भा.ज.पा की हरियाणा में हुई ट्रैक्टर रैली को बिहार का बता वायरल किया जा रहा है।

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बिहार में हो रहे विधानसभा चुनाव के चलते इंटरनेट पर कई वीडियो व तस्वीरों को गलत दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। फैक्ट क्रेसेंडो ने पिछले दिनों में कई ऐसी वायरल हो रही गलत व भ्रामक खबरों का अनुसंधान कर उसकी सच्चाई सामने लाई है। इन दिनों ऐसा ही एक वीडियो सोशल मंचों पर काफी वायरल हो रहा है, वीडियो में आप लोगों की भीड़ को प्रदर्शन करते हुए देख सकते है। आपको वीडियो में एक ट्रैक्टर नज़र आयेगा जिस पर भा.ज.पा के झंडे लगे हुए है, वही दूसरी तरफ कई लोग काला झंडा फहराते हुए दिख रहे है। भीड़ में आपको पुलिस, उनकी गाड़ियाँ और कुछ जवान भी दिखायी देंगे। वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक यह किसानों का प्रदर्शन है जो बिहार में हो रहा है। वीडियो में लिखा है कि बिहार में भाजपा खतरे में है क्योंकि उनके विरुद्ध किसानों ने विशाल विरोध प्रदर्शन किया है |

वायरल हो रहे वीडियो में लिखा है, 

किसान गुस्से में बीजेपी मुसकिल में।

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलत है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया है कि वायरल हो रहा वीडियो हरियाणा के अंबाला स्थित नारायणगढ़ में हुई भा.ज.पा की ट्रैक्टर रैली से है। इस वीडियो का बिहार से कोई संबद्ध नहीं है।

जाँच की शुरूआत हमने इनवीड वी वेरीफाई टूल के माध्यम से गूगल रीवर्स इमेज सर्च के ज़रिये की, जिसके परिणाम में हमें फेसबुक का एक अकाउंट मिला जिसपर यही वीडियो पोस्ट किया हुआ है। वीडियो के शार्षक में लिखा है, 

हरियाणा में घिरे भाजपा के लोग, वे खेती के बिल के पक्ष में रैलियां कर रहे थे।“

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally5.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने उपरोक्त जानकारी को ध्यान में रखते हुए कीवर्ड सर्च किया तो हमें हरियाणा में भा.ज.पा द्वारा की गयी ट्रैक्टर रैली की जानकारी दे रहे कई समाचार लेख मिले। उनमें दी गयी जानकारी के मुताबिक १४ अक्तूबर २०२० को हरियाणा में भा.ज.पा नेताओं ने किसानों बिल के समर्थन में ट्रैक्टर रैली की थी। यह रैली हरियाणा के कई क्षेत्रों में की गयी थी। उन समाचार लेखों में यह भी लिखा है कि, भा.ज.पा नेताओं की ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए व्यापारियों व किसानों ने काले झंडे लहराये थे।

आर्काइव लिंक

तदनंतर वायरल हो रहे वीडियो को खोजने के लिए हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया तो हमें वहाँ एक वीडियो मिला जो वायरल हो रहे वीडियो से सदृश्य है। यूट्यूब पर प्रसारित किया हुआ वीडियो अलग कोण से शूट किया हुआ है परंतु उसमें कई ऐसी चीज़े है जो वायरल हो रहे वीडियो से मिलती- जुलती है।

वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “अंबाला के नारायणगढ़ में किसान संगठन ने हाईवे पर रोकी भाजपा की ट्रैक्‍टर रैली,” और वीडियो के नीचे दी गयी जानकारी में लिखा है, 

“अंबाला के नारायणगढ़ में किसान संगठन ने हाईवे पर रोकी भाजपा की ट्रैक्‍टर रैली, किसानों ने दिखाए काले झंडे ,  केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया ने प्रदर्शनकारियों को बताया कांग्रेस के बिचौलिये , नायब सैनी ने भी बताया घटिया राजनीती।“  

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally4.png

आर्काइव लिंक

आप नीचे उपरोक्त वीडियो व वायरल वीडियो में दिख रहे सदृश्य फ्रेम्स को देख सकते हैं।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally.png
C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally1.png
C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally2.png

इसके बाद उपरोक्त वीडियो के साथ दी गयी जानकारी की पुष्टि करने के लिए कीवर्ड सर्च कर समाचार लेख की खोज की। हमें दैनिक भास्कर का एक समाचार लेख मिला जिसमें अंबाला के नारायणगढ़ में हुई भा.ज.पा की ट्रैक्टर रैली के विषय में लिखा हुआ था। 

समाचार लेख में लिखा था कि, 

“कृषि सुधार कानून के समर्थन में भा.ज.पा के नेताओं ने ट्रैक्टर रैली की थी। उस रैली में केंद्रीय मंत्री रतनलाला कटारिया, सांसद नायब सैनी और राजबीर बराड़ा शामिल थे। रैली के दौरान किसानों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 72 पर इस इस रैली का जमकर विरोध किया व तीन घंटों तक उसे एक जगह पर रोक दिया था। इसी दौरान भा.ज.पा के नेता, 72 वर्षीय भरत सिंह को दिल का दौरा आया और अस्पताल ले जाने पर उनकी मौत हो गयी। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कुछ समय बाद अपना विरोध रोक दिया था।“

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\BJP Haryana Rally3.png

आर्काइव लिंक

जाँच के दौरान हमने वायरल हो रहे वीडियो का बारीकी से विश्लेषण किया, हमें वीडियो में सैनी और कटारिया ये दो नाम सुनायी दे रहे थे और जैसे की उपरोक्त समाचार लेख में जानकारी दी गयी है कि रैली में भा.ज.पा नेता नायब सैनी और रतनलाल कटारिया मौजूद थे तो हमें समझ गया कि वायरल हो रहा वीडियो अंबला के नारायणगढ़ का ही है। 

इसके बाद हमने उपरोक्त अनुसंधान की पुष्टि करने के लिए अंबाला के नारायणगढ़ के एस.आई गुरमैल सिंह से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि,

 “वायरल हो रहा वीडियो नारायणगढ़ में १४ अक्तूबर २०२० को हुई ट्रैक्टर रैली का ही है। उस रैली में केंद्रीय मंत्री रतनलाला कटारिया और नेता नायब सैनी भी थे जो कुरूक्षेत्र के सांसद है और वहीं रहते है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि वायरल हो रहे वीडियो का बिहार से सम्बंधित दावा गलत है, वायरल हो रहा वीडियो हरियाणा के अंबाला में स्थित नारायणगढ़ में हुई भा.ज.पा की ट्रैक्टर रैली का है। इस वीडियो से बिहार का कोई संबद्ध नहीं है।

Avatar

Title:भा.ज.पा की हरियाणा में हुई ट्रैक्टर रैली को बिहार का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •