हेलीकॉप्टर पर लटके शख्स का वायरल वीडियो पीएम की रैली का नहीं है, दावा गलत है…

False Political

केन्या में हुई 8 साल पहले की घटना का वीडियो पीएम मोदी की अभी चल रही रैली से जोड़ कर वायरल।

सोशल मीडिया पर हैरान कर देने वाला वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें एक शख्स हेलीकॉप्टर पर लटक कर उड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। यूज़र ने वीडियो के साथ दावा किया है कि पीएम मोदी की रैली में एक आदमी उनके हेलिकॉप्टर को पकड़ कर हवा में लटक गया। वायरल वीडियो को इस कैप्शन के साथ देख सकते हैं…

जब मोदी एक सभा करने पहुचे थे जब वापस जाने लगे तो एक अन्ध भक्त खुद रोक नही पाया।

ट्विटर लिंकआर्काइव लिंक

अनुसंधान से पता चलता है कि…

हमने पोस्ट की पड़ताल के लिए वीडियो से स्क्रीनशॉट लेकर उसे गूगल रिवर्स इमेज से ढूंढना शुरू किया। परिणाम में हमें न्यूयॉर्क पोस्ट की वेबसाइट पर वायरल वीडियो 16 मई 2016 में पोस्ट किया हुआ मिला। इसके साथ यह जानकारी दी गई है कि केन्या में एक नाटकीय दृश्य कैमरे में कैद हुआ। जब एक व्यक्ति ने उड़ान भरते समय हेलीकॉप्टर की लैंडिंग स्किड्स को पकड़ लिया। इस दौरान पायलट सुरक्षित ऊंचाई पर रहते हुए भी उस व्यक्ति को झटकने की कोशिश करता है, लेकिन कोई फायदा नहीं होता। 

आर्काइव 

इससे हमें इतना तो स्पष्ट हुआ कि वीडियो पीएम मोदी की रैली से सम्बंधित नहीं बल्कि केन्या का है।

इस घटना को लेकर केन्या के मीडिया आउटलेट पर भी खबर प्रकाशित है। 13 मई 2016 की रिपोर्ट के अनुसार एक अज्ञात शख्स हेलीकॉप्टर से लटक गया था। जिस हेलीकॉप्टर से वो शख्स लटका उसमें एक शव को ले जाया जा रहा था। बंगोमा के पोस्टा मैदान से मारे गए जैकब जुमा का शव लेकर उड़ान भरी थी। जब पॉयलट ने हेलीकॉप्टर को लेकर उड़न भरी तो उसने लोगों के चिल्लाने की आवाज़ नहीं सुनीं और वह बेचारे व्यक्ति को हेलिकॉप्टर की टेबुलर लैंडिंग स्किड्स से लटकाए हुए ही उड़ गया। आगे की रिपोर्ट में बताया गया है कि हेलीकॉप्टर ने जुमा के पार्थिव शरीर को जनता के दर्शन के लिए पहले से निर्धारित कंदुई स्टेडियम के बजाय बुंगोमा के पोस्टा मैदान में पहुंचाया। जिसके बाद जुमा को बुमुला निर्वाचन क्षेत्र के खासोको क्षेत्र के मुंगोर गांव में पारिवारिक घर में दफनाने की खबर  है। 

आर्काइव

हमने आगे हमें  जैकब जुमा के बारे में पड़ताल की जिनकी गाड़ी पर गोलियां चला कर उनकी हत्या कर दी गई थी। इंडिपेंडेंट में लिखी खबर के अनुसार केन्याई व्यवसाई जेकब सरकार के आलोचक थे।इसलिए उनकी मौत के बाद विपक्षी नेताओं ने वहां की पुलिस पर उनकी हत्या करवाने का आरोप लगाया था, जिससे काफी विवाद हुआ था। उन्हीं जैकब जुमा के शव को ले जाते हेलीकॉप्टर पर एक अज्ञात शख्स लटक गया था। जिसके हेलिकॉप्टर से नीचे गिरने पर उसके हाथ और सिर पर गहरी चोटें आईं, और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

आर्काइव

tori.ng नाम की वेबसाइट पर रिपोर्ट के मुताबिक केन्या में सलेह वंजाला नाम का ये शख्स एक हेलिकॉप्टर पकड़कर उसके साथ हवा में उड़ गया था। जब ये घटना केन्या के बंगोमा प्रांत में एक शोक समारोह के दौरान हुई थी।

आर्काइव

हम NTV Kenya (आर्काइव) और Ghafla Kenya (आर्काइव) नाम के केन्याई चैनल के आधिकारिक फेसबुक चैनल पर यहीं वीडियो 2016 में पोस्ट किया हुआ देख सकते हैं।

इसलिए ये साफ होता है कि केन्या में साल 2016 में हुई एक घटना के वीडियो को अभी के लोकसभा चुनाव के बीच पीएम मोदी की रैली का बता कर भ्रामक दावा किया गया है। 

निष्कर्ष 

तथ्यों के जांच के पश्चात हमने वायरल वीडियो को गलत पाया है, जो असल में केन्या में एक समारोह के दौरान 2016 की घटना है। इसका पीएम मोदी की रैली से कोई मतलब नहीं है।

Avatar

Title: हेलीकॉप्टर पर लटके शख्स का वायरल वीडियो पीएम की रैली का नहीं है, दावा गलत है…

Fact Check By: Priyanka Sinha 

Result: False

Leave a Reply