भाजपा नेताओं के समर्थकों बीच हुई झड़प के वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है

False Political

इस वीडियो के साथ किया दावा गलत है। इसमें दो भाजपा नेताओं के समर्थकों के बीच आपस में झड़प हो रही है। 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के गरम माहौल में एक वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में लोग भाजपा नेताओं की गाड़ियां फोड़कर अपना आक्रोश जता रहे है।

इंटरनेट पर वायरल इस वीडियो में आप कुछ लोगों को रास्ते पर खड़ी गाड़ियों पर पत्थर व डंड़े मारते हुए देख सकते है। फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि “ये परिणाम है भाजपा की नीतियों और उनके तथाकथित सशक्त नेतृत्व का। उत्तर प्रदेश की जनता इनसे त्रस्त है, उनमें आक्रोश है। जनता अब किसी भी कीमत पर प्रदेश से भाजपा का सफाया चाहती है, जिसका नमूना आप देख रहे हैं। हम ऐसे किसी भी कृत्य का समर्थन नहीं करते हैं लेकिन जनता का आक्रोश भाजपा को समझाने के लिए काफी है।“

फेसबुक 

अनुसंधान से पता चलता है कि…

कीवर्ड सर्च करने पर हमें यही वीडियो यू.पी तक नामक चैनल पर 8 दिसंबर को प्रसारित किया हुआ मिला। उसके मुताबिक दो भाजपा नेता आपस में भीड़ गए थे। उत्तर प्रदेश के पिनाहट कस्बे के नंदगवा चौराहे पर राजा अरिदमन सिंह और सुग्रीव सिंह चौहान के समर्थक आमने- सामने आए और मामला इतना गंभीर हो गया कि उनके बीच मारपीट और पथराव हो गया।

आर्काइव लिंक

आज तक के खबर के अनुसार, आगरा के बाह विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की टिकट पाने के लिए पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह और पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुग्रीव सिंह चौहान के बीच जंग छिडी हुई थी।

इस दौरान अरिदमन सिंह अपने समर्थकों के साथ पिनाहट कस्बे से जन-जागरण रैली निकाल रहे थे; परंतु नंदगवा चौराहे पर उनके और सुग्रीव सिंह के समर्थकों के बीच झड़प हो गयी। पहले उनमें गाली गलौच हुई और फिर पथराव शुरु हो गया। 

पुलिस को इसकी खबर मिलते ही उन्होंने अपनी फोर्स भेजकर स्थिति को नियंत्रण में किया। पुलिस का कहना है कि वे इस मामले की जाँच कर रहे है।

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। इस वीडियो में दिख रही झड़प दो भाजपा नेताओं के समर्थकों के बीच हो रही है। आम लोगों ने उनकी गाडियों पर हमला नहीं किया था।

Avatar

Title:भाजपा नेताओं के समर्थकों बीच हुई झड़प के वीडियो को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False

Leave a Reply