क्या अमित शाह ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को नूपुर शर्मा को Z प्लस सुरक्षा देने को कहा?

False Political

यह पत्र फेक है। अमित शाह ने मुख्यमंत्री धामी को कोई पत्र नहीं भेजा है।

नूपुर शर्मा विवाद को लेकर इंटरनेट पर गृह मंत्री अमित शाह के नाम से एक पत्र की तस्वीर साझा की जा रही है। वायरल पत्र के मुताबिक अमित शहा ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को लिखा है कि नूपुर शर्मा और देहरादून स्थित उनके घरवालों को Z प्लस सुरक्षा दी जाये। 

नूपुर शर्मा आर.एस.एस की विचारधारा को बढ़ावा देने वाली आइकॉन हैं और वे देश को हिंदू राष्ट्र बनाने के उद्देश्य को पूरा करेगी। इस वजह से उन्हें सुरक्षा दी जाये। 

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ लिखा है, “भारत के गृह मंत्री अमीत शाह का पत्र वायरल है जिस में नूपूर शर्मा को Z (security) सुरक्षा देने का आदेश है, पत्र में भारत को RSS के आडियोलोजी को आगे बढ़ाने,हिन्दू राष्ट्र बनाने में नूपूर शर्मा की भूमिका को सराहा गया है, भारत का धर्म निरपेक्ष संविधान अब अपनी अंतिम सांसे ले रहा है|” (शब्दश:)

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक


Read Also: क्या 18 लाख नागा साधु नूपुर शर्मा के समर्थन में आए है? जानिए सच


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इंटरनेट पर इस पत्र के बारें में कोई भी जानकारी नहीं मिली। फिर फैक्ट क्रेसेंडो ने गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नितिन वकनकर से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि “यह पत्र फेक है। गृह मंत्री के तरफ से मुख्यमंत्री पुष्कर धामी को ऐसा कोई पत्र भेजा नहीं गया है।“

पी.आई.बी फैक्ट चेक ने भी इस पत्र का खंडन करते हुये यह बताया है कि यह पत्र फर्ज़ी है। आप नीचे दिये गये ट्वीट में देख सकते है।

आर्काइव लिंक

16 जून को प्रकाशित अमर उजाला की खबर के मुताबिक स्पेशल टास्क फोर्स ने इस फर्ज़ी पत्र फैलाने वाले पर मुकदमा दर्ज करवाया है। उन्होंने साइबर थाने में अज्ञात के खिलाफ आईटी एक्ट और आई.पी.सी की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।


Read Also: “How Is The Josh” बोल रही नूपुर शर्मा का यह वीडियो पुराना; गलत संदर्भ के साथ वायरल


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर के साथ किया गया दावा गलत है। यह पत्र फेक है। अमित शाह ने मुख्यमंत्री धामी को कोई पत्र नहीं भेजा है।

Avatar

Title:क्या अमित शाह ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को नूपुर शर्मा को Z प्लस सुरक्षा देने को कहा?

Fact Check By: Samiksha Khandelwal 

Result: False

Leave a Reply