क्या टीएन शेषन के बारे में “यह” खबर सही है ?

False National
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

यह चित्र हमने विकिपीडिया से प्रतिनिधित्व के हेतु लिया है । इस चित्र का निचे दिए लेख के साथ कोई सम्बन्ध नहीं है ।

७ अप्रैल २०१९ को डॉक्टर योगी मिगलानी नामक एक फेसबुक यूजर ने एक तस्वीर पोस्ट की | तस्वीर के शीर्षक में लिखा गया है कि श्री मान टी.एन.शेषन नहीं रहे। वे रिटायरमेंट के बाद एक वृद्धाश्रम में सपत्नीक रह रहे थे | एक आदर्श जीवन था उनका | कल पत्नी ने उनका साथ छोड़ा आज वे स्वयं स्वर्गस्त हो गये। शेषन दम्पति निः संतान थे। उन दोनों को विनम्र श्रद्धांजलि | बहुत बुद्धीमान निडर ईमानदार ओर सरल इन्सान थे ईश्वर इनकी आत्मा को शाँती दे | ॐ शाँती” | तस्वीर में हम टी. एन. शेषन व उनकी पत्नी को देख सकते है | इस पोस्ट के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि टी. एन. शेषन अब नहीं रहे | यह खबर काफ़ी चर्चा में है | फैक्ट चेक किये जाने तक इस पोस्ट को लगभग ३६०० प्रतिक्रियाएं मिल चुकी थी |

बता दें कि, तिरुनेलै नारायण अय्यर शेषन अर्थात टी. एन. शेषन को भारत में चुनावों को नए सिरे से परिभाषित करने वाले व्यक्ति के रूप में सबसे ज्यादा जाना जाता है | वह भारत के १० वें मुख्य चुनाव आयुक्त थे जिन्होंने देश में बड़े पैमाने पर चुनाव संबंधी खामियों को समाप्त करके चुनावों की प्रक्रिया में सुधार किया |

आर्काइव लिंक

जब हमने गूगल सर्च के द्वारा इंटरनेट पर इस बारे में खोजा, तो हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें शेषन के निधन का जिक्र हो | इसकी उम्मीद नहीं की जा सकती है कि पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त शेषन के निधन की खबर मीडिया द्वारा कवर न की जाए | इसीलिए हमने इस खबर की सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है कि..

गूगल सर्च करने पर हमें पता चला कि ऐसी अफवाह २०१८ में भी काफ़ी चर्चा में थी | टी. एन. शेषन के निधन की अफवाह उनकी पत्नी श्रीमती जयालक्ष्मी शेषन के निधन के बाद भी फैलाई गई थी | ३१ मार्च २०१८ को चौकीदार रघुनाथ द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर में हम साफ़ साफ़ देख सकते है कि श्रीमती जयालक्ष्मी शेषन का ३१ मार्च २०१८ को निधन हुआ था | ट्वीट में लिखा गया है कि “पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टी. एन. शेषन की पत्नी श्रीमती जयालक्ष्मी शेषन का कल निधन हो गया | ॐ शांती” |

आर्काइव लिंक

श्रीमती जयालक्ष्मी शेषन के निधन की अख़बार में प्रकाशित खबर आप नीचे देख सकते है | खबर में उनका परिचय, मृत्यु तिथि व समय स्पष्ट रूप से लिखा गया है |

क्रेडिट- एस एम् होक्स स्लेयर

ट्विटर पर हमें भारत के १७ वें मुख्य चुनाव आयुक्त शहाबुद्दीन याक़ूब कुरैशी के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट द्वारा की गई ट्वीट मिली | २ अप्रैल २०१८ को ट्वीट में लिखा गया है कि “Sad to know about the passing on of Mrs TN Seshan two days ago. My heartfelt condolences to Sh Seshan. Relieved to know that rumours about him are false” |

सरल हिंदी अनुवाद-इस प्रकार है “दो दिन पहले श्रीमती टी. एन. शेषन के निधन के बारे में जाना | श्री टीएन शेषन को मेरी संवेदना | यह जानकर राहत मिली कि टी. एन. शेषन बारे में अफवाहें झूठी हैं |

आर्काइव लिंक

उपरोक्त ट्वीट से हमें स्पष्ट रूप से पता चलता है कि श्रीमती जयालक्ष्मी शेषन का निधन ३१ मार्च २०१८ को हुआ था | वायरल पोस्ट में किया गया दावा कि, श्रीमती शेषन का निधन ६ अप्रैल २०१९ को हुआ है, गलत है |

भारत के पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त टी. एन. शेषन के निधन की झूठी अफवाएं एक साल पहले सोशल मीडिया पर चल रही थी | इस फर्जी खबर को   कई मीडिया संगठनों  ने २ अप्रैल २०१८ को ही गलत बताया था | आप नीचे डीएनए का रिपोर्ट पढ़ सकते है |

DNA | आर्काइव लिंक

७ अप्रैल २०१९ से यह अफवाह फिर से फैलाई जा रही है | इसलिए हमने १६ अप्रैल २०१९ को सीधे टी. एन. शेषन के साथ फ़ोन पर संपर्क करने की कोशिश की | हमने शेषन की चेन्नई स्थित निवासस्थान पर फोन किया तो हमारी उनसे बात हुई व उन्होंने खुद इस बात की पुष्टि की कि यह खबर एक अफवाह है और वह (टीएन शेषन) बिलकुल ठीक हैं | उनकी तबीयत कुछ दिनों के लिए ठीक नहीं थी पर अब वे स्वस्थ है |

निष्कर्ष : संशोधन से हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | टी. एन. शेषन की मृत्यु की जो अफ़वाह है वो सरासर झूठी है, जिसकी पुष्टि स्वयं टी. एन. शेषन जी ने की है | ‘फैक्ट क्रेसेन्डो’ टीएन शेषन जी की लम्बी उम्र की कामना करते है |


  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares