क्या यह अमेरिका में बाबा साहेब आंबेडकर के लाइब्रेरी की तस्वीर है?

False International
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

८ जून २०१९ को जंजीर काम्बले नामक एक फेसबुक यूजर ने एक तस्वीर साझा की | तस्वीर के शीर्षक में लिखा गया है कि “अमेरिका का धन्यवाद् बाबा साहेब की इतनी विशाल लाइब्रेरी बनाने के लिए | बाबा साहेब की लाइब्रेरी का बाहरी दृश्य |” तस्वीर में हम एक बहुत बड़ी बिल्डिंग देख सकते है | बिल्डिंग के प्रवेश द्वार के ऊपर एक बोर्ड लगा हुआ जिसपर “जय भीम” लिखा हुआ है | तस्वीर के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि यह बिल्डिंग अमेरिका में स्थित है और इसे बाबा साहेब आंबेडकर को अभिवादन देते हुए बनाया गया है | यह तस्वीर सोशल मीडिया पर काफ़ी चर्चा में है | फैक्ट चेक किये जाने तक यह तस्वीर ने लगभग १०० प्रतिक्रियाएं प्राप्त कर लिया थी |

क्या वास्तव में अमेरिका में बाबा साहेब आंबेडकर के याद में बनाया गया है यह आलीशान लाइब्रेरी? हमने इस तस्वीर की सच्चाई जानने की कोशिश की |

संशोधन से पता चलता है कि..

जांच की शुरुआत हमने तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज सर्च करने से की | इस संशोधन के परिणाम से हमें बिल्डिंग डिजाईन कंस्ट्रक्शन नामक एक मैगज़ीन का वेबसाइट मिला | वेबसाइट पर इस तस्वीर का उल्लेख करते हुए लिखा गया है कि “बेल्जियम के ब्रुसेल्स में एक इंडस्ट्रियल पार्क से इको फ्रेंडली प्रतिवेश (पर्यावरण के अनुकूल प्रतिवेश) में का बदलाव” | वेबसाइट पर २४ जनवरी २०१७ को यह ख़बर प्रकाशित की गयी है | इस प्रकाशन के अनुसार एक पूर्व इंडस्ट्रियल पार्क जिसका निर्माण १९०७ में किया गया था, जिसे मूल रूप से शिपिंग और सीमा शुल्क परिसर के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा  था अब एक स्थायी इको-प्रतिवेश में परिवर्तन से गुजरने के लिए तैयार है | कहा गया है कि इस बिल्डिंग को विन्सेंट कैहलेबोह् आर्किटेक्चर नामक पैरिस में स्थित एक आर्किटेक्चर कंपनी बनाने वाली है |

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमें डिजाईन बूम के वेबसाइट में दी गयी जानकारी के अनुसार पता चला कि यह विन्सेंट कैहलेबोह् आर्किटेक्चर द्वारा प्रस्तावित योजना है | ब्रुसेल्स में स्थित एक पुराने इंडस्ट्रियल क्षेत्र को मिश्रित-उपयोग वाले इको-परिवेश में बदलने की योजना है |

आर्काइव लिंक

प्लगइन मैगज़ीन के वेबसाइट के अनुसार पैरिस में स्थित स्टूडियो विंसेंट कैहलेबोह् आर्किटेक्चर एक हरे और स्वच्छ वातावरण के दृष्टि के साथ आये हैं | उन्होंने मिश्रित उपयोग करने वाले इको-परिवेश ‘टूर एंड टैक्सी’ की योजना का प्रस्ताव दिया है | इससे हमें यह पता चला कि यह बिल्डिंग ब्रुसेल्स में “टूर एंड टैक्सी” नामक किसी जगह में स्थित है |

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने विन्सेंट कैहलेबोह् आर्किटेक्चर के वेबसाइट पर इस बिल्डिंग के बारें में जानकारी ढूंढा | वेबसाइट के अनुसार ब्रुसेल्स के “टूर एंड टैक्सी” नामक क्षेत्र में इस बिल्डिंग को बनाने की योजना २०१६ में शुरू की गयी था | वेबसाइट में इस बिल्डिंग के निर्माण होने के वर्तमान स्थिति के सेक्शन में लिखा गया है कि यह कार्य प्रगति पर है | इसका मतलब यह है कि इस बिल्डिंग का निर्माण अब तक पूरा नहीं हुआ है और काम अभी तक चालू है | नीचे दिखाए गए तस्वीर में W.I.P का पूरा अर्थ वर्क इन प्रोग्रेस है जिसका मतलब “कार्य प्रगति पर है” है | वेबसाइट में प्रदर्शित चित्र मूल रूप से एक तीन आयामी (3D) संरचना है, जो उस योजना का चित्रण करती है जिसका निर्माण किया जाने वाला  है |

आर्काइव लिंक

साझा की गयी तस्वीर हम सिटी ऑफ़ द फ्यूचर के वेबसाइट पर भी देख सकते है | इस तस्वीर में हम प्रवेश द्वार के ऊपर “जय भीम” का कोई बोर्ड नहीं दिख रहा है | इसका मतलब यह है कि “जय भीम” का साइन बोर्ड फोटोशोप के माध्यम से जोड़ा गया है |

आर्काइव लिंक

निष्कर्ष: तथ्यों के जांच के पश्चात हमने उपरोक्त पोस्ट को गलत पाया है | तस्वीर के दावें अनुसार यह बिल्डिंग अमेरिका में स्थित नहीं है | यह बिल्डिंग बेल्जियम के ब्रुसेल्स में निर्माणित होने वाला है | यह बिल्डिंग अब तक निर्माणित हुआ नहीं है | साझा किया गया तस्वीर एक तीन आयामी (3D) चित्र है | यह बिल्डिंग अब तक निर्माणित नहीं हुआ है | इस बिल्डिंग के साथ बाबा साहेब आंबेडकर के नाम पर लाइब्रेरी का कोई संबंध नहीं है |

Avatar

Title:क्या यह अमेरिका में बाबा साहेब आंबेडकर के लाइब्रेरी की तस्वीर है?

Fact Check By: Drabanti Ghosh 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •