दिल्ली के पुराने वीडियो को असम में पुलिस और सेना जवानों के बीच एनआरसी लिस्ट के बाद हुए टकराव के रूप में साझा किया जा रहा है |

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

NRC लिस्ट को लेकर सोशल मीडिया पर आजकल काफी अफवाहें फैलाई जा रही है | वीडियो में दिखाया गया है कि सेना के जवान पुलिसकर्मियों की पिटाई कर रहे हैं | सोशल मीडिया पर इस वीडियो को तेजी से साझा किया जा रहा है,  साथ ही दावा किया गया है कि असम पुलिस और भारतीय सेना के जवानों के बीच झड़प हुई हैं, जो कि कथित रूप से नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (NRC) की लिस्ट से सम्बंधित  हैं | NRC की अंतिम सूची हाल ही में जारी की गई थी और असम के १९ लाख से अधिक लोगों का नाम इस लिस्ट में शामिल नहीं किया गया है |

आर्काइव लिंक | आर्काइव वीडियो 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

जाँच की शुरुआत हमने इस वीडियो को बारीकी से देखने से की | वीडियो के बाएं कोने में एक हिंदी समाचार टेलीविज़न चैनल ‘न्यूज़ नेशन” का लोगो देखा जा सकता है | वीडियो में ४० सेकंड पर, एक दर्शक को यह कहते हुए भी सुना जा सकता है, “दिल्ली में हुआ क्या था?” | इससे हम अंदाज़ा लगा सकते है कि शायद यह वीडियो दिल्ली का हो सकता है | 

इसके पश्चात हमने गूगल पर “army police clash delhi news nation” जैसे की-वर्ड्स से इस वीडियो को ढूँढा, परिणाम से हमें २६ फरवरी २०१८ को न्यूज़ नेशन द्वारा प्रसारित वीडियो मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है कि “दिल्ली के कैंटोनमेंट एरिया में सेना के जवानों और पुलिस के बीच झड़प हुई” | 

इस घटना के बारें में “टाइम्स ऑफ़ इंडिया” ने २७ फरवरी २०१८ को खबर भी प्रसारित की थी | इस खबर के अनुसार, दिल्ली के छावनी क्षेत्र में दो घंटे तक संघर्ष हुआ जब दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने सेना के एक जवान को कथित रूप से अपमानित किया था |

निष्कर्ष: तथ्यों के जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | यह वीडियो फरवरी २०१८ में दिल्ली के छावनी क्षेत्र में सेना के कर्मियों और दिल्ली पुलिस के बीच टकराव का है | यह असम पुलिस और एनआरसी लिस्ट से संबंधित नहीं है | 

Avatar

Title:दिल्ली के पुराने वीडियो को असम में पुलिस और सेना जवानों के बीच एनआरसी लिस्ट के बाद हुए टकराव के रूप में साझा किया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •