भारतीय महिला पहलवान कविता देवी व बीबी बुल बुल की कुश्ती के वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

False Social

इन दिनों इंटरनेट पर एक वीडियो काफी तेज़ी से वायरल होता दिख रहा है, उस वीडियो में आप एक महिला पहलवान को रिंग में खड़े हुये वहाँ मौजूद लोगों को उनसे लड़ने की चुनौती दे रही है, कुछ देर बाद आप एक महिला को रिंग में खड़ी महिला की चुनौती स्वीकार कर रिंग में जाते हुये देख सकते है व उसके बाद वे दोनों ही महिला कुश्ती लड़ती हैं। इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि जो महिला चुनौती दे रही है वह पाकिस्तानी है व रिंग में खड़े होकर भारतीय महिलाओं को अपशब्द कह रही हैं और जो महिला चुनौती स्वीकार कर उनके लड़ने आती है व आर.एस.एस के दुर्गा वाहिनी से जुड़ी संध्या फडके है।

वायरल रहे वीडियो के शीर्षक में लिखा है, 

“एक हिंदू ओरत की ताकत देखीये ओर बाकी हिन्दूओ का अंदाजा लगाईये। मुम्बई मे एक पाकिस्तानी लेडीज फ्रीस्टाइल कुस्तीबाज महिला रिंग मे खडे हो कर भारतीय महिला ओ को गाली देते हुये रिग मे आने के लिये चैलेन्ज करने लगी इसके चैलेन्ज को स्वीकार करते हुये RSS की दुर्गा वाहिनी की महिला संन्ध्या फडके नाम की महिला रिंग मे उतर कर आई आगे क्या हुआ इस वीडियो मे आप खुद देखे।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहीं महिलाएं भारतीय पहलवान है। एक महिला का नाम कविता देवी है व दुसरी का नाम बीबी बुल बुल है व यह वीडियो वर्ष 2016 का है।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे वीडियो को ध्यान में रखकर यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया, परिणाम में हमें यही वीडियो सी.डब्ल्यू.ई के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर 13 जून 2016 को प्रसारित किया हुआ मिला। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “कविता ने बीबी बुल बुल का ओपन चैलेंज स्वीकार किया।“

आर्काइव लिंक

इसके बाद इस जानकारी को ध्यान में रखते हुये व इस वीडियो के बारे में अधिक जानकारी पाने के लिये हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया, परिणाम में हमें यही वीडियो दलीप सिंह राणा यानी की द ग्रेट खली के आधिकारिक फेसबुक फैन पेज पर 13 जून 2016 को प्रसारित किया हुआ मिला। इस फेसबुक पोस्ट के शीर्षक में लिखा है, 

“कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंड। पूर्व हरियाणा पुलिस अधिकारी, और पावर लिफ्टिंग और एम.एम.ए चैंपियन कविता ने बीबी बुल बुल की खुली चुनौती स्वीकार की। महाप्रबंधक हेमंत सिंह द्वारा अगले सप्ताह मिक्स्ड टैग-टीम मैच जारी करने से पहले भीड़ के रूप में देखें, जबकि अराजकता होती है! सी.डब्ल्यू.ई, जलंदर, द ग्रेट खली।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

तत्पश्चात अधिक जाँच करने पर हमें डी.एन.ए द्वारा 16 जून 2016 को प्रकाशित किया हुआ एक समाचार लेख मिला जिसमें वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहे दृश्य की तस्वीर प्रकाशित की गयी मिला। लेख के अनुसार बीबी बुल बुल, जो भारत की पहली पेशेवर महिला पहलवान हैं, को हरियाणा की पूर्व पुलिस अधिकारी, पावर-लिफ्टिंग और एम.एम.ए चैंपियन कविता ने कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंट (सी.डब्ल्यू.ई)  के हब पंजाब के जलंदर में एक द्वंद्वयुद्ध के दौरान नीचे गिरा दिया था।

आर्काइव लिंक

उपरोक्त सबूतों से हमें यह समझ आया कि वीडियो में दिख रही महिला पहलवानों का नाम कविता देवी व बीबी बुल बुल है। इसके बाद हमने गूगल पर कीवर्ड सर्च किया व दोनों के बारे में जानकारी हासिल की।

कौन है कविता देवी और बीबी बुल बुल?

कविता देवी एक भारतीय पहलवान हैं, जो वर्तमान में डब्ल्यू.डब्ल्यू.ई में रिंग नाम कविता देवी के तहत अनुबंधित हैं। देवी डब्ल्यू.डब्ल्यू.ई में कुश्ती लड़ने वाली भारतीय राष्ट्रीयता की पहली महिला पहलवान हैं। दूसरी ओर बीबी बुल बुल भारत की पहली महिला पहलवान हैं।

उपरोक्त अनुसंधान से ये स्पष्ट होता है कि बीबी बुल बुल जो रिंग में खड़ी होकर उनसे लड़ने की चुनौती दे रही थीं वे भारतीय है ना की पाकिस्तानी और जो महिला उनसे लड़ने के लिये आयी थी उनका नाम कविता देवी है और वे भी भारतीय हैं।

इसके बाद हमने ये जानने की कोशिश की कि आर.एस.एस के दुर्गा वाहिनी गुट की संध्या फडके कौन है। ये जानने के लिये फैक्ट क्रेसेंडो ने दुर्गा वाहिनी से जुड़ी मुंबई से किशोरी ताई से संपर्क किया तो उन्होंने हमें बताया कि, “दुर्गा वाहिनी में संध्या फडके नामक कोई भी महिला नहीं है व वीडियो में दिख रही महिला ने केसरी रंग के कपड़े जरूर पहने है, परंतु वह दुर्गा वाहिनी का हिस्सा नहीं है।“ 

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इस वीडियो में दिख रहीं दोनों महिलाएं भारतीय पहलवान है। एक महिला का नाम कविता देवी है व दूसरी का नाम बी बी बुल बुल है व यह वीडियो वर्ष 2016 का है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. ज्योतिरादित्य सिंधिया के दो वर्ष पुराने वीडियो को वर्तमान में हुये केंद्रीय मंत्रालय फेरबदल से जोड़ वायरल किया जा रहा है।

२. २०१९ की बांग्लादेश में के ईद-ए- मिलाद- उन नबी के जलूस की तस्वीर को उत्तर प्रदेश में ओवैसी के रैली के नाम से फैलाया जा रहा है|

३. सुप्रीम कोर्ट के वकील ऍड. भानू प्रताप सिंह के भाषण के वीडियो को हिमालया कंपनी के मालिक का बता वायरल किया जा रहा है।

Avatar

Title:भारतीय महिला पहलवान कविता देवी व बीबी बुल बुल की कुश्ती के वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False