क्या अनुच्छेद ३७० पर किसी भी देश का साथ न मिलने से पागल हुए पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने पत्रकारों को गालियाँ दी?

False International Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१८ अगस्त २०१९ को फेसबुक के ‘Hindu Shakti’ नामक एक यूजर ने एक पोस्ट साझा की है | पोस्ट में एक विडियो साझा किया गया है | विडियो में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान शायद किसी प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रहे है | लेकिन पत्रकारों के साथ मौजूद बाकि लोगों का भी बड़ा शोर सुनाई देता है | इससे खफा इमरान गुस्सा होकर लोगों को नीचे बैठने को तथा खामोश रहने के लिए कहते है |

पोस्ट के विवरण में लिखा गया है कि, 

धारा 370 पर किसी भी देश का साथ न मिलने पर पागल हुए पाक_PM_इमरान_खान | धारा 370 पर किसी भी देश का साथ न मिलने पर पागल हुए पाक_PM_इमरान_खान देने लगे पत्रकारों को गालियाँ

इस पोस्ट व्दारा किया यह दावा किया जा रहा है कि, जम्मू-कश्मीर से भारत सरकार द्वारा अनुच्छेद ३७० रद्द किये जाने के बाद किसी देश से समर्थन जुटा पाने में असमर्थ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान गुस्से में आगबबुला होकर पत्रकारों को ही गालियां देने लगे है | अनुच्छेद ३७० रद्द किये जाने के बाद इमरान खान के इस तरह के किसी प्रेस कांफ्रेंस की खबर पढने में नहीं आयी है | तो आइये जानते है इस विडियो व दावे की सच्चाई |

मूल पोस्ट यहाँ देखें – ‘Hindu Shakti’  | ARCHIVE POST

अनुसंधान से पता चलता है कि…

सबसे पहले हमने इस विडियो का स्क्रीनशॉट लेकर उसे रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें यांडेक्स परिणाम से यही विडियो dailymotion.com पर मिला |

ARCHIVE MOTION

यह विडियो तीन साल पहले अपलोड किया गया है और विवरण में लिखा है कि, एक प्रेस कांफ्रेंस में अपने पार्टी के शोर मचाते लोगों को शांत करते वक्त पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान गुस्सा हो गए थे | यह विडियो तीन साल पहले अपलोड किया गया तो है, लेकिन तारीख नहीं लिखी दिखाई देती |

तारीख ढूंढने के लिए हमने ‘imran khan gets angry in press conference’ इन की-वर्ड्स के साथ गूगल सर्च किया तो हमें जो परिणाम मिले, वह आप नीचे देख सकते है | परिणाम से हमें यही विडियो और भी यूजर द्वारा यू-ट्यूब पर अपलोड किये हुए मिले |

‘Sherman Chamberlin’ नामक यू-ट्यूब यूजर ने १८ जून २०१५ को अपलोड किया है | यह इसी प्रेस कांफ्रेंस का विडियो है, लेकिन दुसरे एंगल से शूट किया गया है |  

इसके अलावा ‘exciting world’ यूजर ने २ मार्च २०१८ को, ‘video.dunyanews.tv’ वेबसाइट ने ८ जून २०१५ को और ‘RamiZ Ramiz’ यूजर ने १९ दिसम्बर २०१५ को यही विडियो अपलोड किया है |

इससे यह बात स्पष्ट है कि, उपरोक्त विडियो पब्लिक डोमेन में २०१५ से मौजूद है | इसका मतलब जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद ३७० रद्द हो जाने के बाद का नहीं हो सकता |

इसके बाद हमने यह ढूंढा की इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कब बने | गूगल सर्च करने से हमें पता चला की पिछले साल ही उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी |

इसका मतलब जब यह विडियो शूट किया गया, तब इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नहीं थे |

इस अनुसंधान से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में साझा विडियो जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद ३७० हटाने के बाद उत्त्पन्न स्थिति को नहीं दर्शाता है, बल्कि यह विडियो चार वर्ष पुराना है | साथ ही इमरान खान उस वक्त पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नहीं थे |      

जांच का परिणाम :  इस अनुसंधान से यह स्पष्ट होता है कि, उपरोक्त पोस्ट में साझा विडियो के साथ किया गया दावा कि, “अनुच्छेद ३७० पर किसी भी देश का साथ न मिलने पर पागल हुए पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने पत्रकारों को गालियाँ दी |” सरासर गलत है | यह विडियो चार वर्ष पुराना है और इमरान खान उस वक्त पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नहीं थे |

Avatar

Title:क्या अनुच्छेद ३७० पर किसी भी देश का साथ न मिलने से पागल हुए पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने पत्रकारों को गालियाँ दी?

Fact Check By: R Pillai 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1 thought on “क्या अनुच्छेद ३७० पर किसी भी देश का साथ न मिलने से पागल हुए पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने पत्रकारों को गालियाँ दी?

Comments are closed.