क्या भारतीय पुलिस देश की बेटियों को बेरहमी से मार रहें हैं ? जानिये सच |

False National Political Social
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

२५ जून २०१९ को फेसबुक पर ‘Jagat Express’ नामक एक पेज पर एक पोस्ट साझा किया गया है | पोस्ट मे कुछ पुलिसकर्मियों के सामने खड़ी एक लहुलुहान महिला की तस्वीर है | पोस्ट के विवरण में लिखा है – मोदी योगी जी बेटी बचाव का नारा यही है जो बेटियों पर अत्याचार कर रहे पुलिस वाले इनको आप क्या कहे गे | जो बेटियों को इतना बेरहमी से मार रहे हैं | मोदी योगी हाय हाय| इस पोस्ट द्वारा यह दावा किया जा रहा है कि ‘भारतीय पुलिस देश की बेटियों को बेरहमी से मार रहें हैं |’ क्या सच में ऐसा है ? आइये जानते है इस पोस्ट के दावे की सच्चाई |

सोशल मीडिया पर प्रचलित कथन:

FacebookPost | ArchivedLink

संशोधन से पता चलता है कि…

हमने सबसे पहले पोस्ट मे दी गयी तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज सर्च में ढूंढा | हमें मिले परिणाम को आप नीचे देख सकतें है |

इस संशोधन मे हमें Independent.co.uk और Trueactivist.com द्वारा प्रसारित  ख़बरें मिली | इस ख़बर के मुताबिक मणिपुर में एक औरत को यौन उत्पीड़न का विरोध करने पर दो आदमी ने बेरहमी से मारा | यह घटना २२ दिसम्बर २०१६ की है | इस घटना के तीन आरोपियों में से अरुण यादव नामक एक आदमी को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया था और बाकी दो को गिरफ़्तार करने के लिए पुलिस ने खोजबीन चालू रखी थी | Trueactivist.com ने इस घटना का विडियो भी अपने ख़बर मे दिया है, जिसे आप नीचे देख सकतें है | 

Independent.co.uk ने YahooNews द्वारा दी गयी ख़बर का लिंक भी अपने ख़बर में दिया है | YahooNews में भी हुई घटना के बारे में ANI द्वारा प्रकाशित ख़बर को साझा किया है |

पूरी ख़बरों को पढने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

२३ दिसम्बर २०१६ : IndependentPost | ArchivedLink

२२ दिसम्बर २०१६ : YahooNewsPost | ArchivedLink

२९ जनवरी २०१७ : TrueactivistPost | ArchivedLink

इस संशोधन से हमें साफ़ पता चलता है की उपरोक्त चित्र मे दर्शायी गयी ज़ख्मी महिला को पुलिस ने नहीं बल्कि दुसरे तीन व्यक्तियों ने यौन उत्पीड़न का विरोध करने पर बेरहमी से मारा | उपरोक्त पोस्ट मे दी गयी तस्वीर को गलत विवरण के साथ भ्रम पैदा करने के लिए साझा किया जा रहा है |

जांच का परिणाम : इस संशोधन से हम इस निष्कर्ष पर आते हैं कि उपरोक्त पोस्ट मे किया गया दावा ‘भारतीय पुलिस देश की बेटियों को बेरहमी से मार रहें हैं |’ ग़लत है | उपरोक्त पोस्ट में साझा तस्वीर मे दर्शाई गयी महिला को तीन अन्य व्यक्तियों ने मारा है, पुलिस ने नहीं |

Avatar

Title:क्या भारतीय पुलिस देश की बेटियों को बेरहमी से मार रहें हैं ? जानिये सच |

Fact Check By: Nita Rao 

Result: False


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •