बिहार में सरकरी व गैर सरकारी स्कूलों को १५ जून २०२१ तक बंद रखने का आदेश पत्र फर्जी है।

Coronavirus False
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में बढ़ते कोरोनावायरस संक्रमण के चलते सोशल मंचों पर स्कूल व कॉलेजों के बंद होने की कई गलत व भ्रामक खबरें काफी साझा की जा रही हैं।पूर्व में भी फैक्ट क्रेसेंडो ने ऐसी कई खबरों का फैक्ट चेक कर इनकी प्रमाणिकता अपने पाठकों तक पहुँचाई है। वर्तमान में बिहार सरकार को लेकर एक सर्क्युलर की तस्वीर सोशल मंचों पर इस दावे के साथ वायरल हो रही है कि बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण के मद्देनज़र बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने इस वर्ष 15 जून २०२१ तक सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों को बंद रखने का आदेश जारी किया है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है,

“बिहार में स्कूल बंद।”

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रही खबर सरासर गलत है। तस्वीर में दिख रहा आदेश पपत्र बिलकुल फर्ज़ी है। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है।

जाँच की शुरुवात हमने इस पत्र को बारीकी से देखने से की, हमने पाया कि पहले अनुच्छेद में लिखा है कि बिहार में सभी सरकार और गैर सरकारी स्कूल 15 जून तक बंद रहेगें, दूसरी ओर इस अनुच्छेद के नीचे लिखे हुए पहले वाक्य में लिखा है कि सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूल सार्वजनिक स्वास्थ्य और सार्वजनिक हित में 15 अप्रैल तक बंद रहेगें। 

इन विसंगतियों को देखकर प्रथम दृष्टिय ये प्रतीत होता है कि ये आदेश फर्जी हो, इसकी पुष्टि के लिए हमने उपरोक्त आदेश पपत्र को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर इसकी सत्यता जानने की कोशिश की , परिणाम में हमें ऐसा कोई समाचार लेख नहीं मिला जो इस बात की पुष्टि करता हो कि बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने बिहार में इस वर्ष 15 अप्रैल या 15 जून तक सभी स्कूल बंद करने का आदेश दिया है।

इसके पश्चात हमने बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के सामुदायिक मोबिलाइजेशन और मीडिया की राज्य कार्यक्रम अधिकारी विभा कुमारी से संपर्क किया तो उन्होंने इस आदेश को फर्ज़ी बताते हुए कहा, “वायरल हो रही खबर सरासर गलत व भ्रामक है। ये जो सर्क्यूलर है वह भी फेक है। किसी ने बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के लेटर पैड को डिजिटली एडिट कर ये सब लिखकर इंटरनेट पर साझा किया है और अब यह वायरल हो रहा है।“

विभा कुमारी ने हमे बताया कि बिहार में अभी ऑफलाइन स्कूल शुरु हो चुके है।

उन्होंने हमें यह भी बताया कि बिहार परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक संजय कुमार सिंह ने स्पष्टिकरण के रुप में अपना एक वीडियो भी जारी किया है। 

उन्होंने द्वारा हमें बिहार शिक्षा विभाग  के फेसबुक पेज पर संजय कुमार सिंह के वीडियो का लिंक  भेजा गया। उसमें उन्होंने स्पष्ट किया है कि वायरल हो रहा आदेश फर्ज़ी है और उन्होंने स्कूल बंद करने का कोई निर्णय नहीं लिया है।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि उपरोक्त दावा गलत है| बिहार शिक्षा परियोजना परिषद ने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है। यह एक फेक सर्क्यूलर है।

Avatar

Title: बिहार में सरकरी व गैर सरकारी स्कूलों को १५ जून २०२१ तक बंद रखने का आदेश पत्र फर्जी है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply