माँ काली की वार्षिक पूजा मे खर्च करती थी |

पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए लिंक् पर क्लिक करें |

NDTV Post | Archived Link

इस ख़बर के मुताबिक एक बात साफ़ पता चलती है कि ममता बनर्जी पूजा पाठ में विश्वास रखतीं हैं | यह भी साफ़ होता है की उन्हें काली माँ के प्रति गहरी श्रद्धा है |

फिर हमने गूगल मे  ‘mamata banerjee Islam’ की वर्ड्स से ढूँढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

‘HindustanTimes’ द्वारा दी गयी १८ मई २०१९ की इस ख़बर मे लिखा है कि ममता बनर्जी अपने चुनाव के दौरे में देवी चंडीपाठ का जप और इस्लाम के शहादा का पाठ किया |

HindustantimesPost | Archived Link

‘शुतपा पॉल’ नामक एक लेखिका ने ममता बनर्जी पर एक किताब लिखी है | हमने इस लेखिका के संपर्क साधा और पुछा कि उनके द्वारा लिखे ममता बनर्जी पर किताब के लिए जब वे संशोधन कर रहीं थी, तब उनके इस्लाम से जुड़े कोई भी संबंध मिले या नहीं | इस पर उन्होंने जो जबाब दिया वे आप नीचे देख सकतें हैं |

सरल हिंदी मे अनुवाद : “मेरे शोध से ऐसी कोई जानकारी सामने नहीं आई, जिससे पता चले कि ममता बनर्जी मुस्लिम हैं | हालांकि, ममता द्वारा आयोजित वार्षिक काली पूजा काफ़ी जाना-माना उत्सव है | यह काली पूजा कई वर्षों से बनर्जी घराने में आयोजित की जाती है | वर्तमान में, यह वार्षिक उत्सव में से एक है जो ममता अपनी व्यक्तिगत क्षमता में रखती है और इसमें विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित लोग शामिल होते हैं | ममता श्लोकों का उच्चारण करने में भी सिद्धहस्त हैं और अक्सर उन्होंने अपनी रैलियों में चंडीपाठ का जाप किया है | मैंने उनके स्कूल, विभिन्न कॉलेजों का भी दौरा किया है और उनके कुछ शिक्षकों से बात की है | उनमें से किसी ने भी उनके मुस्लिम होने का जिक्र नहीं किया | यह भी समर्थन करने के लिए समाचार उपलब्ध हैं कि हिंदू संस्कार के अनुसार ही उनकी माँ का अंतिम संस्कार किया गया था |”

शुतपा के इस बयान से हमारा संशोधन और पुख्ता हो गया कि ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम नहीं थीं, क्योंकि ख़बरों के मुताबिक अंतिम संस्कार सिर्फ़ हिंदू धर्म मे होता है | इसके अलावा ममता बनर्जी हिंदी मंत्रो का जाप और मुस्लिम शहादा का पाठ दोनों अपने चुनाव के दौरों पर करती हैं |

इस संशोधन से हमें पता चलता है कि, उपरोक्त पोस्ट में जो किया गया दावा ग़लत है व भ्रम पैदा करने के लिए फैलाया जा रहा है | वास्तव में ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम नहीं थी और ममता बनर्जी अपने चुनाव के रैली में दोनों धर्म के मन्त्रों का पाठ करती हुई दिखी हैं | मगर कहीं से भी उनके मुस्लिम होने का प्रमाण नहीं मिला |

जांच का परिणाम : इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा की, “ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम हैं और ममता बनर्जी इस्लाम धर्म का पालन करती है |” ग़लत है | ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम नहीं थी और न ही ममता बनर्जी मुस्लिम धर्म का पालन करती हैं |

Avatar

Title:क्या ममता बनर्जी की माँ मुस्लिम थी ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply