FactCheck:- वीडियो का लव- जिहाद से कोई सम्बन्ध नहीं है।

False Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोशल मंचो पर अकसर लव-जिहाद को लेकर गलत दावे किए जाते रहें है। कई तस्वीरें व वीडियो लव-जिहाद से जोड़कर फैलाई जाती रहीं है। फैक्ट क्रेसेंडो ने पूर्व में भी कई ऐसी गलत व भ्रामक वायरल तस्वीरें व वीडियो की सच्चाई आप तक पहुँचाई है। वर्तमान में सोशल मंचों पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। उस वीडियो में आपको एक शख्स एक लड़की से कुछ कहते हुए नज़र आ रहा है, कुछ समय बाद वह शख्स अपनी सर की पगड़ी निकालकर नीचे झुकता दिखायी देगा। वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है उसके मुताबिक वीडियो में दिख रही घटना राजस्थान के पाली शहर की है। दावे में लिखा है कि वीडियो में दिख रहा शख्स उस लड़की का बाप है जो अपनी लड़की से दूसरे समुदाय के लड़के से शादी न करने के लिए मना रहा है, परंतु वह लड़की नहीं मानी और उसने लव-जिहाद के तहत उस लड़के से शादी करली।

वीडियो के साथ शीर्षक में लिखा है, पिता ने बेटी के पैरों में अपनी पगड़ी रख दी फिर भी वह नहीं मानी और जिहादी मुस्लिम लड़के से लव मैरिज कर ली बेचारे बाप मां परिवार अगर इनका समाज इनको साथ देता और इनके साथ खड़ा होता तो कुछ और होता,इस वीडियो को ध्यान से मनन करें।
माँ बाप और हर समाज को शर्मसार करने वाली यह विडियो है पैसा कमाने के साथ साथ अपने बच्चो का भी ध्यान रखे इस लडकी ने जिहादी मुस्लिम युवक के साथ शादी कर ली है विडियो पाली राजस्थान का बताया जा रहा है।“

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Rajasthan Love Jihad3.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

आर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही लड़की देवासी समाज की है व उसने अपने ही समाज के लड़के से विवाह किया है और अब वह उस लड़के के साथ पुणे में रह रही है। इस मामले का लव-जिहाद से कोई संबद्ध नहीं है। देवासी समाज के लोगों ने ही इस मामले का शांतिप्रिय हल निकाल लिया है। 

सबसे पहले हमने उपरोक्त दावे की जाँच कीवर्ड सर्च के माध्यम से की तो इंटरनेट पर ऐसा कोई समाचार लेख नहीं मिला जो इस दावे कि पुष्टि कर रहा हो। इसके पश्चात हमने इन्विड वी वेरीफाई टूल के माध्यम से रीवर्स इमेज सर्च कर इस वीडियो की जाँच करने की कोशिश की तो हमें रॉयल रायका नामक एक फेसबुक पेज मिला जहाँ उपभोक्ता वीडियो के साथ वायरल हो रहे दावे को गलत बता रहा था। 

उस फेसबुक पेज पर सबसे पहले हमने एक लाइव वीडियो देखा जहाँ पर उसने सोशल मंचो पर वायरल हो रहे वीडियो की बात की। उसमें उसने बताया कि वीडियो में दिख रहे लड़की व लड़का दोनों एक ही देवाशी समाज के है। उसने यह भी बाताया कि इस मामले में देवाशी समाज के नियमों के आधार पर न्याय भी हो चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि इस मामले का लव-जिहाद से कोई संबन्ध नहीं है। इस लाइव वीडियो में फेसबुक उपभोक्ता ने लड़के, लड़की के पिता और उनके गाँव का नाम भी बताया है। इस लाइव वीडियो में आपको वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही लड़की के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी।

आपको बता दें कि लाइव वीडियो देखने पर आपको पता चलेगा कि जो शख्स वीडियो में बात कर रहा है उसका नाम नारायण.पी.देवासी है।

फेसबुक | आर्काइव लिंक

फेसबुक उपभोक्ता ने लड़की व उसके पिता की तस्वीर पोस्ट कर शीर्षक में साफ शब्दों नें लिखा है कि वीडियो के साथ जो दावा वायरल हो रहा है वह सरासर गलत है। इस शीर्षक में उसने वीडियो में दिख रहे लड़के का नाम, लड़की के पिता का नाम व उस लड़की के बारे में अन्य जानकारी दी है। 

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Rajasthan Love Jihad4.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

इसके पश्चात फेसबुक उपभोक्ता ने दैनिक भास्कर के समाचार लेख की तस्वीर पोस्ट की है और उस लेख में भी सोशल मंचो पर वायरल हो रहे दावे को झूठा बताया है।

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Rajasthan Love Jihad6.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

C:\Users\Lenovo\Desktop\FC\Rajasthan Love Jihad7.png

फेसबुक | आर्काइव लिंक

तदनंतर हमने रॉयल रायका फेसबुक पेज चला रहे उपभोक्ता सुरेश देवासी से संपर्क साधा तो उन्होंने हमें इस मामले की पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा, 

“वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही लड़की देवासी समाज की है। वह अपने भाइयों के साथ पूणे में रहती थी और वही उसे देवासी समाज के ही एक लड़के के साथ प्रेम हो गया जिसके चलते उसने उस लड़के से विवाह कर लिया। उसके बाद वो माता-पिता के पास पाली (राजस्थान) आई। वीडियो में दिख रहा दृष्य पुलिस थाने का है जहाँ पर लड़की के माता-पिता उसे उस लड़के को छोड़कर उनके पास ही रहने के लिए अपनी पगड़ी निकाल कर आग्रह कर रहे थे। उसी दौरान किसी शख्स ने वीडियो निकालकर उसे वायरल कर दिया और धीरे- धीरे वीडियो के साथ लव-जिहाद को जोड़ दिया गया। इसके बाद देवासी समाज के मुखिया व अन्य वरिष्ठ लोगों ने उस मामले को सुलझा दिया था और अब वह लड़की अपने पति के साथ पुणे में रह रही है। यह घटना आज से कुछ एक महीने पहले की है।“

आपको बता दें कि हमें सुरेश देवासी से यह जानकारी मिली है कि रॉयल रायका देवासी समाज का फेसबुक पेज है जिसमें सारे देवासी लोग जुड़े हुए है। सुरेश देवासी गुजरात के अहमदाबाद में एक कंपनी में कार्यरत है। इस पेज को उन्होंने ही शुरू किया है व इस पेज पर उस पेज से जुड़े देवासी लोग पोस्ट करते है।

इसके बाद उपरोक्त जानकारी की पुष्टि करने के लिए हमने पाली के एस.पी  राहुल कटके से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि, 

“वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही लड़की देवासी समाज की है व उसने अपने ही समाज के लड़के से विवाह किया है और अब वह उस लड़के के साथ पुणे में रहती है। इस मामले का लव- जिहाद से कोई संबन्ध नहीं है। देवासी समाज के लोगों ने ही इस मामले का शांतिप्रिय हल निकाल लिया है।“

निष्कर्ष: तथ्यों की जाँच के पश्चात हमने उपरोक्त दावे को गलत व भ्रामक पाया है। वीडियो में दिख रही लड़की ने अपने ही समाज के व्यक्ति से प्रेम विवाह किया है। इस मामले का लव-जिहाद से कोई संबन्ध नहीं है।

Avatar

Title: वीडियो का लव- जिहाद से कोई सम्बन्ध नहीं है।

Fact Check By: Rashi Jain 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply