बिहार के जेडीयू विधायक के वीडियो को उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन बोल कर वायरल

False Political

यह वीडियो बिहार से है जहां पिछले साल के जेडीयू विधायक महेश्वरी हज़ारी को लोगों ने विरोध किया था। इस वीडियो का उत्तर प्रदेश चुनाव या फिर भाजपा से कोई संबन्ध नहीं है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी तेजी से फैलाया जा रहा है जिसमे हम एक गावं में भीड़ को बाईक पे सवार एक व्यक्ति को आगे बढ़ने से रोकते हुए देख सकते है । इस वीडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो उत्तर प्रदेश से है जहां भीड़ द्वारा गावं में दो बार चुने गए भाजपा विधायक को गांव में प्रवेश नहीं करने दिया ।

पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि #परिणाम आने लगे!! #उत्तरप्रदेश में परिवर्तन की लहर चल चुकी है!  मोदी जी और योगी जी की शाम ढल चुकी है ! घुसने नहीं दे रहे हैं लोग अपने गांवों में बीजेपी के लोगों को, दो बार के विधायक को वापिस लौटाया…!” (शब्दशः)

फेसबुक पोस्टआर्काइव लिंक 

अनुसंधान से पता चलता है कि..

वीडियो की की-फ्रेम्स पर रिवर्स इमेज सर्च करने से हमें पता चला कि यह वीडियो 19 अक्तूबर 2020 यूट्यूब पर उपलब्ध है। साथ में दी हुई जानकारी के मुताबिक यह वीडियो बिहार से जहां पिछले साल गांववालों ने कल्याणपुर के जेडीयू विधायक के खिलाफ प्रदर्शन किया था। 

नेशनल हेराल्ड द्वारा प्रकाशित न्यूज़ रिपोर्ट में वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट भी मौजूद है । वीडियो में जेडीयू के विधायक और प्लानिंग एंड डेवलपमेंट मंत्री महेश्वर हज़ारी है। बिहार के विधान सभा चुनाव प्रचार करते समय उनको उनके ही क्षेत्र में लोगों द्वारा वापस चले जाने को कहा गया था। यह घटना कल्याणपुर के समस्तीपुर में हुई थी। 

आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने भी साझा किया था जिसके कैप्शन में लिखा गया है कि “बिहार सरकार के मंत्री और कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र से 10 वर्ष से विधायक महेश्वर हजारी को आक्रोशित जनता ने सड़क नहीं तो वोट नहीं बोल कर अपने गांव से भगा दिया। नीतीश कुमार जी के कागजी विकास की पोल खुल चुकी है। चाहे वो चमकी बुख़ार हो, जल जमाव हो, बाढ़ हो, सुखाड़ हो, कोरोना हो ।”

महेश्वरी हज़ारी के बारें में गूगल पर सर्च करने पर हमें पता चला कि वह २००९ में बिहार के समस्तीपुर निर्वाचन क्षेत्र से १५  वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे। वे २००५ (फरवरी और अक्तूबर), २०१५ और २०२० को मिलकर चार बार विधायक के रूप में चुने गए है । वर्तमान में वे समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर के विधायक है । इसके आलावा वे बिहार विधानसभा के उपाध्यक्ष भी है ।

निष्कर्ष:

तथ्यों की जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट के माध्यम से किए गए दावे को गलत पाया है । वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश से नहीं बल्कि बिहार से है । यह मामला 2020 का है जब कल्याणपुर के विधायक को गांव में प्रवेश करने से रोका गया एवं उन्हें वापस भेज दिया गया । इस वीडियो का ऊता प्रदेश चुनाव और भाजपा से कोई संबंध नहीं है ।

Avatar

Title:बिहार के जेडीयू विधायक के वीडियो को उत्तर प्रदेश में भाजपा विधायक के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन बोल कर वायरल

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply