दिल्ली के सोनिया विहार में एक ही परिवार के दो भाइयों के बीच हुई लड़ाई को सांप्रदायिक रंग देकर वायरल किया जा रहा है।

Communal False

इस वीडियो में एक परिवार के दो सगे भाइयों के बीच लड़ाई हो रही है। दोनों ही हिंदू है और इसका सांप्रदायिकता से कोई संबन्ध नहीं है।

इन दिनों देश में कई जगहों पर हिंदू – मुस्लिम को लेकर माहोल गर्माया हुआ है। इसी बीच कुछ लोगों की लड़ाई का वीडियो इंटरनेट पर काफी तेज़ी वायरल हो रहा है। उसमें आप कुछ लोगों को डंडे मारपीट करते हुये देख सकते है। दावा किया जा रहा है कि दिल्ली के संगम विहार में मुस्लिम समुदाय के लोग हिंदुओं को पीट रहे है।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ यूज़र ने लिखा है, “वीडियो जरूर देखे जहांगीर पूरी के बाद संगम विहार विकास चल रहा है कृपया हिंदू दूर रहे, विकास पूरा होने पर आपको बता दिया जाएगा। जैसे काश्मीर, बंगाल केरल कर्नाटक में बता भी दिया था भगा भी दिया था। दिल्ली संगम विहार की घटना मुसलमानों का आतंक और बसाओ इनको अपने आस पास एक समय आएगा यही परिणाम मिलेगा।“ (शब्दश:)

फेसबुक

आर्काइव लिंक


Read Also: क्या मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बोला कि पंजाब में ‘आप’ की सरकार बिना ड्राइवर की बस की तरह है; जानिए सच


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस वीडियो को देखने पर हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया। तो हमें यही वीडियो अर्पन न्यूज़ के वैरिफाइड चैनल पर 30 अप्रैल को प्रसारित किया हुआ मिला। उसमें बताया गया है कि दिल्ली के सोनिया विहार में प्रोपर्टी को लेकर विवाद के चलते चार जवान बेटों ने बुजुर्ग पिता और दादा को पीटा।

आर्काइव लिंक

इसको ध्यान में रखकर हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया। 3 मई को प्रकाशित नवभारत टाइम्स के लेख में बताया गया है कि इसमें दिख रही घटना 20 अप्रैल को घटी थी। प्रेमपाल और श्यामलाल नामक दो सगे भाइयों के बीच प्रॉपर्टी को लेकर विवाद हुआ। वह इतना बढ़ गया कि दोनों ने उनके ही पिता और दादा को लाठी और डंड़ों से पीटा। इस मामले में पुलिस ने दोनों ही पक्षों के खिलाफ मामला दर्ज किया व इस केस में छ: लोग जेल में है।

इसमें दोनों लोगों के नाम प्रेमपाल और श्यामलाल है। इस बात की पुष्टि करने के लिये फैक्ट क्रेसेंडो ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में स्थित सोनिया विहार पुलिस स्टेशन की प्रभारी मालती बाना से की। उन्होंने हमें बताया कि “वायरल हो रहा दावा गलत है। यह कोई सांप्रदायिक मामला नहीं है। यह दो सगे भाइयों के बीच की लड़ाई का वीडियो है। और दोनों हिंदू समुदाय से है।“


Read Also: एड्स संक्रमित तरबूज बेचने की खबर पूर्णतः झूठ; ‘दैनिक भास्कर’ के नाम से फर्जी स्क्रीनशॉट वायरल


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इसमें एक ही परिवार के दो सगे भाइयों में लड़ाई हो रही है। दोनों ही हिंदू है। इसका मुस्लिम समुदाय से कोई संबन्ध नहीं है।

Avatar

Title:दिल्ली के सोनिया विहार में एक ही परिवार के दो भाइयों के बीच हुई लड़ाई को सांप्रदायिक रंग देकर वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply