महाराष्ट्र में नवरात्र के उपलक्ष पर निकाली गयी धार्मिक रैली के वीडियो को अयोध्या में “राम भक्तों” द्वारा हिन्दू राष्ट्र की मांग का बता फैलाया जा रहा है |

False Social

सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफ़ी तेजी से फैलाया जा रहा है जिसमें हम एक विशाल भीड़ को देख सकतें हैं, यह भीड़ एक रैली निकालकर व “जय श्री राम” के उद्घोष लगाते हुए आगे बढ़ रही है , इस वीडियो  को साझा करते हुए दावा किया जा रहा कि उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कराने के लिये “राम भक्तों” की भारी भीड़ जमा हो रही है | वीडियो में हम भीड़ को सफ़ेद पोशाक में मार्च करते हुए देख सकते है | दावे अनुसार यह वीडियो अयोध्या से है और ये रैली देश के विभिन्न हिस्सों से आये “राम भक्तों” द्वारा हिन्दू राष्ट्र की मांग करते हुये निकली गई थी |

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि 

“हिंदू राष्ट्र घोषित करवाने के लिए सारे राम भक्त अयोध्या पहुंच चुके हैं | हर हिंदू का एक ही सपना हिंदू राष्ट्र हो भारत अपना जय जय श्री राम |”

(शब्दशः)

फेसबुक पोस्ट 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने शोध कर पाया कि यह वीडियो पुराना है व यह वीडियो महाराष्ट्र में नवरात्र के समय निकाली गयी एक धार्मिक रैली से है, वीडियो का उत्तर प्रदेश से कोई सम्बन्ध नहीं है|

जाँच की शुरुवात हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को इन्विड वी वेरीफाई टूल की मदद से छोटे कीफ्रेम्स में तोड़कर व गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से किया | इस सर्च के परिणाम में हमें यह वीडियो अक्टूबर २०१९ को एक यूट्यूब चैनल द्वारा अपलोड किया हुआ मिला | इस वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है कि “दुर्गामाता दौड मिराज विभाग” | वीडियो का लोकेशन वाई तालुका उल्लेखित की गई है | इससे यह स्पष्ट है कि वायरल वीडियो वर्तमान का नहीं है | इसके अलावा हमें इस घटना का एक दुसरे एंगल से लिया गया वीडियो एक दूसरे यूटूयूब चैनल पर उपलब्ध मिला, इस वीडियो को भी २०१९ में अपलोड किया गया था | 

वायरल वीडियो को बारीकी से देखने पर वीडियो में “लक्ष्मी स्पोर्ट्स” नामक एक दुकान नज़र आती है |

हमने इस दुकान को गूगल पर ढूँढने की कोशिश की, जिसके परिणाम से हमें न्यू श्री लक्ष्मी स्पोर्ट्स नामक यह दुकान महाराष्ट्र के सांगली जिले के मिराज शेहर में मौजूद मिली, हमें इस दुकान की साफ़ तस्वीर जस्ट डायल की वेबसाइट पर मिली |

नीचे आप वायरल वीडियो में दिख रही दुकान के स्क्रीनशॉट को जस्ट डायल पर मिली महाराष्ट्र स्थित स्पोर्ट्स की दुकान की तस्वीर के साथ किये गए तुलनात्मक विश्लेषण में देख सकतें हैं | इस विश्लेषण से ये स्पष्ट होता है कि वायरल वीडियो में दिख रही दुकान महाराष्ट्र के सांगली से ही है |

आगे फैक्ट क्रेसेंडो ने सांगली स्थित न्यू श्री लक्ष्मी स्पोर्ट्स दूकान के मालिक महानतोश पाटिल से संपर्क किया जिन्होंने हमें बताया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो लगभग २ से ३ साल पुराना है | यह रैली हर साल सांगली में नवरात्री के समय आयोजित की जाती है | इस उत्सव का नाम “दुर्गा माता दौड़” है | इस उत्सव में सारे लोग पारंपरिक वेशभूषा में तैयार हो कर रैली निकालते है और दुर्गा माता की प्रतिमा को साथ लेकर मंत्र उच्चारण करते है|

इन्टरनेट पर यह वीडियो २०१९ से उपलब्ध है और इस वीडियो का उत्तर प्रदेश से कोई सम्बन्ध नहीं है |

निष्कर्ष:

तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट के माध्यम से किये गये दावे को गलत पाया है | सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश के अयोध्या में “राम भक्तों” द्वारा हिन्दू राष्ट्र की मांग करते हुए निकाली गयी रैली का नहीं है | यह वीडियो इन्टरनेट पर २०१९ से उपलब्ध है | यह रैली नवरात्री के समय सांगली के मिराज शेहर में निकले गए “दुर्गा माता दौड़” से है, इस उत्सव का आयोजन यहाँ पर हर साल होता है |

Avatar

Title:महाराष्ट्र में नवरात्र के उपलक्ष पर निकाली गयी धार्मिक रैली के वीडियो को अयोध्या में “राम भक्तों” द्वारा हिन्दू राष्ट्र की मांग का बता फैलाया जा रहा है |

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply