२०१६ में हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी के जनाज़े का वीडीयो वर्तमान में अनुच्छेद ३७० व आर्टिकल ३५-A के विरोध का बताकर फैलाया जा रहा है |

False National Political Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

९ अगस्त २०१९ को फेसबुक पर ‘Khan AIMIM Bengal’ नामक फेसबुक यूजर ने एक वीडियो पोस्ट किया था, इस वीडियो में लोगों का विशाल हज़ूम देखा जा सकता है, इस पोस्ट के विवरण में लिखा है कि, “Millions of #Kashmiri rally in IOK against @narendramodi Govt repealing of 35-A. #SaveKashmirFromModi…” हिंदी में अनुवाद : ‘लाखों कश्मीरी IOK में नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा 35-A रद्द करने के खिलाफ विरोध कर रहे है |’

वर्तमान में सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद ३७० व आर्टिकल ३५-A  हटाने को लेकर सोशल मंचों पर कई प्रकार के दावे हो रहे है, इस पोस्ट में भी कश्मीर की मौजूदा स्तिथी के चलते ऐसा ही एक दवा किया जा रहा है..

क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले InVidTool की मदद से उपरोक्त वीडियो का स्क्रीनशॉट लेकर गूगल रिवर्स इमेज सर्च में ढूंढा, तो हमें YouTube पर ‘Hello J&K’ नामक एक पेज द्वारा २२ नवम्बर २०१८ को अपलोड किया गया एक वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है ‘Burhan wani’s funeral’ | हिंदी में अनुवाद : ‘बुरहान वानी का जनाजा’ | अनुसंधान में पाया गया वीडियो उपरोक्त वीडियो से हुबहू मिलता-जुलता है |

इसके बाद हमने गूगल पर ‘ BurhanWani’s Funeral’ कीवर्ड्स को ढूंढा, जिसके परिणाम आप नीचे देख सकतें हैं |

इस अनुसंधान में हमें YouTube पर ‘IndiaToday’ द्वारा ९ जुलाई २०१६ को अपलोड किया गया एक वीडियो मिला | इस वीडियो के विवरण में लिखा गया है, ‘A large number of people are attending Hizbul Mujahideen commander Burhan Wani’s funeral in Kashmir today’ हिंदी में अनुवाद : ‘बड़ी संख्या में लोग आज कश्मीर में हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के अंतिम संस्कार में शामिल हो रहे हैं |’ पाए गए वीडियो और वर्तमान पोस्ट में साझा वीडियो की तुलना आप नीचे देख सकतें हैं |

इसके अलावा हमें १६ जून २०१८ को प्रसारित ‘BusinessStandard’ द्वारा ख़बर मिली, जिसमे भी बुरहान वानी के ९ जुलाई २०१६ को आयोजित जनाज़े में हज़ारों की तादाद में लोगों के मौजूद होने की ख़बर थी | पूरी ख़बर को पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

BusinessStandardPost | ArchivedLink

इन अनुसंधानों से यह बात स्पष्ट होती है कि पोस्ट में साझा वीडियो ९ जुलाई २०१६ को कश्मीर में हुए हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर व चरमपंथी बुरहान वानी के जनाज़े का है और कश्मीर की वर्तमान घटनाओं से इस वीडियो का कोई सम्बन्ध नहीं है | यह वीडियो गलत विवरण के साथ लोगों को भ्रमित करने के उद्देश्य से फैलाया जा रहा है।

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ”वर्तमान में कश्मीर में अनुच्छेद ३७० व आर्टिकल ३५-A रद्द होने का विरोध लाखों लोगों द्वारा किया गया |’ ग़लत है |

Avatar

Title:२०१६ में हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर बुरहान वानी के जनाज़े का वीडीयो वर्तमान में अनुच्छेद ३७० व आर्टिकल ३५-A के विरोध का बताकर फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply