वाणिज्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने नहीं किया कांग्रेस द्वारा आयोजीत ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का समर्थन।

Missing Context Political

वायरल 2019 की है जब अनुप्रिया पटेल भाजपा से खफा थीं। वायरल वीडियो का भारत जोड़ो यात्रा से कोई संबंध नहीं है।

भारत के केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री और अपना दल (सोनेलाल) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से नाराजगी व्यक्त करते हुए और एक और कार्रवाई करने की बात करते हुए दिखाने वाला एक वीडियो वायरल हो गया है।

इस वीडियो को साझा करते हुए लोगों का दावा है कि अनुप्रिया भाजपा पर निशाना साधती नजर आ रही हैं। सोशल मीडिया दावा किया जा रहा है कि अनुप्रिया पटेल भाजपा से नाता तोड़कर कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के समर्थन में खुलकर सामने आ गई हैं।

वायरल वीडियो में अपुप्रिया पटेल कहती है कि “भारतीय जनता पार्टी को लेकर हमारे सामने कुछ समस्याएं आईं और हमने उनको शीर्ष नेतृत्व के सामने रखा भी। और उन्हें समय भी दिया कि उन समस्याओं का समाधान करें। लेकिन उन्होंने इन समस्याओं का समाधान नहीं किया। इससे यह प्रतीत होता है कि भारतीय जनता पार्टी को अपने सहयोगी दलों की शिकायतों से कोई लेना-देना नहीं है। इसलिए अपना दल अब स्वतंत्र है, अपना रास्ता चुनने के लिए।”

पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि “दिल्ली: भाजपा का गठबंधन टूटा,अपना दल ने किया किनारा केंद्रीय मंत्री भारत सरकार अनुप्रिया पटेल ने भारत जोड़ो यात्रा राहुल गाँधी को दिया समर्थन। 2024 में भाजपा की सरकार नही बनने की आहट हुई तेज पूरा देश प्रधानमंत्री मोदी, योगी आदित्यनाथ दिखावे से हैं परेशान।भाजपा की सहयोगी अब चिंतित है।”

अनुसंधान से पता चलता है कि: 

यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च करने से ये वीडियो ABP लाइव के चैनल पर 21 फरवरी 2019 में अपलोड किया हुआ मिला। इस वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है कि “चुनाव से पहले अनुप्रिया पटेल भी नाराज, कहा- बीजेपी को सहयोगियों से कोई लेना-देना नहीं।” 

वीडियो के विवरण में लिखा गया है कि “लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है। अपना दल की नेता और मोदी सरकार में मंत्री अनुप्रिया पटेल ने बग़ावती तेवर दिखाए हैं। अनुप्रिया ने कहा है कि बीजेपी को सहयोगियों से कोई लेना देना नहीं है।”

इससे हम स्पष्ट हो सकते है कि वायरल वीडियो का कांग्रेस द्वारा आयोजीत भारत जोड़ो यात्रा से कोई संबंध नहीं है। वायरल वीडियो में अनुप्रिया पटेल कांग्रेस या भारत जोड़ो यात्रा को समर्थन नहीं दे रहे है।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ को लेकर क्या कहती है अनुप्रिया पटेल?
हमें जागरण द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली जिसके अनुसार पटेल ने कहा था कि गांधी की रैली से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा और कहा कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के नेतृत्व में सरकार बनाएंगे।

रिपोर्ट के अनुसार, एडी (एस) ने कथित तौर पर अपने गठबंधन सहयोगियों की देखभाल नहीं करने के लिए भाजपा के साथ “नाराजगी” व्यक्त की थी। पटेल ने उसी पर गठबंधन छोड़ने की धमकी दी थी और कहा था कि वे 2019 के लोकसभा चुनावों में ये अकेली ही लड़ेगी। बाद में उन्होंने गठबंधन में बने रहने का फैसला किया और 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश में दो सीटें हासिल कीं।

निष्कर्ष:

तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने वायरल वीडियो को संदर्भ से बहार फैलाया जा रहा है। अपना दल की अनुप्रिया पटेल के एक पुराने वीडियो को चल रही ‘भारत जोड़ी यात्रा’ से गलत तरीके से जोड़कर शेयर किया गया। वायरल वीडियो साल 2019 का है जब अनुप्रिया पटेल भाजपा से खफा थीं। इस वीडियो का भारत जोड़ो यात्रा से कोई संबंध नहीं है।

Avatar

Title:वाणिज्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने नहीं किया कांग्रेस द्वारा आयोजीत ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का समर्थन।

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: Missing Context