२०१६ के चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के नतीजों को वर्तमान में भाजपा की जीत का बता वायरल किया जा रहा है।

False Government
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

वर्तमान में दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलनों से जोड़कर कई गलत खबरें सोशल मंचों पर आये दिन वायरल होती चली आ रही है। फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी ऐसी कई भ्रामक खबरों का अनुसंधान कर उनकी सत्यता को प्रामाणित किया है । इन दिनों ऐसी ही एक खबर इंटरनेट पर काफी तेज़ी से साझा की जा रही है, उस खबर के `मुताबिक वर्तमान किसान आंदोलनों के बीच चंडीगढ़ नगर निगम निकाई चुनावों में भा.ज.पा ने सर्वाधिक सीटें जीती है।

वायरल हो रही तस्वीर व उसके शीर्षक में लिखा है, 

 नतीजे साफ दर्शा रहे हैं, जनता किस दिशा में जा रही है

किसान आंदोलन के बीच पंजाब हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के नतीजे: बीजेपी- 20. कांग्रेस- 4, अकाली दल- 1, अन्य-1, यह लोकतंत्र है, अच्छे अच्छे को जमीन की हकीकत समझा देता है। 

C:\Users\Fact3\Desktop\FC\Chandigarh Municipal Corporation results.jpg

फेसबुक | आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा दावा गलत है। इस वर्ष चंडीगढ़ में नगर निगम के चुनाव नहीं हुए है, केवल मेयर के चुनाव हुए है। वायरल हो रहे नतीजे वर्ष २०१६ के हैं।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे दावे को गूगल पर कीवर्ड सर्च कर किया, परिणाम में हमें कई समाचार लेख मिले जो वर्तमान में हुए मेयर के चुनाव के संदर्भ में जानकारी दे रहे थे, परन्तु किसी  भी समाचार माध्यम द्वारा वर्तमान नगर निगम इकाई चुनावों के बारे में जानकारी नहीं दी गई है। हमें हिंदुस्तान टाइम्स द्वारा की गई एक रिपोर्ट मिली ये रिपोर्ट २१ दिसंबर २०१६ को प्रकाशित की गई थी, इस समाचार लेख में चंडीगढ़ शहर के पाँचवें नगर निगम चुनावों के रिजल्ट दिए गयें हैं  लेख के मुताबिक २०१६ में हुए नगर निगम के चुनावों में भा.ज.पा ने सबसे ज़्यादा सीटे यानि की 20 सीटे जीती, कांग्रेस ने 4 सीटे, अकाली दल व अपक्ष ने 1-1 सीट जीती हैं।

C:\Users\Fact3\Desktop\FC\Chandigarh Municipal Corporation results1.jpg

आर्काइव लिंक

इसके पश्चात हमने चंडीगढ़ नगर निगम के आधिकारिक वैबसाइट को खंगाला, हमें वहा २०१६ में हुए नगर निगम के चुनाव के नतीजे मिले। वे नतीजे वायरल हो रहे नतीजों से बिलकुल मिलते-जुलते है।

C:\Users\Fact3\Desktop\FC\Chandigarh Municipal Corporation results2.jpg

आर्काइव लिंक

आपको बता दें कि जाँच के दौरान हमें नगर निगम के वैबसाइट पर २०१६ तक के ही नतीजे देखने को मिले, २०२१ के नतीजे हमें वहाँ नहीं मिले।

इसके पश्चात हमने उपरोक्त दावों पर स्पष्टीकरण हेतु चंडीगढ़ के मेयर रवी कांत शर्मा से संपर्क किया- उन्होंने वायरल हो रहे उपरोक्त दावे को गलत बताते हुए कहा कि, वायरल हो रहा दावा सरासर गलत है। यह नतीजा २०१६ में हुए नगर निगम के चुनाव के हैं। इस वर्ष अभी तक नगर निगम के चुनाव नहीं हुए है, इस वर्ष के नगर निगम के चुनाव दिसंबर में होने वाले है।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया है कि उपरोक्त दावा गलत है। इस वर्ष चंडीगढ़ में नगर निगम के चुनाव नहीं हुए है, केवल मेयर के चुनाव हुए है। २०१६ के नगर निगम चुनाव के नतीजों को वर्तमान का बता वायरल किया जा रहा है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

.शिवसेना के पोस्टर का रंग बदलकर उसे गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

२.क्या पंजाब में कृषि कानूनों के विरोध के साथ-साथ हिंदी भाषा का ​भी विरोध हो रहा है? जानिये सच

३. झारखण्ड में लड़की पर हमला करने के एक पुराने वीडियो को लव जिहाद के नाम से फैलाया जा रहा है |

Avatar

Title:२०१६ के चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के नतीजों को वर्तमान में भाजपा की जीत का बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply