क्या भाजपा नेता के यहाँ बिजली चोरी पकड़ने गए पुलिस इन्स्पेक्टर को भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेरहमी से पीटा? जानिये सच |

False National Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१० जून २०१९ को फेसबुक पर ‘Pawan Singh’ नामक एक यूजर ने फेसबुक पर एक पोस्ट साझा की है | पोस्ट में एक घायल इंस्पेक्टर की तस्वीर को दर्शाया गया है व यह दावा किया जा रहा है कि , “बनारस मे भाजपा नेता के यहा बिजली चोरी पकडने गए इंस्पेक्टर को भाजपा कार्यकर्ताओं ने बुरी तरह मारा |” क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले उपरोक्त पोस्ट मे दीगयी तस्वीर को गूगल रेवेर्स इमेज मे ढूंढकर की | हमें मिलने वाले खोज के परिणाम आप नीचे देख सकतें हैं |

Newsstate’ द्वारा दी गयी ख़बर के मुताबिक यह घटना वाराणसी के पाण्डेयपुर मे ९ जून २०१९ को हुई है | रविवार को बिजली चोरी कर रहे ठेला व्यवसायियों ने पावर कॉर्पोरेशन के इंस्पेक्टर दीपक कुमार श्रीवास्तव पर जानलेवा हमला किया है | पूरी ख़बर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

NewsstatePost | ArchivedLink

इस बात की पुष्टि करने के लिए हमने उपरोक्त पोस्ट मे दिए गए हैडलाइन को गूगल मे ‘UP में बिजली चोरों ने दरोगा पर किया हमला, आंख घायल’ की वर्ड्स से ढूंढा, तो हमें जो परिणाम मिले वह आप नीचे देख सकते है |

इस संशोधन मे हमें विभिन्न समाचार वेबसाइट के लिंक मिले जिसमे इस घटना के बारे मे ख़बर दी गयी है | सारे ख़बरों में एक ही बात लिखी गयी है कि कटियामारी कर बिजली चोरी करने वालों की जांच करने जब पावर कॉर्पोरेशन के इंस्पेक्टर दीपक कुमार श्रीवास्तव वाराणसी के पाण्डेयपुर पहुंचे, तो उनपर ठेला व्यवसायियों ने हमला कर दिया और उनका मोबाइल भी छीन लिया | पूरी खबर को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करें |

DainikBhaskarPost | ArchivedLink

ZeeshanNewsExpressPost | ArchivedLink

BharatnewsonlinePost | ArchivedLink

इस संशोधन से यह बात प्रमाण होती है की वाराणसी के पाण्डेयपुर मे ९ जून २०१९ को यह वारदात हुई तो है, मगर इंस्पेक्टर को किसी भाजपा के कार्यकर्ता ने नहीं मारा | बल्कि ठेला व्यवसायियों ने पावर कॉर्पोरेशन के इंस्पेक्टर दीपक कुमार श्रीवास्तव पर जानलेवा हमला किया है, क्योकी वह कटियामारी कर बिजली चोरी करने वालों को पकड़ने गए थे |

जांच का परिणाम : इस संशोधन से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में किया गया दावा की, “बनारस मे भाजपा नेता के यहा बिजली चोरी पकडने गए इंस्पेक्टर को भाजपा कार्यकर्ताओं ने बुरी तरह मारा |” ग़लत है | इस दावे मे दर्शाये गए इंस्पेक्टर को ठेला व्यवसायियों ने मारा है, भाजपा के कर्यकर्ताओं ने नहीं |

Avatar

Title:क्या भाजपा नेता के यहाँ बिजली चोरी पकड़ने गए पुलिस इन्स्पेक्टर को भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेरहमी से पीटा? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •