क्या राजस्थान के पाली में इस महिला को बच्चा चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है ?

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१९ अगस्त २०१९ को फेसबुक के ‘Pappuram Ratohare’ नामक एक यूजर ने एक पोस्ट साझा की है | पोस्ट में एक विडियो साझा किया गया है | विडियो में रात के समय कुछ लोग एक लड़की को पकड़ते हुए दिखाई देते है |        

पोस्ट के विवरण में लिखा गया है कि, 

सावधान आज दिनॉक 19/8/2019 पाली के हाउसिंग बोर्ड साई बाब मन्दिर के पास बने वाटर बाक्स मे भोपाल से आयी दो बच्चे चुराने वाली गेग को पकडा लोगो ने ईस दोरान एक को पकड लिया गया लेकिन एक ओरत भागने मे कामयाब हो गई लोगो का कहना है कि वह पाली शहर के हाउसिंग बोर्ड एरिया मे करीब तीन बच्चे चुरा कर लेजा रही थी ईसी दोरान दिनांक 18/8/19 को रात 11:30 पर लोगो ने इसे पकडा यह लडकी महिला पुलिस थान पाली मे है पूछ ताछ के दौरान ईसने कहा की ईसकी गेग का नाम मम्मी मिडो है जो कि पुरी पाली मे फैलि है सावधान

इस पोस्ट व्दारा किया यह दावा किया जा रहा है कि, विडियो में दिखाई देने वाली महिला बच्चों का अपहरण करने वाली गैंग की सदस्या है, जिसे राजस्थान के पाली शहर के हाउसिंग बोर्ड परिसर से पकड़ा गया तथा बाद में पुलिस को सौंप दिया गया | इन दिनों बच्चा चोर गैंग होने का दावा करते हुए कई असम्बद्ध विडियो और तस्वीरें साझा हो रही है | तो आइये जानते है इस विडियो व दावे की सच्चाई |

मूल पोस्ट यहाँ देखें – ‘Pappuram Ratohare’ | ARCHIVE POST

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने इस विडियो का को इन्विड टूल में देकर उसे छोटे-छोटे फ्रेम्स में तोडा और उन्हें रिवर्स इमेज सर्च किया लेकिन हमें कोई खास परिणाम नहीं मिले | इसके बाद हमने अलग अलग की-वर्ड्स से गूगल किया | उपरोक्त पोस्ट के दावे से उठाकर ‘पाली हाउसिंग बोर्ड भोपाल बच्चे चुराने वाली गेग’ इन की-वर्ड्स से सर्च करने से हमें मिले परिणाम से ‘पत्रिका’ द्वारा १९ अगस्त २०१९ को प्रसारित एक खबर मिली | इस खबर में जो विडियो साझा किया गया है, उसमे उपरोक्त पोस्ट में साझा विडियो में दिखाई देने वाली महिला व उसे पकड़ने वाले लोग भी दिखाई देते है | खबर में कहा गया है कि, उस महिला का बयान लेने के बाद पुलिस ने इस महिला का बच्चा चोर गैंग से सम्बन्ध होने की बात से इंकार किया है |

पूरी खबर यहाँ पढ़ें – ‘पत्रिका’ | ARCHIVE NEWS

इसके बाद हमने पाली जिले के पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा इनसे इस घटना के बारे में बात की | उन्होंने हमें बताया कि, पाली के हाउसिंग बोर्ड एरिया से बरामद लड़की नाबालिग है | वह महाराष्ट्र की रहनेवाली है, जिसे एक महिला ने शादी का झांसा देकर यहाँ बेचने के उद्देश्य से लाया था | लेकिन इस बात का अंदेशा होते ही मौका देखकर लड़की उस महिला के चंगुल से भागी | रात होने की वजह से वह रास्ता भटक गई तथा हाउसिंग बोर्ड एरिया की झाड़ी में छुप गई | कुछ लोगों की नजर उसपर पड़ी तो उन्होंने उसे पुलिस के हवाले किया | बाल कल्याण समिति के समक्ष उस लड़की का बयान लिया गया | फ़िलहाल उसे नारी निकेतन में रखा गया है | वह बच्चा चोर गैंग की सदस्या होने की बात झूठ है | उसे पाली लानेवाली महिला की खोज की जा रही है |”

अतः यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में साझा विडियो में दिखाई देने वाली लड़की किसी बच्चा चोर गैंग की सदस्या नहीं है | वह महाराष्ट्र की रहनेवाली एक नाबालिग लड़की है, तथा उसे शादी का झांसा देकर एक महिला द्वारा पाली लाया गया था |       

जांच का परिणाम :  इस अनुसंधान से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में साझा विडियो के साथ किया गया दावा कि, “राजस्थान के पाली में इस महिला को बच्चा चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है |” सरासर गलत है | यह एक नाबालिग लड़की है, जिसे शादी का झांसा देकर एक महिला द्वारा पाली लाया गया था |

अपहरण को लेकर अधिक फैक्ट चेक पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे-

1. इस मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति का विडियो बच्चा चोर के नाम से सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा है |

2. वीडियो में इस युवक के मुंह से जबरन बच्चा चोर होने की बात कहलवाई गई है |

3. इन लोगों को बच्चा चोर होने के शक में पीटा गया है |

Avatar

Title:क्या राजस्थान के पाली में इस महिला को बच्चा चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है ?

Fact Check By: R Pillai 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •