यह युवक कैंसर से ग्रसित है और इनकी इस स्तिथि का pubg से कोई सम्बन्ध नहीं है |

False National Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

१५ नवम्बर २०१९ को फेसबुक पर ‘Gautam Kumar द्वारा किये गये एक पोस्ट में तीन तस्वीरें साझा की गयी है | पोस्ट के विवरण में लिखा है कि, पप्जी गेम में पागल हो गया कृपया अपने बच्चो को मोबाईल पर ऐसे गेम नही खेलने दे |” इस पोस्ट में यह दावा किया जा रहा है कि – ‘पबजी खेलने के वजह से तस्वीर में दर्शाया गया युवक अपना मानसिक संतुलन खो बैठा है |’ इस पोस्ट को २४०० से ज़्यादा प्रतिक्रियाएं प्राप्त हुई है | क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

अनुसंधान से पता चलता है कि…

उपरोक्त पोस्ट में साझा तस्वीरों को गौर से देखने से इन तस्वीरों के निचले हिस्से में हमने ‘2019 milaap.org’ लिखा पाया | जब हमने ‘milaap.org’ गूगल पर ढूंढा, तो हम बैंगलोर में स्थित धन उगाहने वाले संगठन की वेबसाइट पर पहुंचे, जो ज़रूरतमंदों के चिकित्सा के लिए धन एकत्रित कर मदद करता है | इस वेबसाइट पर जब हमने ढूंढना शुरू किया, तो हमें एक धन एकत्रित करने का पोस्ट मिला, जिसमें दी गयी तस्वीर उपरोक्त पोस्ट की एक तस्वीर से हुबहू मिलती है |

जब हमने इस पोस्ट को क्लिक किया, तो हमें पता चला कि, तस्वीर में दिखने वाले युवक का नाम सुजन है और उसे ‘Acute Myeloid Leukemia’ (एक प्रकार का ब्लड कैंसर) है | सुजन ने इसके पहले ४ कीमोथेरेपी ली थी, मगर इनसे भी सुजन की स्तिथि पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा | उसके अस्थि मज्जा प्रत्यारोपण (Bone-Marrow Transplant) के लिए १५-२० लाख रुपयों की ज़रुरत थी, तो उसका परिवार ‘milaap.org’ के ज़रिये पैसे जमा कर रहा था | 

इस वेबसाइट पर सुजन के पिताजी की दरख्वास्त के साथ कई तस्वीरें भी दी गयी है, जो उपरोक्त पोस्ट मे साझा तस्वीरों से हुबहू मिलती है |

Z:\Nita\Untitled-1.png

Milaap.org | ArchivedLink

जब हमने इस संस्थान से संपर्क किया, तो हमें बताया गया कि यह दरख्वास्त २३ अक्टूबर २०१९ को अपलोड की गयी थी और २६ अक्टूबर को सुजन का अस्थि मज्जा प्रत्यारोपण (Bone-Marrow Transplant) ओपरेशन सफलतापूर्वक हो चूका है | उसे तीन महीने के लिए चिकित्सा और देखभाल के लिए अस्पताल में रखा जायेगा |

इस अनुसंधान से यह बात स्पष्ट होती है कि उपरोक्त पोस्ट में साझा तस्वीरों में दिखने वाले युवक को कैंसर की बिमारी थी व पबजी खेल के साथ इस घटना का कोई संबंध नहीं है और ना ही यह युवक मानसिक रूप से अस्वस्थ हुआ है | यह तस्वीरें गलत विवरण के साथ लोगों को भ्रमित करने के उद्देश्य से फैलाया जा रहा है |

जांच का परिणाम :  उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा “पबजी खेलने के वजह से तस्वीर में दर्शाया गया युवक अपना मानसिक संतुलन खो बैठा है |” ग़लत है |

Avatar

Title:यह युवक कैंसर से ग्रसित है और इनकी इस स्तिथि का PUBG से कोई सम्बन्ध नहीं है |

Fact Check By: Natasha Vivian 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply