ALTERED VIDEO- “AIUDF” के संस्थापक बदरुद्दीन अजमल के मूल भाषण को एडिट करके एक विवादित विवरण के साथ वायरल किया जा रहा है|

False Political
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

आगामी असम विधान सभा चुनावों के सन्दर्भ में सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप वायरल होती दिख रही है | ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के संस्थापक बदरुद्दीन अजमल की एक ३६ सेकंड की क्लिप सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा की जा रही है, वीडियो में, अजमल को असमिया में कहते हुए सुना जा सकता है, “800 वर्षों तक, मुगल सम्राटों ने भारत पर शासन किया था। इस देश को इस्लामिक गणतंत्र बनाना है | कौन बनायेगा मंत्रालय? हमारा महागठबंधन। कांग्रेस-यूपीए महागठबंधन सरकार बनाएगी, इंशाअल्लाह। और इस सरकार में, लॉक एंड की के प्रतीक के साथ आपकी पार्टी AIUDF भागीदार होगी। पूरे देश में, यहां तक कि एक हिंदू भी नहीं रहेगा | सभी को मुसलमान बनाया जायेगा |”
इस वीडियो के माध्यम से दावा किया जा रहा है कि बदरुद्दीन अजमल ने भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाने का बयान दिया है |

पोस्ट के शीर्षक में लिखा गया है कि

“ये है असम के एक राजनीतिक दल AIUDF का मुखिया अजमल बदरुद्दीन, जिसका लक्ष्य व उद्देश्य स्पष्ट है की असम व भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना | और इसका राजनीतिक सहयोगी काँग्रेस पार्टी है | #काँग्रेस_का_हाथ_देश_विरोधीयो_के_साथ |”

फेसबुक पोस्ट | आर्काइव लिंक 

अनुसन्धान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने पाया कि ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के संस्थापक बदरुद्दीन अजमल के मूल वीडियो के कुछ भागों को काटकर व कुछ वाक्यों को डिलीट कर एक नयी विवादास्पद क्लिप बनायीं गयी है|

जाँच की शुरुवात हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो के लम्बे वर्शन को यूट्यूब पर ढूँढने से की, जिसके परिणाम से हमें वायरल वीडियो का लम्बा वर्शन १७ अप्रैल २०१९ में अपलोड किया हुआ मिला | इस वीडियो के शीर्षक में लिखा गुया है कि “बारपेटा में मौलाना बदरुद्दीन अजमल का भाषण | एम्.पी इलेक्शन २०१९ |” पूरा भाषण २१ मिनट लंबा है, उनके इस मूल २१ मिनट के वीडियो में से ५.५० सेकंड से लेकर ८.१५ सेकंड तक उनके द्वारा कहे गए कथनों को लेकर व उन वाक्यों को एडिट कर ये वायरल विवादास्पद  क्लिप बनाई गई है| 

मूल वीडियो में बदरुद्दीन अजमल कहते है कि

“८०० वर्षों तक, मुगल सम्राटों ने भारत पर [5:50 से 5:58] शासन किया था और उन्हें यह सपना भी नहीं था कि यह राष्ट्र एक इस्लामिक राष्ट्र बन जाएगा [6:02 से 6:05]। अगर वे चाहते तो भारत में एक भी हिंदू नहीं होता। सभी को मुसलामान बनाया जाता था [6:10 से 6:15]। लेकिन क्या उन्होंने ऐसा किया? (भीड़ चीखती है “नहीं”)। उन्होंने भी कोशिश नहीं की। उनके पास हिम्मत नहीं थी। तब अंग्रेजों ने २०० वर्षों तक शासन किया। उन्होंने भारत को ईसाई राज्य बनाने की कोशिश भी नहीं की। क्या उनमें हिम्मत थी? (भीड़ चीखती है “नहीं”)। देश को स्वतंत्रता मिलने के बाद, कांग्रेस ने ७० में से ५५ साल शासन किया। जवाहरलाल नेहरू, शास्त्री, राजीव गांधी, मनमोहन सिंह से लेकर नरसिम्हा राव तक – कांग्रेस के किसी भी नेता ने यह सपना नहीं देखा कि हम भारत को एक हिंदू राष्ट्र बनाएंगे। लेकिन मोदी जी, यह सपना नहीं है। आपका सपना केवल झूठ निकलेगा। आप (भीड़ को संबोधित करते हुए) मोदी जी, भाजपा, आरएसएस, हिमंत बिस्वा और पार्टी को ऐसे जवाब दें और ताला और चाबी दें कि मोदी जी प्रधानमंत्री न बनें। मंत्रालय कौन बनाएगा? हमारा महागठबंधन। कांग्रेस-यूपीए महागठबंधन सरकार बनाएगी, इंशाअल्लाह। और इस सरकार में, आपकी पार्टी AIUDF, ताला और चाबी के प्रतीक के साथ, एक भागीदार होगी [7:56 से 8:12]”

नीचे आप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो और मूल वीडियो के बीच तुलनात्मक विश्लेषण देख सकते हैं  |

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के संस्थापक बदरुद्दीन अजमल के मूल वीडियो को एडिट व आल्टर कर एक वायरल क्लिप बनाई गई है जिसे गलत विवरण के साथ सोशल मंचों पर साझा किया जा रहा|

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१.अमूल आइसक्रीम में सूअर की चर्बी इस्तेमाल होने के दावे फर्जी हैं |

२. राजनाथ सिंह के एक पुराने वीडियो को वर्तमान का नए कृषि कानूनों के विरोध का बता फैलाया जा रहा है |

३. क्या पश्चिम बंगाल में योगी आदित्यनाथ की रैली में भीड़ जुटाने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं ने पैसे बांटे?

Avatar

Title:ALTERED VIDEO- “AIUDF” के संस्थापक बदरुद्दीन अजमल के मूल भाषण को एडिट करके एक विवादित विवरण के साथ वायरल किया जा रहा है|

Fact Check By: Aavya Ray 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •