हरियाणा में हुए झगड़े का वीडियो जोधपुर में मुस्लिमों द्वारा हिंदू आदमी को पीटने के झूठे दावे के साथ वायरल

Communal False

यह वीडियो राजस्थान के जोधपुर का नहीं है, बल्की हरियाणा के यमुनानगर में स्थित सुल्तानपुर में घटी एक घटना का है। इसमें कोई सांप्रदायिक कोन नहीं है।

हाल ही में जोधपुर में ईद के दिन दो समुदाय के बीच हिंसा हुई थी। जिसके चलते वहाँ 8 मई तक कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसी बीच एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ लोग डंडे और धारदार हथियारों से एक शख्स को पीट रहे है। 

दावा किया जा रहा है कि यह घटना जोधपुर की है। यह भी कहा जा रहा है कि मुस्लिम लोगों ने मिलकर इस हिंदू आमदी को पीटा।

वायरल हो रहे पोस्ट के साथ लिखा है, “काँग्रेस पार्टी के मिया गहलोत ने आज जोधपुर का इंटरनेट इसलिए बंद किया ताकि मुल्ले खुले आम हिन्दुओ का कत्ल कर सके। इसलिए बार बार कह रहा हूँ कि हिन्दू जल्द इस्लामिक पार्टी काँग्रेस को पहचान ले नहीं तो एक भी हिन्दू जिंदा नहीं बचेगा। इस वीडियो को जरूर देखें आगे से आगे शेयर करें।“

फेसबुक

https://twitter.com/shailes4hindutv/status/1522893798124449793

आर्काइव लिंक


Read Also: क्या राहुल गांधी नेपाल में जिस शादी में गये थे उसमें भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे?


अनुसंधान से पता चलता है कि…

इस वीडियो की जाँच हमने कीवर्ड सर्च कर की। परिणाम में यह वीडियो रियल फ्लेवर्स न्यूज़ के यूट्यूब चैनल पर 2 मई को प्रसारित किया हुआ मिला। 

इसके साथ दी गयी जानकारी में बताया गया है कि यह वीडियो हरियाणा के यमुनानगर का है। बताया जा रहा है कि कमलजीत नाम के एक युवक को कुछ बदमाशों ने हथियारों से पीटा। यह वीडियो खंड सढ़ौरा के गांव सुल्तानपुर का है। घायल हुये युवक को सढ़ौरा के सरकारी अस्पताल में भर्ती किया गया। 25 वर्षीय कमलजीत पेशे से ट्रक ड्राइवर है। वह फोन पर बात करते हुये घर से बज़ार की तरफ आया तभी दो गाड़ियों में दर्जन भर युवक आये और उसे लोहे के पाइप, तलवार और अन्य हथियारों से पीटने लगे।

आर्काइव लिंक

4 मई को प्रकाशित पंजाब केसरी की खबर के अनुसार करीब पंद्रह से बीस दिन पहले हरियाणा के रसुलपुर के अनाज मंडी में कमलजीत ने रिक्की नाम के युवक के साथ मारपीट की।  इसमें रिक्की बुरी तरह घायल हो गया। इसी का बदला लेते हुये रिक्की और उसके साथियों ने कमलजीत की पीटाई की। ईशाक नामक एक साथी ने कमलजीत को फोन लगाकर सुल्तानपुर बुलाया और फिर सब ने मिलकर उसकी पीटाई की।

इसके बाद फैक्ट क्रेसेंडो ने थाना सढ़ौरा के प्रभारी दिनेश ढ़ाका से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि “लड़ाई कमलजीत और रिक्की के बीच हुई थी। कमलजीत को मारने के लिये रिक्की ने अपने अन्य दोस्तों को बुलाया था, जिनमें से ईशाक नाम का लड़का मुस्लिम है और बाकी सब हिंदू है। इस मामले में चार लड़कों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें कोई सांप्रदायिक कारण नहीं था क्योंकि लड़ाई कमलजीत और रिक्की के बीच हुई थी और वे दोनों ही हिंदू है।“


Read Also: दिल्ली के सोनिया विहार में एक ही परिवार के दो भाइयों के बीच हुई लड़ाई को सांप्रदायिक रंग देकर वायरल किया जा रहा है।


निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। यह घटना हरियाणा के यमुनानगर की है। इसका जोधपुर में हुई हिंसा व सांप्रदायिकता से कोई संबन्ध नहीं है।

Avatar

Title:हरियाणा में हुए झगड़े का वीडियो जोधपुर में मुस्लिमों द्वारा हिंदू आदमी को पीटने के झूठे दावे के साथ वायरल

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply