पत्रकार नविन कुमार के वीडियो को आजतक के दिवंगत पत्रकार रोहित सरदाना का आखिरी वीडियो बता वायरल किया जा रहा है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हालही में आज तक के पत्रकार रोहित सरदाना का कोविड के उपचार के दौरान दिल का दौरा पड़ने से निधन हुआ है। उनके निधन के उपरान्त सोशल मंचों पर रोहित सरदाना से संदर्भित एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें आपको एक शख्स मास्क पहने हुए व हाथ में पट्टी लगाये देश में चल रहे कोविड महामारी से बिगड़ती हालत के बारे में बात करते हुये सुनाई देता है।

इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहे शख्स आजतक के दिवंगत वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना है व ये उनका आखरी वीडियो है।

वायरल हो रहे इस वीडियो के शीर्षक में लिखा है, 

रोहित सरदाना के अंतिम बोल।” 

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

फैक्ट क्रेसेंडो ने जाँच के दौरान पाया कि वायरल हो रहा दावा गलत है। वीडियो में दिख रहे व्यक्ति आर्टिकल 19 इंडिया के पत्रकार नविन कुमार हैं।

जाँच की शुरुवात हमने वायरल हो रहे वीडियो को गौर से देखकर की, परिणाम में हमें वीडियो में ऊपर की ओर दाहिनी तरफ दो बोल लिखा हुआ दिखा। इसके बाद हमने यूट्यूब पर कीवर्ड सर्च किया तो हमें दो बोल नामक एक आधिकारिक यूट्यूब चैनल मिला, जिसका चिन्ह वायरल हो रहे वीडियो के चिन्ह से मिलता-जुलता दिखा। उस यूट्यूब चैनल को खंगालने के बाद हमें उस पर वायरल हो रहा यही वीडियो इस वर्ष 26 अप्रैल को प्रसारित किया हुआ मिला। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “मौत के मुंह से बाहर आये पत्रकार नविन कुमार ने रोते रोते बयान किया देश का दर्द।”

आर्काइव लिंक

इसके बाद हमने उपरोक्त जानकारी को ध्यान में रखते हुए गूगल पर कीवर्ड सर्च किया को हमें पत्रकार नविन कुमार का ट्वीटर हैंडल मिला जिस पर आर्टिकल 19 इंडिया का फेसबुक पेज का लिंक दिया हुआ है। 

हमने उस फेसबुक पेज को खंगाला तो हमें वायरल हो रहे वीडियो का 34.54 मिनट का मूल वीडियो जो की एक लाइव वीडियो है और वह इस वर्ष 26 अप्रैल को प्रसारित किया हुआ मिला। वीडियो के शीर्षक में लिखा है, “भारत की स्वास्थ्य स्थिति और अस्पतालों के वी.आई.पी कल्चर पर डॉ. मनिष जांगडा आर.एम.एल.एच संस्थापक और एफ.ए.आई.एम.ए डॉक्टर्स एसोसिएशन के डॉ. मनिष जांगडा और एल.एच.एम.सी के डॉ सोनू कुमार भारद्वाज के साथ बातचीत।“

फेसबुक | आर्काइव लिंक

तदनंतर फैक्ट क्रेसेंडो ने पत्रकार नविन कुमार से संपर्क किया तो उनसे बात करने पर हमें ज्ञात हुआ कि वे वर्तमान में आई.सी.यू में भर्ती है।

इसके पश्चात हमने गूगल पर और अधिक कीवर्ड सर्च करने पर हमें इंडिया टुडे द्वारा इस वर्ष 30 अप्रैल को प्रकाशित किया हुआ लेख मिला जिसमें लिखा है कि रोहित सरदाना नोएडा के मेट्रो मल्टिस्पेशियालिटी अस्पताल में भर्ती थे व वही पर उनकी दिल का दौरा आने से निधन हो गया।

आर्काइव लिंक

आखिर में फैक्ट क्रेसेंडो ने आज तक में संपर्क किया और उन्होंने हमें बताया कि, वायरल हो रहा दावा सरासर गलत है। वीडियो में दिख रहे शख्स रोहित सरदाना नहीं है।

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने पाया कि उपरोक्त दावा गलत है।वीडियो में दिख रहे शख्स आज तक के दिवंगत पत्रकार रोहित सरदाना नहीं है बल्की आर्टिकल 19 इंडिया के पत्रकार नवीन कुमार है।

फैक्ट क्रेसेंडो द्वारा किये गये अन्य फैक्ट चेक पढ़ने के लिए क्लिक करें :

१. राजस्थान सरकार के नाम से अंतिम संस्कार को लेकर जारी सर्कुलर फर्जी है।

२. CLIPPED VIDEO: तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार कौशानी मुख़र्जी के वीडियो को सन्दर्भ से बाहर फैलाया जा रहा है|

३. गुजरात के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पर प्रतिबंध वाली ख़बरें गलत व भ्रामक है|

Avatar

Title:पत्रकार नविन कुमार के वीडियो को आजतक के दिवंगत पत्रकार रोहित सरदाना का आखिरी वीडियो बता वायरल किया जा रहा है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply