झारखण्ड के श्री सम्मेद शिखर जी के वीडियो को अयोध्या का राम मंदिर बताया जा रहा है।

Political

राम मंदिर के नाम से वायरल वीडियो असल में श्री सम्मेद शिखर जी के मंदिर का वीडियो है।

सोशल मीडिया पर एक मंदिर का वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें अद्भुत इंटीरियर वाले मंदिर के दृश्य दिखाई दे रहे हैं। साथ ही इस मंदिर में रिवॉल्विंग पिलर यानी घूमने वाले स्तंभ को भी दिखाया गया है। वायरल इस वीडियो को इस दावे के साथ साझा किया गया है कि ये अयोध्या स्थित राम मंदिर का वीडियो है। फेसबुक रील के तौर प्रचारित इस वीडियो में यूज़र्स ने लिखा है…

श्री राम जन्मभूमि अयोध्या

फेसबुक पोस्ट ।  आर्काइव पोस्ट

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने इस वीडियो की खोज की शुरुआत गूगल रिवर्स इमेज सर्च से की। परिणाम में हमने 30 जनवरी को चित्रा टीवी नाम के यूट्यूब चैनल की तरफ से यही वीडियो अपलोड किया हुआ मिला। जिसके नीचे कैप्शन में श्री सम्मेद शिखरजी तलेटी तीर्थ, लोकेटेड ऑन पारसनाथ हिल लिखा था। साथ ही डिस्क्रिप्शन में बताया गया था कि भारत के झारखंड के सबसे ऊंचे पर्वत पारसनाथ पहाड़ी पर स्थित श्री सम्मेद शिखरजी तलेटी तीर्थ, एक जैन तीर्थ स्थल है जहां 24 जैन तीर्थंकरों में से 20 ने मोक्ष, या जन्म और मृत्यु के चक्र से मुक्ति प्राप्त की थी। इस स्थान को सम्मेद शिखर या सम्मेत शिखर के नाम से भी जाना जाता है, जिसका अर्थ हैएकाग्रता का शिखर“, क्योंकि तीर्थंकरों और अन्य भिक्षुओं ने वहां गहन ध्यान का अभ्यास किया था। इस स्थल पर 31 मंदिर हैं, प्रत्येक एक अलग तीर्थंकर या जैन संत को समर्पित है। मुख्य मंदिर जल मंदिर है, जहां 23वें तीर्थंकर पार्श्वनाथ ने मोक्ष प्राप्त किया था। मंदिर एक पानी की टंकी से घिरा हुआ है और इसमें पार्श्वनाथ की संगमरमर की मूर्ति है। 

निम्न में वीडियो देखें।

इसी जानकारी के साथ हमें यही वीडियो अद्भुत टीवी इंडिया के यूट्यूब चैनल पर मिला।

तथ्यों की खोज के दौरान हमने मंदिर के सोशल मीडिया हैंडल को खंगाला। हमें मंदिर के इंस्टाग्राम अकाउंट पर घूमने वाले स्तंभ के दूसरे वीडियो मिले।

अंत में हमने गूगल मैप्स की मदद से मंदिर के लोकेशन को ढूँढा। जहां पर हमने वीडियो से मिलती जुलती तस्वीर देखी।

इस प्रकार हम स्पष्ट हो सकते हैं कि वायरल वीडियो में दिखाए गए दृश्य अयोध्या वाले राम मंदिर के नहीं है। 

निष्कर्ष-

तथ्यों की जांच से यह पता चलता है कि अयोध्या राम मंदिर के नाम से वायरल हुआ वीडियो असल में झारखंड की मधुबनी पहाड़ियों में स्थित श्री सम्मेद शिखरजी तलेटी तीर्थ का है। इसका अयोध्या के राम मंदिर से कोई संबंध नहीं है।

Avatar

Title:झारखण्ड के श्री सम्मेद शिखर जी के वीडियो को अयोध्या का राम मंदिर बताया जा रहा है।

Written By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply