गुड़गांव के सोहना में जमीन विवाद पर हुई मारपीट के वीडियो को नागपुर के राष्ट्रवादी कांग्रेस नेता अरबाज खान से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हालही में नागपुर में स्थित राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अरबाज खान ने अपने फेसबुक पर एक वीडियो प्रसारित किया था, जिसमें उन्हें हिंदुओं को अपशब्द कहते हुये सुना जा सकता है, जिसके पश्चात् उन्हें नागपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और उसके बाद उन्होंने अपनी इस हरकत पर माफी भी मांगी थी। इसी प्रकरण को आधार बना सोशल मंचों पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है जिसमें आप कई लोगों को एक दूसरे से डंडे से पीटते हुये देख सकते है। वीडियो में वहाँ खड़ी गाडियों को भी तोड़ा जा रहा है। वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है, उसके मुताबिक यह वीडियो नागपुर का है, जहाँ लोगों ने अरबाज खान की पीटाई की है।

वायरल हो रहे पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

हिन्दुओ को बेलगाम गाली गलौच करने वालो अब सोचकर बोलना। अब बरदास्तगी खत्म हो चुकी है। हर बदतमीजी का ठीक से इलाज किया जाएगा! एन.सी.पी नेता अरबाज़ खान ने फ़ेसबुक पर हिन्दुओ को गाली देकर देश छोड़कर भाग जाने का बोल रहा है, उसको नागपुर की जनता ने उसकी औकात दिखा दी।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Land Dispute video from Sohna linked to Napur NCP's Arbaaz Khan3.jpg

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इस वीडियो को इंटरनेट पर काफी तेज़ी से वायरल किया जा रहा है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Land Dispute video from Sohna linked to Napur NCP's Arbaaz Khan4.jpg

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा वीडियो गुड़गांव के सोहना में स्थित सांचोली गांव से है, जहाँ दो गुटों में बीच जमीनी विवाद को लेकर मारपीट हुई थी। इस वीडियो का नागपुर व राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अरबाज खान से कोई संबन्ध नहीं है।

सबसे पहले हमने उपरोक्त वीडियो के साथ वायरल हो रहे दावे की जाँच कीवर्ड सर्च के माध्यम से की, परिणाम में हमें कई समाचार लेख मिले जो इस बात की पुष्टि कर रहे थे कि नागपुर में रहने वाले राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अरबाज खान ने फेसबुक वीडियो में हिंदुओं को गाली दी थी व उन्हें इसके लिए पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था। हमने जाँच के दौरान वह वीडियो भी देखा। इसके पश्चात हमने नागपुर पुलिस से संपर्क किया व ये पता लगाने की कोशिश की कि अरबाज खान को किस पुलिस थाने में गिरफ्तार किया गया है व कौन से जोन के अंतरगत यह पुलिस स्टेशन आता है। 

इसके बाद हमने डी.सी.पी झोन-II विनिता सहू से संपर्क किया तो उन्होंने स्पष्टिकरण देते हुए कहा कि, 

“वायरल हो रहा वीडियो नागपुर का नहीं है व अरबाज खान के साथ ऐसी कोई घटना नहीं घटी है। यह एक फार्म हाउस का वीडियो दिख रहा है। मैंने उस क्षेत्र के पी.आई से बात कर इस वीडियो की पुष्टि की है कि ये वीडियो उनके क्षेत्र से नहीं है। हमने अरबाज खान से भी संपर्क साधा व उनसे उनकी हालत के बारे में पूछताछ की, उन्होंने हमें बताया कि वे बिलकुल स्वस्थ है और उनके साथ ऐसी कोई घटना नहीं घटी है। उन्होंने हमें यह भी बताया कि वे वर्तमान में नागपुर में नहीं है। धारा 151(3) के अंतरगत हमने उनपर कार्रवाई की थी व कोर्ट ने उन्हें अगले आदेश तक रिहा कर दिया था।“

उपरोक्त जानकारी को ध्यान में रखकर हम कह सकते है कि वायरल हो रहे वीडियो का नागपुर व राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अरबाज खान से कोई संबन्ध नहीं है।

तदनंतर हमने यूट्यूब पर इस वीडियो की मूलता को लेकर कीवर्ड सर्च कर और शोध किया, नतीजतन हमें न्यूज़18 वायरलज़ नामक एक आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर प्रसारित किया गया 2.28 मिनटों का एक सदृश्य वीडियो मिला जिसमें आप वायरल हो रहे वीडियो को देख सकते है। वीडियो के शीर्षक में लिखा है

दौहला| जमीनी विवाद के चलते पूर्व सरपंच को लगी गोली,झगड़े में एक महिला समेत 9 लोग घायल। वीडियो के साथ दी गयी जानकारी में लिखा है, 

जमीनी विवाद के चलते गांव नुनेरा के समीप दो गुटों में गोली चली। झगड़े में गांव नूनेरा एक पूर्व सरपंच को गोली लगी।झगड़े मे 9 अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें गुड़गांव रेफर कर दिया गया है। विवाद जमीन का बताया जा रहा है, मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। एक पक्ष ने बताया के पूर्व सरपंच महिला की जमीन पर कब्जा करने जा रहा था जिसको लेकर झगड़ा हुआ, वहीं पूर्व सरपंच का कहना है कि एक महिला अपने साथ छ सात बाउंसरो को लेकर आई और झगड़ा शुरू कर दिया।”

इस वीडियो में आप वायरल हो रहे वीडियो को  0.46 से लेकर 1.13 मिनट तक देख सकते है। यह वीडियो 21 दिसंबर 2020 को प्रसारित किया गया था।

आर्काइव लिंक

जाँच के दौरान हमें एस.टी.वी हरियाणा न्यूज़ के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर भी एक वीडियो मिला जिसमें सोहना के सांचोली गांव में हुए मारपीट की घटना की रिपोर्ट दिखायी गयी है। यह वीडियो 20 दिसंबर 2020 को प्रसारित किया गया था। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “सोहना में जमीन विवाद को लेकर हुई फायरिंग, गुस्साए ग्रामीणों फार्म हाउस पर बोला हमला।“ 

आर्काइव लिंक

जाँच के दौरान हमें इस विषय पर अमर उजाला द्वार प्रकाशित एक समाचार लेख भी मिला। इस समाचार लेख को 21 दिसंबर 2020 को प्रकाशित किया गया था।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Land Dispute video from Sohna linked to Napur NCP's Arbaaz Khan5.jpg

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात उपरोक्त पूरे सबूतों की पुष्टि करने हेतु हमने सोहना के एस.एच.ओ सुरेश चंद्र से संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि, “वायरल हो रहा वीडियो सोहना के सांचोली गांव का ही है। वहाँ पर दो गुटों में जमीनी विवाद हुआ था जिसके चलते मारपीट व तोड़फोड़ हुई थी। यह वीडियो नागपुर का नहीं है ।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि उपरोक्त दावा में गलत है। वायरल हो रहा वीडियो गुड़गांव के सोहना स्थित सांचोली गांव का है, जहाँ दो गुटों में जमीनी विवाद को लेकर मारपीट हो रही थी। इस वीडियो का नागपुर व राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता अरबाज खान से कोई संबन्ध नहीं है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय एक काल्पनिक चरित्र हैं और इनका कोई वास्तविक अस्तित्व नहीं है!

२. वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा के वीडियो को कैप्टेन दीपक वी साठे का बता फैलाया जा रहा है |

३. क्या अमिताभ बच्चन कोरोनावायरस संक्रमण से मुक्त होने के बाद दरगाह गये थे ? जानिये सत्य..

Avatar

Title:गुड़गांव के सोहना में जमीन विवाद पर हुई मारपीट के वीडियो को नागपुर के राष्ट्रवादी कांग्रेस नेता अरबाज खान से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •