EDITED VIDEO:- एडिटेड वीडियो के माध्यम से राहुल गाँधी को मोदी सरकार की रोजगार व्यवस्था की प्रशंसा करते हुए दिखाया गया है|

False National Politics
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मीडिया पर पूर्व में भी कई बार कांग्रेस नेता राहुल गाँधी को निशाना बनाते हुए क्लिप्ड वीडियो, एडिटेड वीडियो, फ़र्ज़ी ट्वीट या फ़र्ज़ी बयान साझा किये गये हैं | इन पोस्ट की प्रमाणिकता फैक्ट क्रेसेंडो ने फैक्ट चेक कर अपने पाठकों तक पहुँचाई है | इसी क्रम में राहुल गाँधी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से साझा करते हुए दवा किया जा रहा है विपक्षी पार्टी के नेता होने के बावजूद राहुल गाँधी मोदी सरकार और देश में रोजगार व्यवस्था की तारीफ कर रहे है | वीडियो में आज तक न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर को यह कहते हुए सुन जा सकता है कि राहुल गाँधी यूथ कांग्रेस के प्रदर्शन में शामिल हुए है | ३६ सेकंड के वीडियो में राहुल गाँधी को कहते हुए सुना जा सकता है की 

याद रखिये जब तक नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, जब तक ‘हम दो हमारे दो’ की सरकार है; तब तक हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार मिलेगा |”

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि 

“भाजपा का छुपा प्रचारक. जब तक मोदीजी की सरकार है युवाओ को रोजगार मिलेगा |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

इस वीडियो को फेसबुक पर काफी तेजी से फैलाया जा रहा है |

अनुसंधान से पता चलता है कि….

फैक्ट क्रेसेंडो ने शोध में पाया कि राहुल गाँधी के मूल वीडियो को एडिट कर उनके शब्दों के साथ छेड़छाड़ की गई है |

जाँच की शुरुवात हमने इस वीडियो को इनविड टूल की मदद से छोटे की फ्रेम्स में तोड़कर व गूगल पर कीवर्ड के साथ रिवर्स इमेज सर्च कर के की, जिसके परिणाम से हमें इंडियन नेशनल कांग्रेस के आधिकारिक फेसबुक पेज द्वारा अपलोड किया हुआ मूल वीडियो का संस्करण मिला |  इस वीडियो को कांग्रेस के आधिकारिक फेसबुक पेज पर ५ अगस्त २०२१ को अपलोड किया गया था | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “भाइयो-बहनों जब तक नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, जब तक ‘हम दो हमारे दो’ की सरकार है; तब तक हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा: श्री Rahul Gandhi”  इस वीडियो को ध्यान से सुनने से हमें पता चलता है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को एडिट कर शब्दों को हटाया गया है | यह वीडियो वायरल क्लिप का लम्बा वर्शन है | इस वीडियो को कांग्रेस ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर पूरा ११ मिनट का वर्शन अपलोड करते हुए लिखा है की राहुल गाँधी ने संसद घेराव आंदोलन में भाषण दिया |  

मूल वीडियो में हम राहुल गाँधी को कहते हुए सुन सकते है कि “जब तक नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, जब तक ‘हम दो हमारे दो’ की सरकार है; तब तक हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा |” इस वीडियो को सुनने से पता चलता है कि वायरल वीडियो से “नहीं” शब्द को एडिट कर निकाल दिया गया है | नीचे आप वायरल वीडियो और मूल वीडियो का तुलनात्मक विश्लेषण देख सकते है |

हमें यह वीडियो को HW न्यूज़ इंग्लिश के यूट्यूब चैनल पर भी उपलब्ध मिला | इस वीडियो के विवरण में लिखा गया है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने तेल की बढ़ती कीमतों और पेगासस स्पाइवेयर के खिलाफ भारतीय युवा कांग्रेस के संसद घेरावविरोध’ में भाग लिया। विरोध के दौरान, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर युवाओं को नौकरी देने के अपने वादे को पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाया।

इसके आलावा हमें आज तक द्वारा प्रसारित मूल वीडियो भी मिला जहाँ हम वायरल वीडियो का पहला हिस्सा देख सकते है | इस वीडियो से रिपोर्टर की रिपोर्टिंग करने वाले हिस्से को काटकर राहुल गाँधी के बयान देने वाले वीडियो से जोड़ा गया है | सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो एडिट कर भ्रामक सन्देश फ़ैलाने के उद्देश्य से बनाया गया है | मूल वीडियो में हम राहुल गाँधी को मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए बयान देते हुए सुन सकते है |  

निष्कर्ष- तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त वीडियो के माध्यम से किये गए दावे को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो एडिट किया गया है | मूल वीडियो में राहुल गाँधी मोदी सरकार को देश में बढ़ती बेरोज़गारी का सबसे बड़ा कारण बताते हुए निशाना साधते है | वे कहते है कि “जब तक नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री हैं, जब तक ‘हम दो हमारे दो’ की सरकार है; तब तक हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा |”

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. ब्रिटेन में हुये २०१४ के एक नुक्कड़ नाटक वीडियो को अफगानिस्तान में मुस्लिम महिलाओं की सरेआम नीलामी का बता फैलाया जा रहा है|

२. ब्राज़िल के पेरोला शहर के एक वीडियो को श्रीनगर (जम्मू कश्मीर) का बता गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

३. उत्तराखंड के कुछ क्षेत्रों में सदियों से पूजे जा रहे मुस्लिम संत सय्यद कालू पीर के पारंपरिक मंडाण नृत्य को सांप्रदायिक रंग दे गलत दावों के साथ साझा किया जा रहा है।

Avatar

Title:एडिटेड वीडियो के माध्यम से राहुल गाँधी को मोदी सरकार की रोजगार व्यवस्था की प्रशंसा करते हुए दिखाया गया है|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •